सरकार के संसाधन और समाज के सहयोग से जबलपुर को बनायेंगे नम्बर वन : मुख्यमंत्री श्री चौहान

इंदौर के साथ हो स्वस्थ प्रतिस्पर्धा आम नागरिक के मन में जागे भाव इस बार मैं गणतंत्र दिवस जबलपुर में मनाऊंगा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जबलपुर में सामाजिक संगठनों एवं जन-प्रतिनिधियों के साथ किया संवाद

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जबलपुर की समृद्ध विरासत है। यह माँ नर्मदा, रानी दुर्गावती का शहर है। यहाँ त्रिपुरी कांग्रेस हुई थी। उद्योग, निवेश, पर्यटन, रेडीमेड गारमेंट आदि क्षेत्रों में यहाँ अपार संभावनाएँ हैं। सरकार के संसाधन और समाज के सहयोग से इसे नम्बर वन बनाना है। जबलपुर, इंदौर के साथ स्वस्थ प्रतिस्पर्धा करे। यहाँ की जनता अगर ठान ले तो निश्चित रूप से जबलपुर प्रगति और विकास के नये अध्याय लिखेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज जबलपुर में नगर एवं क्षेत्र के विकास के लिये सामाजिक संगठनों और जन-प्रतिनिधियों के साथ वन-टू-वन चर्चा की। चर्चा के दौरान कई महत्वपूर्ण सुझाव आये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इन सुझाव पर तत्परता के साथ अमल कर न केवल जबलपुर नगर, बल्कि संपूर्ण क्षेत्र के विकास का रोड-मेप बना कर कार्य किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज स्वच्छता के क्षेत्र में इंदौर की सारी दुनिया में चर्चा है। इंदौर ने यह मुकाम केवल सरकारी प्रयासों से नहीं, बल्कि जनता के सहयोग से प्राप्त किया है। इंदौर के हर नागरिक में यह भावना है कि उसे अपने घर, मोहल्ले और नगर को स्वच्छ रखना है। जब तक आम नागरिक के मन में यह भाव नहीं जागता, पूरा विकास संभव नहीं है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस बार मैं गणतंत्र दिवस प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में मनाऊँगा। उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस केवल रस्मी न रहे, बल्कि जनता का पर्व और त्यौहार बने। इस पर्व से जन-मानस जुड़े। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज मैं जबलपुर के सामाजिक संगठनों, जन-प्रतिनिधियों और वरिष्ठजनों से चर्चा करने यहाँ आया हूँ। जबलपुर की प्रगति एवं विकास के लिये सभी के सहयोग से समग्र प्रयास किये जायेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान के समक्ष सर्वप्रथम नन्ही बालिका शैल्बी ने नगर को स्वच्छ बनाने के लिये वक्तव्य दिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उसकी बातों को ध्यान से सुना और सराहा। उन्होंने कहा कि जबलपुरवासी अपनी कॉलोनी, बाजार, क्षेत्र को स्वच्छ बनायें। इसके लिये प्रतिस्पर्धा हो। विभिन्न सामाजिक संगठनों ने घोषणा की कि वे जन-सहयोग से जबलपुर के सभी 35 चौराहों का सौंदर्यीकरण करेंगे और वहाँ प्रकाश सज्जा की जायेगी।

प्रभारी मंत्री श्री गोपाल भार्गव, सांसद श्री राकेश सिंह, विभिन्न जन-प्रतिनिधि, सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल