दतिया में बनेगा पीतांबरा माई महालोक : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री, माँ पीताम्बरा प्राकट्य महोत्सव एवं दतिया गौरव दिवस में शामिल हुए दतिया गौरव दिवस पर निकली माई की भव्य यात्रा

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अभूतपूर्व है अपना दतिया, यहाँ विराजी माँ पीताम्बरा की कृपा पूरे मध्यप्रदेश पर बनी हुई है। उनकी कृपा से दतिया में भव्य पीताम्बरा माई महालोक का निर्माण किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गृह मंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा और दतियावासियों की इस पावन धरा पर महालोक निर्माण की मनोकामना जल्द ही पूर्ण होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज दतिया में माँ पीताम्बरा प्राकट्य महोत्सव एवं गौरव दिवस में शामिल हुए। राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुरेश धाकड़ विशेष रूप से शामिल हुए। गौरव दिवस पर माई पीताम्बरा की भव्य रथ यात्रा नगर के विभिन्न मार्गों पर निकली। सभी अतिथियों ने रथ यात्रा में शामिल हो कर रथ को खींचा। जगह-जगह रथ यात्रा का पुष्प-वर्षा से स्वागत किया गया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दतिया में पीताम्बरा माई के प्राकटय महोत्सव पर किया गया आयोजन ऐतिहासिक होने के साथ अद्भुत भी है। पूरे दतिया में चारों ओर उत्सह और उमंग का वातावरण है। इसमें दतिया ही नहीं प्रदेश और देश के श्रद्धालुओं ने भक्तिभाव से शामिल होकर माहौल को अलौकिक बना दिया है। चारों ओर धर्म-प्रेमी जनता ने पीतवर्णी वस्त्र धारण कर महोत्सव को भव्यता प्रदान की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि माई महालोक निर्माण के लिये गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, ट्रस्ट अध्यक्ष, विद्वानों और संतों के साथ के साथ मिल कर कार्य-योजना बनायें। कार्य-योजना के अनुरूप शीघ्र कार्य प्रांरभ किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दतिया के विकास में धन की कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि एक समय मध्यप्रदेश का बजट मात्र 21 हजार करोड़ हुआ करता था। आज माई की कृपा से प्रदेश का बजट 3 लाख 14 हजार करोड़ रूपये हो गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दतिया की हवाई पट्टी को एयरपोर्ट के रूप में विकसित करने के लिये केन्द्र सरकार से विचार-विमर्श करेंगे, जिससे श्रद्धालुओं को दतिया आने के लिए सुगमतापूर्वक हवाई सुविधा मिल सके। उन्होंने माई के चरणों में नमन करते हुए प्रदेश के विकास और प्रदेशवासियों के कल्याण की कामना की।

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री एवं ट्रस्ट अध्यक्ष श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया ने कहा कि माँ पीताम्बरा की कृपा और गुरूजी के आशीर्वाद से दतिया निरंतर प्रगति के मार्ग पर अग्रसर है। राज्य सरकार ने भी दतिया के विकास में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है। उन्होंने कहा कि माई की कृपा से ही दतिया में अनेक उत्सवों का आयोजन प्रारंभ हुआ है। साथ ही अनेक कथाओं का भी आयोजन कर लोगों को भक्तिरस में डूबने का अवसर मिल रहा है। उन्होंने कहा कि माँ पीताम्बरा माई के प्रकटोत्सव का यह दूसरा वर्ष है। उत्साह और उमंग के साथ बड़ी संख्या में लोग भागीदारी कर रहे हैं। आने वाले वर्षों में इसे और भव्यता प्रदान करने का कार्य किया जायेगा।

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि दतिया अब उत्सवों का शहर बन गया है। यहाँ पर वर्ष भर उत्सव एवं कथाओं का आयोजन किया जा रहा है। दतिया में माँ पीताम्बरा माई के प्रकटोत्सव का एक भव्य और अलौकिक आयोजन भी दतिया जिले का हर नागरिक उत्साह और उमंग के साथ मना रहा है। माई की कृपा से दतिया में विकास के अनेक कार्य हुए हैं। दतिया की पहचान प्रदेश में ही नहीं देश में भी बढ़ी है। उन्होंने बताया कि माई के प्रकटोत्सव पर लोगों ने स्वेच्छा से सभी होटल, सभी वाटिकाएँ निःशुल्क कर दी हैं। साथ ही अनेक जगह भण्डारों के माध्यम से भोजन व्यवस्था भी उपलब्ध कराई जा रही है। प्रकटोत्सव की पूर्व संध्या पर पीताम्बरा माई मंदिर में 31 हजार दीप प्रज्ज्वलित किए गए और दतिया के घर-घर में दीप जला कर उत्सव मनाया गया।

भक्तों पर हुई पुष्प वर्षा

प्रकटोत्सव के अवसर पर एकत्र भक्तों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प-वर्षा भी की गई। बड़ी संख्या में लोगों ने प्रकटोत्सव और दतिया गौरव उत्सव का उत्साह और उमंग के साथ आनंद लिया।

मुख्यमंत्री एवं अतिथियों ने रथ का पूजन कर शुभारंभ किया

प्रकटोत्सव पर मंदिर से रथ यात्रा प्रारंभ की गई। पीताम्बरा माई की यह रथ यात्रा शहर के विभिन्न मार्गों से होकर स्टेडियम पहुँची। रास्ते भर लोगों ने पुष्प-वर्षा से यात्रा का स्वागत किया। इस दौरान जन-प्रतिनिधि, श्रद्धालु और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी