Budget 2023 : बजट से पहले बना इतिहास, नारी शक्ति का लहराया परचम

Budget 2023 देश के इतिहास में यह पहला मौका जब महिला राष्ट्रपति को महिला वित्त मंत्री ने बजट की पहली कॉपी सौंपी।


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फ़रवरी को सुबह 11 बजे अपना पांचवां आम बजट पेश करेंगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के नाम देश का सबसे लंबा बजट भाषण देने का रिकॉर्ड है। उन्होंने 2020 में 2.42 घंटे का बजट भाषण दिया। पर अगर शब्दों की गिनती करें तो सबसे लंबा बजट भाषण पूर्व प्रधानमंत्री और तब के वित्त मंत्री मनमोहन सिंह ने 1991 में दिया था। आम बजट 2023-24 में भी कई इतिहास बनने वाले हैं। एक इतिहास तो आज उस वक्त बन गया जब देश की केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश के मुखिया यानि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से राष्ट्रपति भवन में मुलाकात की। यह देश के इतिहास में पहली बार है जब आम बजट के मौके पर भारत की राष्ट्रपति महिला हैं और वित्त मंत्री भी महिला हैं। साथ ही यह पहला मौका जब महिला राष्ट्रपति को महिला वित्त मंत्री ने बजट की पहली कॉपी सौंपी। मतलब साफ है कि, देश की आधी आबादी गर्व से अपना सिर उंचा कर कह सकती हैं, जय हिंद। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से भेंट करने गई वित्त मंत्री की टीम में अन्य कई सदस्य शामिल थे। जिनमें केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री डॉ. भागवत किशनराव कराड, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी और वित्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।
कैबिनेट ने बजट पर लगाई अंतिम मुहर

हर साल की तरह इस साल भी 1 फरवरी को भारत का आम बजट संसद में पेश किया जाएगा। आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2024 लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार के कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट पेश करेंगी। इसी कड़ी में वित्त मंत्री संसद भवन पहुंची हैं, जहां कैबिनेट की अंतिम मुहर लगी।
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के लिए कड़ी चुनौतियां

गौरतलब है कि इस वक्त वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी के दबाव में है और रुपया तेजी से गिरता जा रहा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के सामने राजकोषीय घाटे को कम करने, बिना महंगाई बढ़ाए विकास कार्यों को बढ़ावा देने और ज्यादा से ज्यादा संसाधन जुटाने जैसी कड़ी चुनौतियां होगीं।
टैक्स में राहत मिलनी चाहिए, आम आदमी की गुहार

मुंबई से एक व्यक्ति ने कहा, महंगाई और बेरोजगारी बहुत बढ़ गई है। पिछले 2 साल से आम आदमी पर बोझ बढ़ा है। 2 साल से टैक्स रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है, इसबार आम आदमी को टैक्स में राहत मिलनी चाहिए।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

सनातन संस्कृति की रक्षा में संतों का अद्वितीय योगदान है - मुख्यमंत्री डॉ. यादव