पृथ्वी शॉ ने 379 की तूफानी पारी खेल पहली बार तोड़ी चुप्पी, टीम इंडिया में चयन नहीं होने पर छलका दर्द

 Prithvi Shaw : पृथ्वी शॉ ने रणजी ट्रॉफी मुकाबले में असम के खिलाफ 379 रनों की तूफानी पारी खेलकर इतिहास रचते हुए सेलेक्टर्स को करारा जवाब दिया है। इस पारी के बाद पृथ्वी शॉ का बयान भी सामने आया है, जिसमें टीम इंडिया में चयन नहीं होने पर उनका दर्द छलका है। उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं सोच रहा कि कोई मुझे टीम इंडिया में बुलाएगा या नहीं। वह बस जीजों को ठीक करने का प्रयास कर रहे हैं।

prithvi-shaw-statement-againt-team-india-selectors-after-triple-century-in-ranji-trophy.jpg
Prithvi Shaw : भारत के युवा खिलाड़ी पृथ्वी शॉ ने पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए सेलेक्टर्स पर निशाना साधा है। पृथ्वी शॉ को करीब 2 साल से चयनकर्ताओं ने टीम इंडिया में नहीं चुना है, उन्होंने भारत के लिए आखिरी बार 2021 में श्रीलंका दौरे पर वनडे और टी20 सीरीज खेली थी। सेलेक्टर्स पृथ्वी शॉ को लगातार नजरअंदाज कर रहे हैं। इसी बीच पृथ्वी ने रणजी ट्रॉफी मुकाबले में असम के खिलाफ 379 रनों की तूफानी पारी खेलकर इतिहास रचते हुए सेलेक्टर्स को करारा जवाब दिया है। इस पारी के बाद पृथ्वी शॉ का बयान भी सामने आया है, जिसमें टीम इंडिया में चयन नहीं होने पर उनका दर्द छलका है।
पृथ्वी शॉ ने कहा कि मैं यह नहीं सोच रहा कि कोई मुझे टीम इंडिया में बुलाएगा या नहीं। वह बस उन चीजों को ठीक करने का प्रयास कर रहे हैं, जो वह कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह आगे बारे में नहीं सोच रहे हैं। वह ऐसे व्यक्ति हैं, जो हर दिन को जीना पसंद करते हैं। उन्हें बस अपना आज सही बनाना है। उन्होंने कहा कि फिलहाल उनका लक्ष्य मुंबई के लिए रणजी ट्रॉफी जीतना है।
'कभी-कभी हो जाते हैं निराश'

पृथ्वी शॉ ने आगे कहा कि कभी-कभी आप निराशा से भर जाते हैं। आप यह भी अच्छी तरह से जानते हैं कि आप चीजें ठीक कर रहे हैं। आपको पता होता है कि आप अपनी प्रक्रियाओं पर ठीक चल रहे होते हैं। आप अपने प्रति ईमानदार हैं और मैदान या उसके बाहर करियर के साथ अनुशासित रहते हैं। लेकिन, कभी-कभी लोग कुछ अलग तरह की बातें करते हैं, जो आपको जानते भी नहीं हैं और वे आपको आंकते हैं।

पृथ्वी शॉ ने साधा निशाना

बता दें कि टीम इंडिया चयन नहीं होने पर कुछ समय पहले ही पृथ्वी शॉ ने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक पोस्ट किया था और लिखा था कि आशा है कि साईं बाबा आप सब देख रहे हैं। रणजी 400 रन बनाने से चूकने पर पृथ्वी शॉ ने कहा कि वह 400 रन बना सकते थे। उन्हें लग रहा था कि वह वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन यह समय की बात है। जब बड़े रन नहीं आए तो सोचा कि क्रीज पर और अधिक समय बिताना चाहिए।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल