शिक्षक भर्ती घोटाला: टीएमसी नेता शांतनु बनर्जी और कुंतल घोष के घर पर ईडी की रेड

 बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले मामले में केंद्रीय जांच एजेंसियों द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है। इस मामले को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने हुगली में तृणमूल कांग्रेस के युवा नेता शांतनु बनर्जी और कुंतल घोष के आवास पर छापेमारी की।

ED
ED

पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले मामले में केंद्रीय जांच एजेंसियों द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है। ईडी ने शुक्रवार को बंगाल में नौकरी घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी टीएमसी के युवा नेता कुंतल घोष के फ्लैटों की तलाशी शुरू की। इसके अलावा, टीएमसी युवा नेता कुंतल घोष के न्यूटाउन स्थित आवास पर भी छापेमारी चल रही है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के अधिकारी घोष से पहले भी दो बार पूछताछ कर चुके हैं, जो शिक्षक भर्ती घोटाले में समानांतर जांच कर रहा है। आरोप है कि भर्ती परीक्षा को पास नहीं करने वाले कई लोगों से लाखों रुपये की रिश्वत लेकर टीचर बना दिया गया था जबकि पद के लायक लोगों की अनदेखी कर दी गयी थी।


घोष के दो फ्लैटों पर रेड

केंद्रीय सशस्त्र बलों की सहायता से ईडी के अधिकारियों ने उज्जल में घोष के दो फ्लैटों पर छापा मारा। न्यू टाउन थाना क्षेत्र के पॉश इलाके चिनार पार्क में तलाशी चल रही थी, तभी रिपोर्ट आई। घोष टीएमसी की हुगली जिले की युवा शाखा के नेता हैं, उन पर धन इकट्ठा करने का आरोप लगाया गया है। एक अन्य आरोपी तपन मोंडल के सीबीआई को दिए बयान के अनुसार, 2014-2021 के बीच नौकरी चाहने वालों से 19.5 करोड़ रुपये रुपए थे।

दो दिन की पूछताछ के बाद छोपमारी


ईडी की छापेमारी एक दिन बाद हुई जब सीबीआई ने बुधवार और गुरुवार को लगातार दो दिनों तक घोष से पूछताछ की थी। जांच एजेंसी ने अपने कार्यालय में बुलाकर कई प्रकार के सवाल पूछे। कुल मिलाकर जॉब घोटाले में मनी ट्रेल्स की तलाश में प्रवर्तन निदेशालय छापेमारी कर रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल