मुख्यमंत्री श्री चौहान लाड़ली बहना योजना के लिए हर जिले में लायेंगे जागरूकता

प्रदेश में 4 अप्रैल तक प्राप्त हुए 53 लाख 98 हजार 811 आवेदन मुरैना से प्रदेश की स्वास्थ्य संस्थाओं के लोकार्पण और भूमि-पूजन का कार्यक्रम 6 अप्रैल को मुख्यमंत्री ने आगामी पखवाड़े में होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी ली

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि लाड़ली बहना योजना से जुड़ कर लाभ लेने के लिए बड़ी संख्या में बहने आगे आ रही हैं। इस योजना के प्रति जागरूकता बढ़ाने और हितग्राही महिलाओं की संख्या में वृद्धि के लिए प्रत्येक जिले में कार्यक्रम हो रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उनका प्रयास है कि सभी जिलों में पहुँच कर योजना के लिए आवश्यक वातावरण तैयार कर बहनों को लाभान्वित करने के कार्य को पूरा किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज समत्व भवन में आगामी पखवाड़े में प्रदेश के विभिन्न जिलों में होने वाले लाड़ली बहना सम्मेलन और भूमि-पूजन- लोकार्पण कार्यक्रमों की तैयारियों की जानकारी प्राप्त की। विभिन्न जिलों के कलेक्टर्स से वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा चर्चा की गई। बैठक में जानकारी दी गई कि 4 अप्रैल तक लाड़ली बहना योजना में प्रदेश में 53 लाख 98 हजार 811 आवेदन प्राप्त हो गए हैं।

अधिक से अधिक नागरिक देखें विकास प्रदर्शनी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिलों में कार्यक्रमों के दौरान विकास कार्यों की प्रदर्शनी भी लगाई जाए। प्रदर्शनी आम जनता के लिए भी खुली रहे। विकास कार्यों के संबंध में अधिक से अधिक नागरिकों को जानकारी प्राप्त होना चाहिए। जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों का विस्तृत विवरण मिलने से पात्र हितग्राही लाभ लेने के लिए जागरूक बनते हैं। इससे सरकार का योजनाओं के क्रियान्वयन का उद्देश्य भी पूरा होता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी कलेक्टर्स को विकास प्रदर्शनियों से अधिकाधिक जनता को जोड़ने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज मुरैना, रतलाम, जबलपुर, सीधी, रेहटी जिला सीहोर, महू जिला इंदौर, महेश्वर जिला खरगोन और ग्वालियर में 6 से 16 अप्रैल की अवधि में हो रहे कार्यक्रमों के स्वरूप और अब तक की गई तैयारियों की जानकारी प्राप्त की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 6 अप्रैल को मुरैना में प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत स्वास्थ्य आधारभूत अधो-संरचना योजना में किए जाने वाले भूमि-पूजन और लोकार्पण कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त की। मुरैना में लाड़ली बहना सम्मेलन भी होगा, जिसमें प्रत्येक ग्राम की 8 से 10 महिलाओं की भागीदारी से लाड़ली बहना सेना बनाने और उन्हें सामाजिक जागरूकता के लिए कार्य करने का जिम्मा सौंपने की जानकारी दी जाएगी।

स्वास्थ्य अधो-संरचना को मजबूत बनाने की पहल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत स्वास्थ्य आधारभूत अधो-संरचना योजना में स्वास्थ्य संस्थाओं के निर्माण के लिए किए जा रहे कार्य की जानकारी प्राप्त की। बताया गया कि मुरैना से 84 भवनों का वर्चुअल लोकार्पण किया जाएगा, जिसकी लागत 82 करोड़ 99 लाख रूपए है। साथ ही 309 स्वास्थ्य संस्थाओं का भूमि-पूजन भी होगा, इसके लिए कुल 1130 करोड़ 86 लाख रूपए की राशि मंजूर की गई है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने 25 अक्टूबर 2021 को प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर का शुभारंभ किया था। इसके अंतर्गत वर्ष 2025-26 तक देश की स्वास्थ्य प्रणाली और अधो-संरचना को सशक्त किया जा रहा है। मध्यप्रदेश में इस दिशा में निरंतर कार्य हो रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान 6 अप्रैल को मुरैना से प्रदेश के जिलों में स्वास्थ्य क्षेत्र में हुए विभिन्न निर्माण कार्यों का वर्चुअल भूमि-पूजन भी करेंगे। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने कार्यक्रम के लिए की गई तैयारियों की जानकारी दी। मध्यप्रदेश में विकासखंड स्तर पर 196 ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट बनाई जा रही हैं। प्रदेश के 24 जिला चिकित्सालयों में 50 बिस्तरों की क्षमता की क्रिटिकल केयर ब्लॉक और 9 चिकित्सा महाविद्यालयों में 50 बिस्तर के क्रिटिकल केयर ब्लॉक बनाए जा रहे हैं। इसी तरह 35 जिला चिकित्सालयों में इंटीग्रेटेड पब्लिक हेल्थ लेब बनाई जाएंगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 8 अप्रैल को रतलाम में लाड़ली बहना पंजीयन केन्द्र का अवलोकन कर योजना में आवेदन करने वाली बहनों का प्रपत्र भरवाएंगे। रतलाम में महिला सम्मेलन के साथ ही विकास कार्यों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। पेसा नियम मोबेलाइजर और मुख्यमंत्री जन सेवा मित्रों से चर्चा सत्र भी रहेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान जबलपुर में 9 अप्रैल को महाधिवक्ता कार्यालय के भूमि-पूजन और प्रबुद्धजन सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। मुख्यमंत्री 10 अप्रैल को सीधी में महिला सम्मेलन, भू-अधिकार पत्रक वितरण, स्व-सहायता समूहों के कार्यों की प्रदर्शनी, युवा संवाद और विकास कार्यों के लोकार्पण कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान 10 अप्रैल को सीहोर जिले के रेहटी में रेहटी गौरव दिवस कार्यक्रम में प्रतिभाओं का सम्मान करेंगे। विभिन्न कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन भी होगा। मुख्यमंत्री 12 अप्रैल को शाजापुर जिले के शुजालपुर में लाड़ली बहना सम्मेलन और मुख्यमंत्री जन सेवा मित्रों के संवाद कार्यक्रम में शामिल होंगे।

इंदौर, खरगोन और ग्वालियर जिलों में डॉ. अंबेडकर जयंती कार्यक्रम

मुख्यमंत्री श्री चौहान इंदौर जिले के महू में डॉ. अंबेडकर जयंती कार्यक्रम में डॉ. अंबेडकर स्मारक प्रांगण में जाकर माल्यार्पण करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान इसी दिन खरगोन जिले के महेश्वर में डॉ. अंबेडकर जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री ग्वालियर में मेला ग्राउण्ड में 16 अप्रैल को डॉ. अंबेडकर जयंती के राज्य स्तरीय कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस कार्यक्रम में अनुसूचित जाति वर्ग के लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाएगा। संत रविदास स्व-रोजगार योजना सहित विभिन्न योजनाओं में लाभान्वित हितग्राही भी अपने अनुभव साझा करेंगे।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी