चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सारंग के आहवान पर उमड़ा जन-सैलाब

नर्मदा जयंती की पूर्व संध्या पर 11 हजार दीपों से हुई माँ नर्मदा की महाआरती पद-यात्रा कर नर्मदा परिक्रमा पार्क पहुँचे हजारों श्रद्धालु

चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग के आहवान पर नरेला विधानसभा में नर्मदा जयंती की पूर्व संध्या पर हजारों लोगों का जन-सैलाब हाथ में दीपक लिये अशोका गार्डन स्थित नर्मदा परिक्रमा पार्क पहुँचा। इस दौरान 11 हजार दीपों के साथ माँ नर्मदा की आरती की गई। यह मौका शुक्रवार शाम नर्मदा जयंती की पूर्व संध्या पर माँ नर्मदा की महाआरती एवं भजन संध्या का था। यहाँ शाम से ही श्रद्धालुओं के जुटने का सिलसिला शुरू हो गया था। मंत्री श्री सारंग की उपस्थिति में स्वास्ति-वाचन के साथ ही नर्मदा अष्टकम का पाठ शुरू हुआ। हजारों की संख्या में नरेला वासियों ने एक स्वर में माँ नर्मदा की स्तुति “त्वदीय पाद पंकजम्‌...नमामि देवी नर्मदे’’ का गायन किया, तो वातावरण नर्मदामय हो गया। कार्यक्रम में महापौर श्रीमती मालती राय उपस्थित थी।

यह हम सबका सौभाग्य कि माँ नर्मदा नरेला के हर घर में निवास करती है

मंत्री श्री सारंग ने कहा कि वर्ष 2008 के पहले नरेला विधानसभा में जल का भीषण संकट था। क्षेत्र के नागरिकों को पेयजल के लिये पानी के टैंकरों पर निर्भर होना पड़ता था। तब उन्होंने नरेला के हर घर में नर्मदा जल पहुँचाने का संकल्प लिया। जनता के सहयोग से यह संकल्प पूरा हुआ। आज यह हम सबका सौभाग्य है कि माँ नर्मदा नरेला के हर घर में निवास करती हैं। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा ने नरेला को जल-संकट मुक्त कर क्षेत्रवासियों की प्यास बुझाई है, यह सभी का कर्त्तव्य है कि हम माँ नर्मदा के प्रति अपनी कृतज्ञता ज्ञापित करें।

पदयात्रा कर हजारों की संख्या में नर्मदा परिक्रमा पार्क पहुँचे श्रद्धालु

मंत्री श्री सारंग के आहवान पर पिछले 3 दिन से नरेला विधानसभा अंतर्गत सभी 17 वार्ड में उप-यात्राएँ घर-घर से एक कलश नर्मदा जल संग्रहित कर रही थी। वहीं माँ नर्मदा जयंती की पूर्व संध्या पर हजारों की संख्या में श्रद्धालु अपने-अपने वार्डों से पद-यात्रा कर मुख्य आयोजन स्थल अशोका गार्डन नर्मदा परिक्रमा पार्क पहुँचे। सभी हाथों में कलश और दीपक लिये हुए थे। पद यात्राएँ डीजे, ढोल-मंजीरों के साथ पहुँची थी, मंगल-गीतों की धुन से वातावरण पूरी तरह भक्तिमय हो गया था। माँ नर्मदा की प्रतिमा पर कलशों से नर्मदा जल प्रवाहित करने के साथ ही जन-समूह नर्मदे हर का उद्घोष करने लगा। वहीं भजन संध्या में माँ नर्मदा के भजनों पर श्रद्धालु झूम उठे। मंत्री श्री सारंग ने हजारों की संख्या में उपस्थित नागरिकों का महाआरती में शामिल होने पर पुष्प-वर्षा कर आभार माना।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी