खेलों के बिना जिंदगी अधूरी, भोपाल को खेल का हब बना कर रहेंगे : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री ने वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता का किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि खेलों के बिना जिंदगी अधूरी है बल्कि जिंदगी ही खेल है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी खेलों को जीवन का अभिन्न अंग बनाने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आनंद विभाग बना है, लोग प्रसन्न रहें इसका ध्यान रखा जा रहा है। भोपाल को खेल का हब बना कर रहेंगे। हम जो कहते हैं वह करेंगे। खेलों के लिए पैसे की कमी नहीं रहेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में वर्ल्ड शूटिंग प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रिमोट का बटन दबा कर प्रतियोगितता के शुभारंभ की घोषणा की। साथ ही शूटिंग कॉम्पलेक्स का भूमि-पूजन भी किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अतिथि देवो भव: हमारे देश की परम्परा है। भारत के हृदय प्रदेश में सभी अतिथियों और खिलाड़ियों को कोई असुविधा नहीं होगी। उन्होंने कहा कि हम सब एक हैं। विश्व के कल्याण की परम्परा है। आप सब सुखी और निरोगी हों। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेल केवल जीतने के लिए नहीं सीखने के लिए भी खेला जाता है। खेल तनाव दूर कर हमें प्रसन्न और स्वस्थ रखता है और प्रतिस्पर्धा बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश खेलों में तेजी से आगे बढ़ रहा है। अभी हम इससे संतुष्ट नहीं हैं, हमें और आगे बढ़ना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसी प्रतियोगिताएँ उत्कृष्ट खिलाड़ियों को आगे बढ़ने का अवसर देती हैं। उन्होंने कहा कि खूबसूरत प्रदेश में आपका स्वागत है। भीमबैठका विश्व विरासत है, विश्व प्रसिद्ध साँची है और देश की स्वच्छतम राजधानी भोपाल की झील अति सुंदर है।

खेल एवं युवक कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी खेलों को बढ़ावा देने के अनेक प्रयास कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश को खेलों का उत्कृष्ट राज्य बनाने और भोपाल को स्पोर्टस हब बनाने के लिए कटिबद्ध हैं।

आईएसएसएफ के अध्यक्ष लुसियानो रॉसी ने कहा कि भारत सुंदर देश है। भोपाल की सुंदरता भी अद्धितीय है। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे खेलों की दिशा में अभूतपूर्व योगदान दे रहे हैं। एनआरआई के अध्यक्ष श्री रणिंदर सिंह ने भी विचार व्यक्त किए। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री गोविन्द सिंह और प्रमुख सचिव खेल एवं युवक कल्याण श्रीमती दीप्ति गौड़ मुखर्जी, देश-विदेश से आये खिलाड़ी और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल