प्रदेश में सामाजिक और आर्थिक क्रांति का दौर – मुख्यमंत्री श्री चौहान

टिकटौली माइक्रो सिंचाई परियोजना सहित 101 करोड़ रूपए से अधिक लागत के विकास कार्यों का किया भूमि-पूजन एवं लोकार्पण बेहट में महाविद्यालय खोलने एवं बेहट का नाम तानसेन नगर करने की घोषणा माँ अंजनी माता मंदिर के जीर्णोद्धार के लिये एक करोड़, खुरैरी-बिजौली-गुंधारा सड़क की स्वीकृति और चंदीला डेम बनवाने की घोषणा भी की संगीत सम्राट तानसेन की जन्म-स्थली बेहट में विकास कार्यों की सौगातें देने पहुँचे मुख्यमंत्री और केन्द्रीय कृषि मंत्री

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज गान महर्षि संगीत सम्राट तानसेन की जन्म-स्थली बेहट में सरकार का खजाना खोल कर बहुप्रतीक्षित बड़े-बड़े विकास कार्यों की सौगातें दी। उन्होंने बेहट के कृषि उपज मंडी परिसर में हुए भव्य समारोह में मौजूद विशाल जन-समूह को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में वर्तमान में विकास कार्यों के साथ सामाजिक क्रांति और प्रदेशवासियों को आत्म-निर्भर एवं आर्थिक रूप से सशक्त बनाने का दौर चल रहा है। इसी दिशा में सरकार ने क्रांतिकारी मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना शुरू की है। समारोह की अध्यक्षता केन्द्रीय कृषि एवं किसान-कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने समारोह में महात्वाकांक्षी टिकटौली माइक्रो सिंचाई परियोजना सहित 101 करोड़ रूपए से अधिक लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण रिमोट का बटन दबा कर किया। साथ ही बेहट में महाविद्यालय खोलने और बेहट का नाम तानसेन नगर करने, क्षेत्र में स्थित अंजनी माता मंदिर के जीर्णोद्धार के लिये एक करोड़ की धनराशि उपलब्ध कराने और क्षेत्र के चंदीला डैम का जीर्णोद्धार तकनीकी परीक्षण के आधार पर कराने की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मुरार ग्रामीण क्षेत्र में खुरैरी से बिजौली-गुंधारा-जिगनिया होते हुए गुहीसर सड़क की प्रशासकीय स्वीकृति भी जल्द जारी कराने की बात कही। उन्होंने बताया कि राज्य शासन द्वारा भदावना, बेहट, काशीबाबा एवं देवगढ़ को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजा गया है, जिसे मंजूरी दिलाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बहनों के साथ पूरे परिवार की जिंदगी बदलने के लिये सरकार ने मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना लागू की है। युवाओं को आत्म-निर्भर बनाने के लिये मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ योजना लागू करने का निर्णय लिया है। योजना में सरकार युवाओं को 700 प्रकार के कामों का विभिन्न औद्योगिक संस्थाओं में प्रशिक्षण दिलायेगी, जिससे युवाओं को रोजगार मिल सके। काम सीखने के बदले में सरकार हर युवा को उनके कौशल अनुसार प्रोत्साहन स्वरूप 8 से 10 हजार रूपए प्रतिमाह देगी। इसी माह 15 जून से योजना में पंजीयन शुरू हो जायेगा। प्रदेश में वर्तमान में एक लाख सरकारी नौकरियों की भर्ती प्रचलन में है। यह भर्ती पूरी होते ही 50 हजार और भर्ती शुरू की जायेगी। सरकार युवाओं को नौकरी दिलाने के साथ उद्यम क्रांति एवं प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम जैसी योजनाओं से आत्म-निर्भर बनाने का काम भी कर रही है। सरकार मेडिकल, इंजीनियरिंग, लॉ एवं प्रबंधन आदि में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के विद्यार्थियों की फीस भी भर रही है। सरकार ने मेडिकल की पढ़ाई हिंदी में करने की व्यवस्था भी की है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार ने किसानों के कल्याण के लिये क्रांतिकारी कदम उठाए हैं। केन्द्र और राज्य सरकार मिल कर हर किसान को साल में 10 हजार रूपए दे रही है। राज्य सरकार ने किसानों के कृषि ऋण का ब्याज भरने का फैसला भी किया है। राज्य सरकार किसानों के ऊपर चढ़े 2200 करोड़ रूपए का ब्याज भरेगी। इसी तरह फसल बीमा योजना में आगामी 13 जून को 10 हजार किसानों के खाते में 2900 करोड़ रूपए अंतरित किये जायेंगे।

10 जून को शाम 6 बजे 1000 रूपए भेजने का बटन दबा दिया जायेगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपने प्रिय गीत “फूलों का तारों का सबका कहना है…एक हजारों में मेरी बहना है” को गुनगुनाते हुए समारोह में बड़ी संख्या में मौजूद नारी शक्ति से कहा कि इंतजार की घड़ियाँ खत्म होकर अब शुभ घड़ी आ गई है। 10 जून को शाम 6 बजे मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना में हर बहना के खाते में 1000 रूपए भेजने का बटन दबा दिया जायेगा। उन्होंने कहा राजनैतिक प्रतिनिधित्व देने के लिये सरकार ने महिलाओं को पंचायत और नगरीय निकायों में आरक्षण दिया है। साथ ही लाड़ली लक्ष्मी और लाड़ली बहना जैसी क्रांतिकारी योजनाएँ शुरू की हैं। पुलिस की भर्ती में 30 प्रतिशत आरक्षण और मकान, दुकान एवं अन्य परिसम्पत्तियों का मालिक बनाने के उद्देश्य से महिलाओं के नाम से संपत्ति का पंजीयन शुल्क मात्र एक प्रतिशत किया गया है। इससे अब प्रदेश में 45 प्रतिशत सम्पत्तियों के पंजीयन महिलाओं के नाम से होने लगे हैं, जो पहले मात्र 2 प्रतिशत थे।

किसानों के लिये 11 लाख मी. टन खाद का अग्रिम भण्डारण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मौजूद किसानों को खुशखबरी देते हुए कहा कि खरीफ की फसल के लिये खाद की जरा भी चिंता न करें। सरकार ने 11 लाख मीट्रिक टन खाद का अग्रिम भण्डारण कर लिया है। किसान जब चाहें खाद ले सकते हैं। साथ ही यदि वे 2 माह पूर्व अग्रिम खाद लेते हैं तो उसका ब्याज भी सरकार अदा करेगी।

मुख्यमंत्री की दरियादिली से मुरार ग्रामीण में विकास कार्यों के बड़े आयामस्थापित हुए : केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर

केन्द्रीय कृषि एवं किसान-कल्याण मंत्री श्री तोमर ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की दरियादिली और क्षेत्रीय विधायक श्री भारत सिंह कुशवाह के प्रयासों से ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्यों के बड़े-बड़े आयाम स्थापित हुए हैं। उन्होंने टिकटौली माइक्रो सिंचाई परियोजना की स्वीकृति देने के लिये मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया। इस परियोजना से क्षेत्र के 27 गाँवों को सिंचाई की सुविधा मिलेगी। स्थानीय किसान शिद्दत से नहर निर्माण की प्रतीक्षा कर रहे थे। श्री तोमर ने कहा कि ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र को 3 – 3 तहसीलों की सौगात भी मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी है, जो उनकी दरियादिली का परिचायक है। उन्होंने कहा कि श्री भारत सिंह के प्रयासों से बेहट से मालनपुर, बड़ागाँव से चितौरा, मोहनपुर से बेहट सहित तमाम बड़ी-बड़ी सड़कें बनी हैं। इतना ही नहीं श्री कुशवाह ने बुजुर्गों को नि:शुल्क बत्तीसी लगवाने का काम भी किया है।

उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं क्षेत्रीय विधायक श्री भारत सिंह कुशवाह ने विकास कार्यों के लिये दिल खोल कर मदद करने के लिये मुख्यमंत्री श्री चौहान को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में पिछले 10 साल के दौरान 2 हजार 816 करोड़ रूपए से अधिक के काम हुए हैं। रूपए 600 करोड़ की लागत से बनी बड़ी-बड़ी सड़कों के साथ 15 विद्युत उप केन्द्र, सामुदायिक एवं उप स्वास्थ्य केन्द्रों का निर्माण, बेहट में किसानों के लिये मंडी और एमपी एग्रो का गोदाम सहित 3 – 3 तहसीलों की सौगात क्षेत्र को मिली है। साथ ही नवाचार के रूप में यहाँ के 4 हजार युवाओं को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नि:शुल्क कम्प्यूटर शिक्षा दिलाई है।

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश के विकास को मिली नई गति : श्री शेजवलकर

सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि जब से मुख्यमंत्री श्री चौहान राज्य सरकार के मुखिया बने हैं तब से प्रदेश के विकास को नई गति मिली और चहुँमुखी विकास हो रहा है।

जगह-जगह हुआ आत्मीय स्वागत, तानसेन की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की

सुर सम्राट तानसेन की जन्म और साधना-स्थली बेहट में विकास कार्यों की सौगातें लेकर आए मुख्यमंत्री श्री चौहान का जगह-जगह विभिन्न सामाजिक संगठनों एवं ग्रामीणों ने आत्मीय स्वागत किया। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेहट स्थित संगीत सम्राट तानसेन की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया।

लघु उद्योग निगम की अध्यक्ष श्रीमती इमरती देवी, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती दुर्गेश कुँवर सिंह जाटव, मत्स्य-पालन बोर्ड के अध्यक्ष श्री सीताराम बाथम, बीज एवं फार्म विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री राजकुमार कुशवाह, जिला पंचायत की उपाध्यक्ष श्रीमती प्रियंका गुर्जर सहित जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी