मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लाला हरदयाल की पुण्य-तिथि एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री सखलेचा की जयंती पर नमन किया

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुख्यमंत्री निवास सभाकक्ष में स्वतंत्रता सेनानी, विचारक और चिंतक लाला हरदयाल की पुण्य-तिथि और पूर्व मुख्यमंत्री स्व. श्री वीरेंद्र कुमार सखलेचा की जयंती पर उनकी तस्वीरों पर माल्यार्पण कर नमन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लाला हरदयाल जी के योगदान का स्मरण भी किया।

लाला हरदयाल जी का जन्म 14 अक्टूबर 1884 को दिल्ली में हुआ। उन्होंने लंदन में देश भक्त समाज की स्थापना की। लाला हरदयाल जी ने अन्य देशों में भारतीय संस्कृति से संबंधित व्य़ाख्यान भी दिए। उन्होंने गदर पत्रिका का प्रकाशन किया। उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका में दर्शनशास्त्र और संस्कृत के व्याख्याता के रूप में भी सेवाएँ दीं। अनेक भाषाओं के ज्ञाता लाला हरदयाल ने भारतीय विद्यार्थियों को राष्ट्र की मुख्य-धारा में लाने का प्रयास किया, श्रमिकों को संगठित किया और स्विटजरलैण्ड, तुर्की और स्वीडन में भारत के पक्ष का प्रचार किया। अमेरिका के फिलाडेल्फिया में 4 मार्च 1939 को लाला हरदयाल जी का अवसान हुआ।

मंदसौर जिले में 4 मार्च 1930 को जन्में श्री वीरेन्द्र कुमार सखलेचा ने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से शिक्षा ग्रहण की थी। वे 18 जनवरी 1978 से 19 जनवरी 1980 तक मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। उनका निधन 21 मई 1999 को हुआ।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल