ओडिशा के सबसे लंबे पुल में भगदड़, 1 की मौत, कई घायल

 ओडिशा के सबसे लंबे पुल में मकर संक्रांति के मौके पर 2 लाख से अधिक लोग एकत्रित हुए थे, जहां भगदड़ मचने से 2 लोगों की मौत हो गई है। वहीं कई लोग गंभीर व सामान्य रूप से घायल हो गए हैं।

at-least-2-feared-dead-10-hurt-as-odisha-s-longest-bridge-sees-stampede.jpg
At least 2 feared dead, 10 hurt as Odisha's longest bridge sees stampede
ओडिशा के प्रसिद्ध मकर मेले के दौरान कटक जिले के अथागढ़ में बदांबा-गोपीनाथपुर टी-पुल पर आज भगदड़ मचने से 1 लोगों की मौत हो गई। वहीं महिलाओं और बच्चों सहित कम से कम 10 से 15 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आठगड़ के सब कलेक्टर हेमंत कुमार स्वैन ने कहा कि "जब भगदड़ मची तब पुल पर 2 लाख से अधिक लोग थे। भीड़ हमारी उम्मीद से ज्यादा थी। इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई।" घायलों को कटक शहर के एससीबी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ले जाया गया है। मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कुछ बच्चे गंभीर रूप से घायल हुए हैं। 3.4 किलोमीटर का यह पुल ओडिशा का सबसे लंबा नदी पुल है। भगदड़ की घटना की उस समय हुई जब श्रद्धालु महानदी के एक द्वीप स्थित मंदिर में भगवान सिंहनाथ के दर्शन के लिए आगे बढ़ रहे थे।
ओडिशा के बारंबा अस्पताल के डॉ रंजन कुमार बारिक ने बताया है कि कटक के बारंबा में सिंहनाथ मंदिर में मकर मेले के दौरान मची भगदड़ में एक की मौत हो गई है, जबकि 9 घायल हो गए हैं। 3 को कटक के दूसरे अस्पताल में रेफर किया गया है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट में घायलों की संख्या ज्यादा बताई जा रही है, जिसमें गंभीर रूप से घायलों की संख्या भी अधिक बताई जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल