बेटे-बेटी के अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलने के लिए हर सुविधा दूँगा:मुख्यमंत्री श्री चौहान

खूब पढ़ो, आगे बड़ो, मामा आपके साथ है मुख्यमंत्री श्री चौहान भैरूंदा में प्रेम सुंदर स्मृति कबड्डी टूर्नामेंट-2023 में शामिल हुए

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बेटा-बेटियों के जीवन में हमेशा खुशियाँ और चेहरे पर मुस्कान रहे। क्षेत्र के बेटा-बेटी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जाकर खेलें, इसके लिए मैं हर सुविधा दूँगा। पूरा माइक्रो प्लान तैयार किया जाएगा, जिससे हर विधा में हमारे क्षेत्र के बच्चे हर खेल में आगे बढ़े। खेल ही जीवन का अभिन्न अंग है। उन्होंने कहा कि मैं अपने बेटे-बेटियों के सपनों को पूरा करुँगा। खूब पढ़ो, आगे बढ़ो, मामा आपके साथ हैं। बेटा-बेटियों के लिए तीन चीजें आवश्यक है खेल, शिक्षा और रोजगार। युवाओं के आनंद और प्रसन्नता के लिए खेल जरूरी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान भैरूंदा में प्रेम सुंदर स्मृति कबड्डी टूर्नामेंट-2023 के समापन पर खिलाड़ियों, युवाओं और गणमान्य नागरिकों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने सपरिवार कबड्डी टूर्नामेंट का आनंद लिया और खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया। कबड्डी महाकुंभ में विधानसभा क्षेत्र की 226 टीमों ने भाग लिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रथम, द्वितीय पुरस्कार के अलावा सभी प्रतिभागी टीमों को पहले दिये जाने वाले 5000 रूपए के पुरस्कार को बढ़ाकर अब 11000 रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि खेल के साथ-साथ बेहतर शिक्षा भी जरूरी है। इसलिए सीएम राइस स्कूल खोले गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कक्षा 12वीं में 70 प्रतिशत लाने वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहन स्वरूप 25 हजार रूपए दिए जाएंगे। जिन बच्चों ने हायर सेकेंडरी परीक्षा में अपने-अपने स्कूलों में सबसे ज्यादा अंक हासिल किए हैं, उन्हें स्कूटी दी जाएगी। पढ़ाई के लिए अपने गाँव से दूसरे गाँव जाने वाले पाँचवीं कक्षा उत्तीर्ण कर छठवीं के विद्यार्थियों एवं आठवीं पास कर 9वीं में आए विद्यार्थियों के खाते में 4500 रूपए की राशि डाली जाएगी। साथ ही 12वीं में 60 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाली बेटियों को प्रोत्साहन स्वरूप 5000 रूपए अलग से प्रदान किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मेडिकल तथा इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों को नि:शुल्क कोचिंग दिलायी जाएगी। साथ ही बेटा-बेटियों को उच्च शिक्षा में कोई समस्या नहीं आए, इस उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों तथा उच्च शिक्षण संस्थाओं में एडमिशन होने पर पूरी फीस भरी जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोजगार के लिए एक लाख से ज्यादा सरकारी भर्तियाँ 15 अगस्त तक पूरी हो जाएंगी। इसके बाद 50 हजार भर्तियाँ फिर से निकाली जाएंगी। बेटा-बेटी प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तरीके से तैयारी कर सकें, इसके लिए मामा कोचिंग क्लासेस निरंतर संचालित की जा रही हैं। साथ ही स्व-रोजगार के लिए युवाओं को मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना में 50 लाख रूपए तक का ऋण स्वीकृत किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ योजना में विभिन्न क्षेत्रों में काम सीखने वाले युवाओं को प्रशिक्षण के साथ-साथ 8 से 10 हजार रुपए का स्टायपेंड दिया जाएगा। इसके लिए बनाये गये पोर्टल पर काम सीखने के इच्छुक युवाओं और काम सिखाने वाली संस्थाओं का पंजीयन हो रहा है। कार्यक्रम को श्री कार्तिकेय चौहान ने भी संबोधित किया।

प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर उन्हें आशीर्वाद दिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह, सांसद श्री रमाकान्त भार्गव, अन्य जन-प्रतिनिधि, खिलाड़ी और बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी