हर क्षेत्र में महिलाएँ सशक्त होकर आगे आईं और अलग पहचान बनाई : मुख्यमंत्री श्री चौहान

जोनतला में 41 करोड़ रूपये लागत के अनेक निर्माण एवं विकास कार्यों का भूमि-पूजन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में महिला सशक्तिकरण की अनेक योजनाओं से महिलाओं ने हर क्षेत्र में सशक्त एवं आत्म-निर्भर होकर एक अलग पहचान बनाई है। लाड़ली लक्ष्मी योजना से बेटियों को समाज में सम्मान मिला है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह-निकाह योजना से गरीब माता-पिता, बेटियों की शादी की चिंता से मुक्त हुए हैं। उन्होंने कहा कि अब मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना बहनों के जीवन में ऐतिहासिक बदलाव लायेगी और उन्हें और मजबूत करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान सीहोर जिले के जोनतला में 41 करोड़ 16 लाख की लागत से बनने वाली 10 सड़क, एक बाउण्ड्री वॉल और एक स्वागत द्वार के निर्माण कार्य का भूमि-पूजन कर रहे थे। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्थानीय निकायों के चुनाव में महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण से बड़ा बदलाव आया है। राज्य सरकार द्वारा शिक्षकों की भर्ती में महिलाओं के लिए 50 तथा पुलिस में 30 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना में प्रतिमाह मिलने वाले 1000 रूपए से महिलाएँ अपनी अनेक जरूरत पूरा कर पाएंगी। उन्होंने कहा कि जून माह से प्रदेश की सवा करोड़ बहनों के खाते में प्रतिमाह 1000 रूपए राशि डाली जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कृषि के विकास और किसानों के कल्याण के लिए अनेक योजना बना कर क्रियान्वित की गई हैं, जिसके परिणामस्वरूप आज किसानों की न केवल आमदनी बढ़ी है, बल्कि उनके जीवन-स्तर में भी बदलाव आया है। आज सिंचाई सुविधाएँ उपलब्ध होने से किसान भाई पूरे साल फसल ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि जोनतला में भी सिंचाई के लिए नर्मदा नदी से पानी लाया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा पिछले वर्ष की तरह ही इस वर्ष भी किसानों भाइयों से मूंग की खरीदी करेगी। उन्होंने कहा कि मूंग खरीदी के लिए किसानों के पंजीयन की कार्यवाही बेहतर ढंग से की जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीब माता-पिता के प्रतिभाशाली बच्चे पढ़ाई से वंचित न रहे, इसके लिए छात्रों की मेडिकल, इंजीनियरिंग और आईआईएम की पूरी फीस राज्य सरकार द्वारा भरी जा रही है। साथ ही सरकारी नौकरियों की परीक्षा की तैयारी के लिए बुधनी में मामा कोचिंग क्लासेस भी चलाई जा रही हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जोनतला के विकास के लिए सभी ग्रामवासी मिल कर काम करें। जोनतला में सामुदायिक भवन और व्यायाम शाला बनाई जाएगी और तालाब का सौंदर्यीकरण भी किया जाएगा। उन्होंने बासगहन में ओलावृष्टि से हुए नुकसान का सर्वे करने के निर्देश भी दिए।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल