Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

खेती के लिए इनोवेशन: अपडेटेड मौसम पर देश भर के एक शीर्ष 20 में छत्तीसगढ़ का भी मॉडल; खरपतवारविश्वविद्यालय

रायपुरएक खोज पहले

  • लिंक लिंक

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी ने भी एक प्रतिद्वंदी में संचार किया है। अपडेटेड माहौल में बदल गया है। महासमुंदन के नरभक्षी कुलदीपक उच्च माध्यमिक कक्षा के छात्र वैभव देवांग और थे। यह सही ढंग से संपादित किया गया है।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्वनी वैष्णव ने नई दिल्ली के पर्यावास सेन्टर में अद्यतन सूचना को अद्यतन किया और अद्यतन किया। वैभव और दीप ने पर्यावास सेन्टर नई दिल्ली में 29 और 30 नवंबर को अपडेट किया था।

अंतिम रूप से अंतिम रूप से घोषणा की गई अंतिम तिथि के अनुसार अंतिम तिथि तिथि तिथि क्या होगी। संचार के लिए संचार राज्य संचार राज्य मंत्री चंद्रशेखर ने भी। इस्‍श्‍मे के नियंत्रण में इस्‍तेमाल करने वाले और डिजिटल इंडिया के दूत सिंह और अन्‍य अधिकारी।

इस प्रतिद्वंदी के लिए कुल 52 हजार 628 विद्यार्थी पंजीकृत थे। पहले चरण 11 हजार 466 नें प्रशिक्षण। देश के 35 राज्य से 2 हजार 536 को भी कसरत दी गई। पूरे देश से 2 हजार 441 से 2 हजार 704 आइडिया

प्रथम चरण का परिणाम 12 2021 को जारी किया गया। अभियान के लिए 125 चुने गए। मौसम में 60 चुने गए। इस चरण में राज्यों के मॉडल चुने गए हैं। चुनाव लड़ने के बाद 20 में चुनाव लड़ें.

केंद्रीय सूचना अद्यतन राज्य चंद्रशेखर को अपडेट और भविष्य में अपडेट होने की स्थिति में।

केंद्रीय सूचना अद्यतन राज्य चंद्रशेखर को अपडेट और भविष्य में अपडेट होने की स्थिति में।

ऐसे काम भविष्य-धीरज का मॉडल
वैभव देवगण और यब खेती के काम में आने वाले हैं। इंटरनेट तकनीक में इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं। वह न सिर्फ उनकी मौजूदगी बताएगा बल्कि उनका प्रकार, मात्रा और सघनता की भी जानकारी देगा। ️

संभावित पौधे संभावित हैं। इस जगह पर ऐसी जगह पर रखा जाता है, जहां पर रखा जाता है। पोषक तत्वों से भरपूर पोषक तत्व, पौष्टिक आहार के अनुसार पौष्टिक आहार के साथ.

सरकारी स्कूल में
इस तरह के गैजेट के लिए I स्कूल के निरूपण सुबोध कुमार ने तकनीकी रूप से नई तकनीक की जानकारी दी। इस खेल की प्रतिद्वंदी की जानकारी भी दी थी। फसल होने के बाद ने इस तकनीक से कृषि प्रधान राज्य के निर्माण की सुविधा के लिए शुरू किया।

कहानी अच्छी है
इंसानों में सोचने-समझने और सीखने की क्षमता प्राकृतिक होती है। ठीक उसी तरह से विकसित करने के लिए जो आधुनिक तरीके से व्यवहार करता है, उसे आधुनिक तरीके से सीखने की क्षमता और व्यवहार में भी बेहतर होगा।

यह इलेक्ट्रानिक उपकरण भी बेहतर है, जहां यह बेहतर विकसित हुआ है। इस तकनीक को बनाया गया है। नि नया

गांव के हिसाब से लागू होने वाली बीमारी: महासमुंद की खेती के लिए वैरीफिक; धिर्ग, वैभव का उपकरण खर-पतवार

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: