वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रेम प्रकाश का जीवन पत्रकारिता क्षेत्र में कार्यरत नई पीढ़ी के लिए प्रेरक : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री ने "रिपोर्टिंग इंडिया" पुस्तक के हिंदी संस्करण का विमोचन किया

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रेम प्रकाश का जीवन युवा पत्रकारों के लिए प्रेरक है। उन्होंने अपनी योग्यता और लगन से पत्रकारिता के क्षेत्र में संघर्ष करते हुए निरंतर 70 वर्ष अतुलनीय कार्य किया है। उनके व्यापक अनुभव से नई पीढ़ी काफी कुछ सीख सकती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वयं के निर्माण के लिए व्यक्ति किस तरह अपनी जिद, जुनून और जज्बे से सफलता के शिखर तक पहुँचता है, इसका उदाहरण वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रेम प्रकाश का जीवन है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज भोपाल में होटल ताज लेक फ्रंट में एएनआई न्यूज एजेंसी के संस्थापक वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रेम प्रकाश की लिखी पुस्तक "रिपोर्टिंग इंडिया" का विमोचन कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वर्ष 1957 में एक कैमरामेन से सफर शुरू करने वाले श्री प्रेम प्रकाश ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री नेहरू जी से लेकर वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी तक पत्रकारिता के क्षेत्र में निरंतर उत्कृष्ट कार्य किया है। उन्हें भारत की प्रथम टी.वी. समाचार एजेंसी एएनआई की स्थापना में सफलता मिली। आज विश्व के अनेक देशों में यह न्यूज एजेंसी कार्यरत है। एजेंसी सर्वव्यापी और लोकप्रिय बनी है और इसके सैकड़ों संवाददाता हैं। श्री प्रेम प्रकाश इसके लिए बधाई के पात्र हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में 70 वर्ष के अनुभवों को एक किताब में समाहित करना महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रेम प्रकाश का मध्यप्रदेश आगमन और उनकी उल्लेखनीय सेवाओं केलिए सम्मान भी किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पुस्तक प्रकाशन के लिए श्री प्रेम प्रकाश को बधाई दी और प्रकाशक प्रभा खेतान फाउंडेशन के इस प्रयास को सराहनीय बताया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चर्चा-सत्र में पत्रकार श्री रशीद किदवई द्वारा श्री प्रेम प्रकाश से हुई बातचीत में शामिल होकर मध्यप्रदेश सरकार द्वारा लागू की गई कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की विकास दर और प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है। प्रदेश सबसे बड़ा गेहूँ निर्यातक राज्य है। प्रदेश की कृषि विकास दर में वृद्धि हुई है। हर पैरामीटर पर मध्यप्रदेश ने अच्छा कार्य करके दिखाया है। लाड़ली लक्ष्मी योजना से लेकर विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा, सहरिया और भारिया के परिवारों के पोषण स्तर में सुधार के लिए राशि देने का कार्य हो या नई लाड़ली बहना योजना, महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए हरसंभव प्रयास किए गए हैं। अन्य राज्यों द्वारा भी इन उपलब्धियों को इतिहास रचने की संज्ञा दी गई है।

लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, सहकारिता मंत्री श्री अरविंद भदौरिया, कृषि मंत्री श्री कमल पटेल, सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा, श्री हितानंद शर्मा, विधायक श्री पी.सी शर्मा सहित जन-प्रतिनिधि और मीडिया संस्थानों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

नरेंद्र सिंह तोमर, राजनेता