खनिज मंत्री श्री सिंह खनन की तकनीकी अध्ययन के लिये साउथ अफ्रीका रवाना

6 से 9 फरवरी 2023 तक खनन क्षेत्र में मॉडर्न एवं एनवायरमेन्ट फ्रेंडली टेक्निक का करेंगे अध्ययन

खनिज साधन एवं श्रम मंत्री श्री ब्रजेंद्र प्रताप सिंह विभागीय दल के साथ 6 से 9 फरवरी 2023 तक दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन शहर में कार्यक्रम "माइनिंग इंडाबा-2023" कॉफ्रेंस में शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में केन्द्रीय खान मंत्रालय, राज्य सरकार के खनिज विभाग और केन्द्र सरकार के उपक्रमों के प्रतिनिधि-मण्डल सम्मिलित होंगे। मंत्री श्री सिंह विभागीय दल के साउथ अफीका साथ रवाना हो गए हैं। कॉन्फ्रेंस में विभिन्न देशों के खनिज क्षेत्र में कार्य कर रहे विभाग, कंपनियाँ एवं संस्थानों के प्रतिनिधि-मण्डल भी शामिल होंगे।

खनिज मंत्री श्री सिंह और विभागीय दल साउथ अफ्रीका में खनन कंपनियों के प्रतिनिधि एवं शासकीय अधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे। दक्षिण अफ्रीका एवं अन्य देशों में वर्तमान परिवेश में चल रही खनन गतिविधियों तथा तकनीक के विषय में जानकारी प्राप्त करेंगें। भविष्य में इन्हीं तकनीकों के माध्यम से मध्य प्रदेश में खनिजों की खोज एवं पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए खनन तकनीक के क्रियान्वयन पर जोर दिया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश खनिज संपदा की दृष्टि से देश का खनिज संपन्न राज्य है। प्रदेश में लगभग सभी प्रकार के खनिज पाये जाते हैं तथा उनका खनन भी किया जाता है। मध्यप्रदेश के सकल राजस्व में खनिज राजस्व का महत्वपूर्ण योगदान है। विभाग की उद्योग मित्र नीति एवं आधुनिक तकनीकी के उपयोग से विभाग का खनिज राजस्व विगत 15 वर्ष में 15 गुना बढ़ चुका है, जो कि एक उपलब्धि है।

मध्यप्रदेश को हीरा खनन के लिए एकाधिकार प्राप्त है। हीरा का उत्पादन पन्ना जिला में स्थित खदान से किया जाता है। इसके अतिरिक्त छतरपुर जिले में हीरे के एक नए स्त्रोत की खोज की गई है, जिसकी नीलामी स्वरूप एक क्षेत्र बिरला ग्रुप के एस्सेल माइनिंग कंपनी को प्राप्त हुआ है।

विश्व में साउथ अफ्रीका के भू-भाग की भौमिकी संरचना भारत जैसी होने से वहाँ भी सभी प्रकार के खनिज साधन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। मंत्री श्री सिंह की अगुवाई में जा रहे विभागीय दल द्वारा वहाँ स्थित हीरा एवं सोना की खदानों का भ्रमण किया जायेगा और विभिन्न देश के प्रतिनिधयों से मध्यप्रदेश में निवेश के लिए चर्चा भी की जायेगी। इससे निश्चित ही प्रदेश के खनिज राजस्व में उत्तरोत्तर वृद्धि होगी तथा प्रदेश में रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे।

मंत्री श्री सिंह के साथ विभागीय दल में माइनिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड के एमडी श्री राजीव रंजन मीणा और खनिज विभाग के उप संचालक श्री कमल प्रसाद दिनकर शामिल हैं।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी