इंदौर नगर निगम ने सौर ऊर्जा के लिए ग्रीन बॉण्ड जारी कर रचा नया इतिहास - मुख्यमंत्री श्री चौहान

साँची होगी देश की पहली सोलर सिटी मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डंका बजा कर इंदौर नगर निगम के ग्रीन बॉण्ड का शुभारंभ किया इंदौर ने नया इतिहास रच कर अन्य शहरों को दिशा दिखाई

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन साधारण खतरे नहीं हैं। यदि इनसे निपटने के प्रभावी उपाय नहीं किए गए, तो आने वाले समय में हम जीवन ढूंढते रह जाएंगे। मुझे यह कहते हुए गर्व है कि इंदौर नगर निगम क्षेत्र के जन-प्रतिनिधि, अधिकारी और इंदौरवासियों ने इस दिशा में प्रभावी कदम उठाए हैं। सौर ऊर्जा से बिजली उत्पादन के लिए ग्रीन बॉण्ड जारी करना कोई साधारण कार्य नहीं है। यह धरती को बचाने का महाअभियान है। ग्रीन एनर्जी की दिशा में इंदौर द्वारा किए जा रहे प्रयत्नों को देख कर गर्व होता है। मेरे सपनों का शहर इंदौर, दुनिया के सपनों का शहर होगा। इंदौर ने नया इतिहास रचा है और कई शहरों को दिशा दिखाई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान इंदौर नगर निगम द्वारा जारी ग्रीन बॉण्ड की नेशनल स्टाक एक्सचेंज में लिस्टिंग के लिए कुशभाऊ ठाकरे सभागार भोपाल में हुए कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मध्यप्रदेश गान के साथ दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेल रिगिंग सेरेमनी में गोंग (घण्टा) बजा कर इंदौर नगर पालिक निगम के ग्रीन बॉण्ड की नेशनल स्टाक एक्सचेंज में लिस्टिंग की।

उल्लेखनीय है कि इंदौर शहर की जल आपूर्ति के लिए इंदौर से 90 किलोमीटर दूर खरगोन जिले के जलूद जल संयंत्र से पानी लाने के लिए विद्युत व्यय को कम करने की दृष्टि से इंदौर नगर पालिका निगम द्वारा जलूद में 60 मेगावॉट का सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित कर उसे क्रियान्वित करने के लिए वित्तीय संसाधन जुटाने के उद्देश्य से ग्रीन बॉण्ड के पब्लिक इश्यू जारी कर धन एकत्र करने का निर्णय लिया है।

कार्बन क्रेडिट से अर्जित हुई 9 करोड़ की आय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर लीक से हट कर सोचता है और लीक से हट कर कार्य करता है। इंदौर शहर की सिटी बस सेवा में सीएनजी बसों और इलेक्ट्रिक बसों का समावेश, इलेक्ट्रिक वाहनों को प्रोत्साहन के लिए 126 चार्जिंग स्टेशन तैयार करना,शहर के गीले कचरे के निपटान के लिए संयंत्र स्थापित कर उससे उत्पन्न होने वाली बॉयो सीएनजी का उपयोग सिटी बसों के संचालन के लिए करना, शहर में 100 अहिल्या वन और 4 नगर वन विकसित करना तथा शहर के ट्रेंचिंग ग्राउंड पर पौध-रोपण जैसे उल्लेखनीय कार्य हैं। इन नवाचारों से कार्बन उत्सर्जन को कम कर लगभग 4 लाख कार्बन क्रेडिट अर्जित किए जा चुके हैं। इनकी वैश्विक बाजार में ट्रेडिंग कर 9 करोड़ रूपये की आय अर्जित हुई है। नगर निगम इंदौर ने कार्बन उत्सर्जन को रोकने और कार्बन क्रेडिट अर्जित करने के लिए जो बिजनेस मॉडल बनाया है, वह अन्य निकायों को नए नवाचार करने के लिए प्रोत्साहित करेगा। यह इस तथ्य का भी द्योतक है कि विश्वसनीयता और भरोसा हो तो पैसे की कमी नहीं रहती।

लाइफ फॉर एन्वायरमेंट के लिए मध्यप्रदेश प्रतिबद्ध

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने विश्व को लाइफ अर्थात लाइफ स्टाइल फॉर एन्वायरमेंट का मंत्र देकर पर्यावरण-संरक्षण को वैश्विक प्राथमिकताओं की सूची में सबसे ऊपर स्थापित किया है। प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा भारत के लिए तय किए गए पंचामृत लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए मध्यप्रदेश यथासंभव अपना योगदान देगा। भारत 2070 तक नेट जीरो का लक्ष्य प्राप्त करेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जहाँ चाह होती है वहाँ राह को निकलना ही पड़ता है।

प्रदेश के महानगर इस वर्ष जारी करेंगे बॉण्ड

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने अमृत और स्मार्ट सिटी मिशन के साथ शहरों को अपनी क्रेडिट रेटिंग कराना अनिवार्य किया था, जो म्यूनिस्पिल बांड जारी करने की दिशा में पहला कदम था। इंदौर देश का ऐसा पहला नगर है जिसने राष्ट्रीय स्टॉक एक्सचेंज में अपने बाण्ड की लिस्टिंग 2018 में करवाई थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें इस साल 5 और महानगरों में यह लक्ष्य हासिल करना है। प्रदेश के बेहतर वित्तीय प्रबंधन, प्रशासनिक दक्षता और विकास के प्रति प्रतिबद्धता से हम रोड मेप निर्धारित कर अगले 8-10 माह में यह उपलब्धि प्राप्त करेंगे। बांड से राशि प्राप्त होगी तो शहरों के विकास में तेजी आएगी।

इंदौर सोलर सिटी बनने की दिशा में आगे बढ़े

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि साँची देश की पहली सोलर सिटी होगी। वर्ल्ड हेरीटेज साँची अंतर्राष्ट्रीय सौर दिवस 3 मई को सोलर सिटी बनेगा, जो पर्यावरण को बचाने की दृष्टि से बड़ी उपलब्धि होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर के जन-प्रतिनिधि और अधिकारियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि वे बड़े शहरों में इंदौर को सौर नगर के रूप में विकसित करने का संकल्प लें। इंदौर में इस प्रकार की चुनौतियों और नवाचारों को क्रियान्वित करने का सामर्थ्य है। उन्होंने कहा कि जनता से संवाद, आवश्यक प्रावधान और व्यवस्थाएँ करते हुए इंदौर इस दिशा में आगे बढ़े।

प्रदेश की बढ़ती रफ्तार को हम थमने नहीं देंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश आर्थिक प्रगति के पथ पर निरंतर अग्रसर है। हमारा प्रदेश अगला इंडस्ट्रियल हब होगा। आईटी, टेक्सटाईल, खाद्य प्र-संस्करण के क्षेत्र में प्रदेश में निरंतर गतिविधियाँ बढ़ रही हैं। वन्य-प्राणी संरक्षण में भी मध्यप्रदेश ने उल्लेखनीय कार्य किया है। मध्यप्रदेश में अपार संभावनाएँ हैं, प्रदेश की बढ़ती रफ्तार को हम थमने नहीं देंगे।

इंदौर सांसद श्री शंकर लालवानी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा है कि इंदौर एक दौर है जो समय से आगे चलता है। इंदौर ने स्वच्छता के क्षेत्र में यह सिद्ध कर दिखाया है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में हमारा देश कार्बन उत्सर्जन कम करने में विश्व का नेतृत्व कर रहा है। इंदौर नगर निगम की पहल इसी दिशा में एक कड़ी है। सांसद श्री लालवानी ने इंदौर में अमृत -2 योजना के क्रियान्वयन में राज्य सरकार की ओर से अतिरिक्त सहयोग उपलब्ध कराने का आग्रह किया।

सांसद श्री वी. डी. शर्मा ने कहा कि केन्द्रीय बजट में नगरीय निकायों द्वारा बांड लाने की अनुशंसा की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नेतृत्व में प्रदेश में हर क्षेत्र में हो रहे नवाचारों के क्रम में इंदौर नगर निगम द्वारा सौर ऊर्जा के लिए किया गया यह प्रयास सराहनीय है।

जन-संवाद, जन-भागीदारी और जन-संकल्प होंगे इंदौर के नवाचारों की सफलता के आधार

इंदौर नगर निगम के महापौर श्री पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि स्वच्छता के लिए इंदौर की सतत् प्रतिबद्धता ने इंदौर की बॉन्ड इमेज को स्थापित किया है। ग्रीन बॉन्ड जैसे नवाचार, जन-संवाद, जन-भागीदारी और जन-संकल्प के साथ इंदौर नगर निगम करता रहेगा। श्री भार्गव में ग्रीन बॉन्ड की अवधारणा और उसके कार्यात्मक पक्ष पर भी प्रकाश डाला। कार्यक्रम को नेशनल स्टाक एक्सजेंच के चेयरमेन श्री आशीष, प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास श्री नीरज मण्डलोई ने भी संबोधित किया। प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे, एसबीआई केपिटल एवं ए.के. केपिटल के पदाधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम में समस्त अतिथियों को स्मृति-चिन्ह भेंट किए गए।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी