भारतीय विज्ञान कांग्रेस में पीएम मोदी बोले, विज्ञान के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी और बढ़ना चाहिए

 Indian Science Congress कोरोनावायरस की वजह से भारतीय विज्ञान कांग्रेस नहीं हो रहा था। आज 3 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 108 वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन किया। और कहाकि, स्टार्टअप इकोसिस्टम में दुनिया के टॉप 3 देशों में भारत भी है शामिल।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 108वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन करने के बाद कहाकि, आज का भारत जिस साइंटिफिक अप्रोच के साथ आगे बढ़ रहा है, हम उसके नतीजे भी देख रहे हैं। साइंस के क्षेत्र में भारत, तेजी से दुनिया के टॉप देशों में शामिल हो रहा है। 2015 तक हम 130 देशों की वैश्विक नवाचार सूचकांक में 81 नंबर पर थे और 2022 में हम 40 वें नंबर पर पहुंच गए हैं। पीएम मोदी ने कहाकि, महिलाएं हर क्षेत्र में अपना मुकाम बना रहीं हैं। पीएम ने उम्मीद जताई कि, विज्ञान के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी और बढ़ना चाहिए। कोरोनावायरस की वजह भारतीय विज्ञान कांग्रेस का आयोजन दो साल से नहीं हो रहा था।
भारत की वैज्ञानिक शक्ति की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण
भारतीय विज्ञान कांग्रेस के 108वें सत्र में पीएम मोदी ने कहाकि, अगले 25 वर्षों में भारत जिस ऊंचाई पर होगा उसमें भारत की वैज्ञानिक शक्ति की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होगी। विज्ञान में जोश के साथ जब देश की सेवा का संकल्प जुड़ जाता है तो नतीजे भी अभूतपूर्ण आते हैं। मुझे विश्वास है कि भारत की वैज्ञानिक समुदाय भारत को 21वीं सदी में वो मुकाम हासिल कराएगी जिसका वो हमेशा हकदार रहा है।
डेटा और तकनीक भारत की ताकत
पीएम मोदी ने कहाकि, 21वीं सदी के आज के भारत में हमारे पास दो चीज़े हैं-पहली डेटा और दूसरी तकनीक है। इन दोनों में भारत के विज्ञान को नई बुलंदियों में पहुंचाने की ताकत है। डेटा विश्लेषण की फील्ड तेज रफ्तार से आगे बढ़ रही है।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

सनातन संस्कृति की रक्षा में संतों का अद्वितीय योगदान है - मुख्यमंत्री डॉ. यादव