उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश एक दूसरे की स्थानीय संस्कृति को देंगे बढ़ावा

लखनऊ में दोनों राज्यों के बीच हुआ समझौता ज्ञापन पर्यटन कार्यालय लखनऊ का हुआ शुभारंभ

सांस्कृतिक आदान-प्रदान और संस्कृति संवर्धन को बढ़ावा देने के लिए मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश राज्य के बीच समझौता ज्ञापन हुआ। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल के मुख्य आतिथ्य और उत्तर प्रदेश के मध्यप्रदेश की संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री जयवीर सिंह एवं संस्कृति, पर्यटन, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री सुश्री उषा ठाकुर के विशिष्ट आतिथ्य में लखनऊ में गांधी सभागार, राजभवन में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर हुए। प्रमुख सचिव संस्कृति और पर्यटन श्री शिव शेखर शुक्ला और प्रमुख सचिव संस्कृति एवं पर्यटन उत्तर प्रदेश श्री मुकेश कुमार मेश्राम ने हस्ताक्षर किए। मध्यप्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम के प्रबंध संचालक श्री कौशलेंद्र विक्रम सिंह और उत्तर प्रदेश पर्यटन विकास निगम के प्रबंध संचालक श्री अश्वनी कुमार पांडे भी उपस्थित रहे।

एक-दूसरे की स्थानीय संस्कृति को देंगे बढ़ावा

एक भारत-श्रेष्ठ भारत अभियान की गतिविधियों के अंतर्गत दोनों राज्य एक-दूसरे की स्थानीय संस्कृति को बढ़ावा देंगे। समझौता ज्ञापन अनुसार उत्तर प्रदेश दिवस-24 जनवरी और गणतंत्र दिवस-26 जनवरी को उत्तर प्रदेश में मध्यप्रदेश राज्य के कलाकारों का समूह सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ देगा। वही मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश के कलाकारों का समूह मध्यप्रदेश में सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ देंगे। दोनों राज्यों द्वारा संयुक्त रूप से आर्ट कम्पटीशन, एग्जिबिशन, सेमिनार, ड्रामा और थिएटर आदि गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। संयुक्त आयोजन करने पर मेजबान राज्य स्थानीय आतिथ्य की व्यवस्था करेगा, वहीं आने वाला राज्य यात्राओं का खर्चा उठाएगा।

दोनों ही प्रदेश अपनी समृद्ध संस्कृति, रीति-रिवाज और परंपराओं पर आधारित पुस्तक का निर्माण करेंगे और एक-दूसरे के प्रदेश के शैक्षिक संस्थानों में प्रदर्शित और वितरित करेंगे। दोनों ही प्रदेश अपने-अपने प्रदेश में एक-दूसरे के स्थानीय टीवी और रेडियो चैनल का प्रसारण करेंगे। 

समझौता ज्ञापन की अवधि 3 वर्ष की है, जिसे आपसी सहमति से 3 वर्ष के लिए बढ़ाया जा सकेगा। समझौता ज्ञापन से उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश सरकार एक दूसरे के संबंध को और अधिक मजबूत कर सकेंगे। इस तरह के समझौतों से राज्य के नागरिक को भारत की विविधता को समझने, सराहना करने, समृद्ध बनाने और भारतीय संस्कृति रीति-रिवाजों और परंपराओं को जानने-समझने का अवसर प्राप्त होगा। 

लखनऊ में पर्यटन के मार्केटिंग कार्यालय का हुआ शुभारंभ

प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर मध्यप्रदेश के पर्यटन स्थलों का प्रचार उत्तर प्रदेश में करने के लिए मंत्री सुश्री ठाकुर ने लखनऊ में हजरतगंज में होटल गोमती में पर्यटन के मार्केटिंग कार्यालय का शुभारंभ किया गया। मध्यप्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम के प्रबंध संचालक श्री कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने बताया कि आगामी समय में वाराणसी और अयोध्या में भी मार्केटिंग कार्यालय खोले खोले जाने की योजना है। मार्केटिंग कार्यालय में कॉफी टेबल बुक, ब्रोशर, लीफलेट्स, मध्यप्रदेश मैप आदि से प्रदेश के पर्यटन स्थलों की जानकारी और सेवाओं के बारे में उत्तर प्रदेश के निवासियों को बताया जाएगा। साथ ही पर्यटन निगम के होटल, रिसोर्ट, बोट क्लब के साथ उपलब्धियों, नवाचार और गतिविधियों की जानकारी भी दी जाएगी। इससे उत्तर प्रदेश से मध्यप्रदेश आने वाले पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होगी।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी