प्रधानमंत्री श्री मोदी से मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नई दिल्ली में की भेंट

 प्रवासी भारतीय सम्मेलन, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट, जी-20 समिट और खेलो इंडिया यूथ गेम्स के आयोजन सहित जन-कल्याणकारी योजनाओं पर हुई चर्चा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री से ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के वर्चुअल उद्घाटन का किया अनुरोध फ्लोटिंग सोलर प्लांट के लोकार्पण का भी किया आग्रह


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से नई दिल्ली स्थित उनके निवास 7-लोक कल्याण मार्ग पर भेंट कर मध्यप्रदेश के विकास और जन-कल्याण से जुड़े सम-सामयिक विभिन्न विषय पर चर्चा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जनवरी 2023 में इन्दौर में होने वाले प्रवासी भारतीय सम्मेलन और ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट, जी-20 समिट की बैठकों और मध्यप्रदेश में खेलो इंडिया यूथ गेम्स के आयोजन पर चर्चा कर प्रधानमंत्री श्री मोदी से मार्गदर्शन प्राप्त किया।

प्रधानमंत्री श्री मोदी से सार्थक चर्चा के बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 8, 9 और 10 जनवरी, 2023 को इंदौर में होने वाले प्रवासी भारतीय सम्मेलन के तीन दिवसीय कार्यक्रम का उद्घाटन प्रधानमंत्री श्री मोदी करेंगे। सम्मेलन में आ रहे 80 से अधिक देशों के प्रतिनिधि का स्वागत मध्यप्रदेश की परम्परा के अनुकूल किया जायेगा। श्री चौहान ने बताया कि 11 और 12 जनवरी, 2023 को होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में गुयाना और सूरीनाम के राष्ट्रपति सहित लगभग 68 देशों के मंत्री, राजनयिक, उद्योगपति और प्रतिनिधि-मंडल भाग लेंगे। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी से समिट का वर्चुअल उद्घाटन करने का अनुरोध किया। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को जी-20 की मध्यप्रदेश में आयोजित होने वाली 8 बैंठकों और खेलो इंडिया यूथ गेम्स के आयोजन की तैयारियों से अवगत कराया और उनका मार्गदर्शन प्राप्त किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को प्रदेश में लागू किये गये पेसा अधिनियम के बारे में अवगत कराया। श्री चौहान ने मध्यप्रदेश के जनजातीय भाई-बहनों को जंगल, जमीन और जल पर अधिकार और उनकी संस्कृति और परम्पराओं को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिए प्रदेश में पेसा अधिनियम के अंतर्गत बनाये गये नियमों की जानकारी भी प्रधानमंत्री श्री मोदी को दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को बताया कि फ्लोटिंग सोलर प्लांट ओंकारेश्वर में बांध के ऊपर सोलर पैनल बिछा कर सौर ऊर्जा उत्पन्न की जायेगी। प्लांट से जमीन भी बचेगी और पानी का वाष्पीकरण भी कम होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी से इस परियोजना के लोकार्पण करने का आग्रह किया। प्रदेश के 53 हजार किसानों द्वारा की जा रही प्राकृतिक खेती के बारे में भी मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को अवगत कराया। विकास से जुड़ी प्रदेश की विभिन्न योजनाओं के संबंध में प्रधानमंत्री श्री मोदी से प्राप्त हो रहे मार्गदर्शन और सहयोग के लिए श्री चौहान ने प्रधानमंत्री का आभार माना।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

प्रदेश के सभी जिलों को एयर एंबुलेंस सुविधा दिलाने के लिए होगी पहल