सवालों में भविष्य:140 नर्सिंग कॉलेजों के 15 से ज्यादा कोर्स अमान्य, 10 हजार से ज्यादा छात्र अधर में

 


मप्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर से जुड़े मप्र के 140 नर्सिंग कॉलेजों के 15 से ज्यादा कोर्स की 2020-21 की संबद्धता अमान्य हो गई है। इससे 8 से 10 हजार छात्र-छात्राओं का भविष्य अधर में अटक गया है। इन कॉलेजों ने मान्यता की शर्तें पूरी नहीं की। साथ ही निरीक्षण में कई कॉलेज प्रावधानों के अनुसार शर्तें पूरी नहीं कर सके। जिन कॉलेजों की संबद्धता अटकी है, इसमें भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर के साथ तीस जिलों के कॉलेज शामिल हैं।

विवि की कार्य परिषद की एक दिसंबर को हुई बैठक के मिनिट्स हाल ही में जारी हुए हैं। इसके बाद से ही कॉलेज सकते में हैं। सूत्रों का कहना है कि इस स्थिति के बाद कई कॉलेजों ने संबद्धता की शर्तें पूरी करने का भरोसा दिया है। इसके बाद अब विवि प्रशासन और राज्य सरकार सशर्त अनुमति देने पर विचार कर रहे हैं। हालांकि उन कॉलेजों की संबद्धता पर कोई विचार नहीं होगा, जिन्हें पहले ही ताकीद की जा चुकी है।

जबलपुर के कॉलेज

गजानन पैरा मेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस - 34
देवछवी कॉलेज ऑफ लाइफ साइंस - 36
एमके पैरा मेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस - 47
लक्ष्मी बाई साहू जी इंस्टीट्यूट ऑफ पैरामेडिकल साइंसेस - 4
इंदौर के कॉलेज

कोर कॉलेज ऑफ नर्सिंग एंड पैरामेडिकल -50
समर्पण कॉलेज ऑफ नर्सिंग - 204
विक्रांत इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग एंड साइंस - 30
देवी अहिल्या नर्सिंग कॉलेज एंड एसोसिएट्स हॉस्पिटल - 40
अन्य जिलों के कॉलेज

मारुती इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग साइंस, सिवनी - 218
मारुती कॉलेज ऑफ नर्सिंग, बैतूल - 60
निशा इंस्टिट्यूट ऑफ नर्सिंग साइंस एंड रिसर्च सेंटर सीहोर- 40
वीर नारायण इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग एजुकेशन, छिंदवाड़ा - 30
दिव्य ज्योति नर्सिंग कॉलेज, सीधी- 30
श्री विनायक नर्सिंग कॉलेज, रतलाम - 60
चंद्रशेखर कॉलेज ऑफ नर्सिंग, सतना- 30
हिंदुस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग मुरैना - 20
बाबुलाल तारा बाई इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग साइंसेस सागर - 80
साईनाथ स्कूल ऑफ नर्सिंग, सिंगरौली - 60
शारदा देवी नर्सिंग कॉलेज, शहडोल - 45
विवेकानंद नर्सिंग कॉलेज, भिंड - 30
विजयाश्री एजुकेशन इंस्टीट्यूट मेडिकल साइंस, जबलपुर - 30
सुशीला नर्सिंग कॉलेज सीहोर - 30
मां कृष्णा नर्सिंग कॉलेज भिंड - 30
एनआई कॉलेज छिंदवाड़ा - 85
श्री निमाड़ कॉलेज ऑफ पैरामेडिकल साइंस कुक्षी - 48
सेंट जोसेफ कॉलेज शुकवारी, सीधी - 70
अपोलो कॉलेज छिंदवाड़ा - 23
मां पीतांबरा पैरामेडिकल कॉलेज, आगरमालवा - 78
राधादेवी रामचंद्र मंगल इंस्टीट्‌यूट भाटखेड़ा नीमच - 32
लक्ष्मण सेठ पैरामेडिकल कॉलेज शिवपुरी - 21
उत्कर्ष पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट बालाघाट - 21
श्री रावतपुरा सरकार कॉलेज ऑफ नर्सिंग दतिया - 100
अपेक्स स्कूल ऑफ नर्सिंग भिंड - 65
मधुबन स्कूल ऑफ नर्सिंग बड़वानी - 110
एसएके मेमोरियल इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग छिंदवाड़ा - 150
साईं कॉलेज ऑफ नर्सिंग खंडवा - 150
केयर स्कूल नर्सिंग कॉलेज मंडला - 30
फ्लोरेंस नाइटिंगेल स्कूल ऑफ नर्सिंग उज्जैन - 40
मप्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर से जुड़े हैं ये कॉलेज

कॉलेजों की संबद्धता का आवेदन नहीं लेंगे

विवि की कार्यपरिषद ने यह भी तय किया है कि भविष्य में सत्र 2018-19, 2019-20 और 2020-21 की संबद्धता का न कोई आवेदन लिया जाएगा और न ही किसी प्रकरण पर विचार होगा। 2022-23 की संबद्धता का कैलेंडर भी जल्द जारी होगा।

कॉलेजों में ‘मे आई हेल्प यू’ बोर्ड लगेगा

मप्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलसचिव द्वारा जारी मिनिट्स में यह स्पष्ट किया गया है कि कॉलेजों में ‘मे आई हेल्प यू’ का बोर्ड लगेगा। शासकीय स्वशासी आयुर्वेद महाविद्यालय एवं चिकित्सालय इंदौर के डी फार्मा प्रथम वर्ष सत्र 2019-20 की संबद्धता भी अमान्य की गई है।

इसमें सबसे ज्यादा कॉलेज ग्वालियर के, यहां 2 हजार सीटें फंसी

ग्वालियर के कॉलेज

अभिषेक नर्सिंग कॉलेज- 60
एडीएस कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 160
दयाल कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 90
जेबी इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग- 60
केएस नर्सिंग स्कूल- 140
इंद्रप्रस्थ नर्सिंग कॉलेज- 30
रतन ज्योति पैरामेडिकल- 6
महाराणा प्रताप कॉलेज- 80
ग्रंथम कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 119
कामतानाथ स्कूल ऑफ नर्सिंग- 70
दि एकेडेमी ऑफ नर्सिंग साइंसेस- 40
श्री वैंकटेश एजुकेशन एकेडेमी- 120
बीआईएमआर कॉलेज ऑफ- 136
वीआईएसएम कॉलेज ऑफ- 8
अवध माधव स्कूल नर्सिंग- 165
वीआईपीएस कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 208
प्रेस्टन स्कूल ऑफ नर्सिंग- 170
विजयालक्ष्मी कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 150
सोफिया नर्सिंग कॉलेज- 230
भोपाल के कॉलेज

अकादमी ऑफ नर्सिंग- 125
आरएमडी इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग- 80
सांई आसरा कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 30
पीबीजीएम नर्सिंग कॉलेज- 40
कैरियर कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 100
पाराशर नर्सिंग महाविद्यालय- 230
थ्री एम पैरामेडिकल कॉलेज- 79
गणपति नर्सिंग कॉलेज- 60
एपीएस अकादमी नर्सिंग साइंस- 30
मिलेनियम इंस्टीट्यूट- 43
स्नेह इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग- 40
मलय कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 30
ट्रिनिटी इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग- 30
द हॉलिफेथ इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग- 60
वीनस कॉलेज ऑफ मेडिकल- 50
जेएसआर ग्लोबल ऑफ नर्सिंग- 30
रामराजा कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 30
वैष्णवी पैरा मेडिकल कॉलेज- 4
श्रीराम कॉलेज ऑफ नर्सिंग- 30
इन 15 से ज्यादा कोर्स की संबद्धता अटकी

बीएससी नर्सिंग और पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग के साथ 15 से ज्यादा कोर्स ऐसे हैं, जिनकी 2020-21 की संबद्धता अमान्य की गई है। प्रमुख कोर्स में कम्यूनिटी हेल्थ नर्सिंग, चाइल्ड हेल्थ नर्सिंग, मिडिकल सर्जिकल नर्सिंग, मेंटल हेल्थ नर्सिंग, ओबीजी, डीएमएलटी, डीएक्सआरटी, डिप्लोमा इन आयुर्वेद फॉर्मेसी, बीएमएलटी, एमएससी नर्सिंग, पीडियाट्रिक, एमएमएलटी (हिमैटोलॉजी),एमएमएलटी (बायोकैमिस्ट्री), बीपीटीएच, डिप्लोमा डायलिसिन आदि शामिल हैं।

Comments

Popular posts from this blog

स्व. श्री कैलाश नारायण सारंग की जयंती पर संपूर्ण देश में मना मातृ-पितृ भक्ति दिवस

श्री हरिहर महोत्सव समिति के अध्यक्ष बने राजेंद्र शर्मा

कोविड-19 महामारी में बचाव कार्य करने वाले समस्त कोविड स्टाफ को बहाल किया जाए एवं संविदा नियुक्ति दी जाए:- डॉ सूर्यवंशी