गरीबों का सम्मान और उनकी सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री दशमत से मिलकर घटना पर दुख व्यक्त किया और माफी माँगी यह दशमत जी के दुख और पीड़ा को बाँटने का प्रयास

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी के पीड़ित व्यक्ति श्री दशमत रावत से मुख्यमंत्री निवास में भेंट की। मुख्यमंत्री ने श्री दशमत के चरण पखार और तिलक कर शॉल-श्रीफल और श्री गणेश प्रतिमा भेंट की। उन्होंने घटना पर दुख व्यक्त किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री दशमत के साथ स्वल्पाहार किया और परिवार की कुशल-क्षेम पूछी। उन्होंने श्री दशमत से कहा कि" आप मेरे साथी और भाई हो, मन दुखी है, यह आपकी पीड़ा बाँटने का प्रयास है, आपसे माफी भी माँगता हूँ, परिवार की जो भी जरूरत होगी उन्हें पूरा किया जाएगा। "मुख्यमंत्री ने श्री दशमत की पत्नी श्रीमती आशा रावत से भी फोन पर बातचीत की।

जनता ही मेरी भगवान और जनता की सेवा भगवान की पूजा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में कहा कि जनता ही मेरी भगवान है और जनता की सेवा भगवान की पूजा है। हम यह मानते हैं कि हर इंसान में भगवान निवास करते हैं, दरिद्र ही नारायण है। श्री दशमत के साथ हुए अन्याय से मेरा मन, दर्द और पीड़ा से भरा है। मन की व्यथा और पीड़ा को कम करने के लिए ही मैंने श्री दशमत को निवास बुलाकर उनके पैर धोए और पानी माथे से लगाया, जिससे मेरी व्यथा और दर्द कम हो सके।

अन्यायी का कोई धर्म-जाति-पार्टी नहीं होती

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, जो अन्याय करता है उसका कोई धर्म-जाति-पार्टी नहीं होती, जिसने अन्याय किया है उसको कड़ी सजा मिली। जिसके साथ अन्याय हुआ है उसे दिल से लगाकर उसकी पीड़ा कम करने की हरसंभव कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा हम सब एक ही चेतना से बने हैं, ईश्वर ने हम सबको बनाया है। हम सब, अपने गरीब भाई-बहनों के प्रति मानवीयता, करुणा, प्रेम, दया और संवेदना से भरे रहें। गरीब का भी आत्म-सम्मान होता है। हमें यह सुनिश्चित करना है कि सबको सम्मान और सुरक्षा मिले।

जो भी गरीबों के साथ गड़बड़ करेगा उसे कठोरतम सजा मिलेगी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि श्री दशमत के पैर धोना, गरीबों के प्रति मेरी संवेदना और उनके प्रति सेवाभाव का संकेत है। गरीब की इज्जत हमारे लिये सबसे बड़ी है। जनता, शासन, प्रशासन को यह भी स्पष्ट संदेश है कि गरीबों के साथ यदि कोई गड़बड़ करेगा तो उसे कठोरतम सजा मिलेगी। गरीबों का सम्मान और उनकी सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल