पोर्टल में डाटा संग्रहण से विश्वविद्यालयों को होगी आसानी - उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव

उच्च शिक्षा मंत्री ने निजी विश्वविद्यालयों के डाटा संग्रहण के लिए निर्मित पोर्टल का लोकार्पण किया

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि विश्वविद्यालय उच्च स्तरीय शिक्षा की ताकत है, इसमें निजी और शासकीय कुछ नहीं होता। सभी में उच्च कोटि स्तर की शिक्षा प्रदान की जाती है। डॉ. यादव सोमवार को म.प्र. निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग में निजी विश्वविद्यालयों के डाटा संग्रहण के लिए निर्मित पोर्टल का लोकार्पण कर रहे थे।

मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि नवीन शिक्षा नीति से अब शिक्षा कर्मकांड नहीं बल्कि सच्चे अर्थों में युवाओं के जीवन को सार्थक बनाने में सहायक होगी। उन्होंने कहा कि आज भारत डिजिटल इंडिया की ओर अग्रसर है। निजी विश्वविद्यालयों के डाटा संग्रहण के लिए निर्मित पोर्टल से विश्वविद्यालयों की परेशानियों का निराकरण आसानी से किया जा सकेगा। मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय शिक्षा के यश, सम्मान और विश्वसनीयता को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। वर्तमान में विश्वविद्यालयों में ऐसे कोर्स डिजाइन करने की आवश्यकता है जहाँ उद्योगों के साथ मिल कर विद्यार्थियों को नई दिशा दे सकें। प्रदेश की साख बढ़ाने में निजी विश्वविद्यालय महत्वपूर्ण सहयोग कर सकते हैं।

अध्यक्ष म.प्र. निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग प्रो. भरत श्रण सिंह ने कहा कि यह हमारे लिए खुशी की बात है कि मध्यप्रदेश की जीईआर जहाँ 24 प्रतिशत थी, अब यह राष्ट्रीय पेरामीटर के बराबर 27.12 प्रतिशत हो गयी है। उन्होंने कहा कि पोर्टल की शुरूआत न सिर्फ विश्वविद्यालय बल्कि आयोग के लिए भी सहायक सिद्ध होगी।

एम.पी. ऑनलाइन बिजनेस हेड श्री अभय कुमार करन, विभिन्न निजी विश्वविद्यालयों के कुलपति और सचिव मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

नरेंद्र सिंह तोमर, राजनेता