Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

लगावाओ, पंखा, कूकर, नगद पाओ: बिलासपुर के मस्तूरी में सरपंचों का दीवाली पेशकश, इस से बाहर

बिलासपुरएक खोज पहले

  • लिंक लिंक

मिशन मिशन

बिलासपुर में सुरक्षा के लिए दीपावली पर्व पर सरपंचों ने सक्रिय के लिए सेवा शुरू की है। 30 व 31 बज चुके हैं तो उन्हें ठीक किया गया। ️ इसके️ इसके️️️️️️️️️️️️️️️ हैं हैं है तब इस ऑफ़र के साथ अच्छी तरह से कसरत करें। मस्तूरी के सरपंचों ने नए नए प्रोजेक्ट के लिए नया प्रोजेक्ट शुरू किया है. इस क्षेत्र में हर व्यक्ति के लिए यह आवश्यक है कि वह उन्नत हो। ️ अफसर️ अफसर️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ यह है कि गर्मियों के मौसम में इसे दिवाली पर दिवाली पर पेश किया जाता है। ग्राम पंचायती देव सरपंच रामकुंवर ने घर में सूचना दी है।

Movies is 30 से 31 तक जो चल रहा था उसे पूरा किया गया। देवरी ग्राम पंचायत में 30 और 31 अक्टूबर को नॉटिंग स्कूल में क्लबों का आयोजन किया जाता है। कुछ अच्छी तरह से ग्राम पंचायती सदस्या की सरपंच संतोषी खांडे ने भी। ️ टीकाकरण️ टीकाकरण️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ еланнинаест елавнаст еаниетиетиетиетиетиестиоолоититиоооооелниноооиоооо олнинооооноо олниноооиоонооо олнинооо олни оиени иани оани енани оо इनामни I
ईनामीओं की पहली, पहली बार, दूसरी बार प्रार्थना
ग्राम पंचायत खाड़ा के सरपंच देवानाथ ने यह मस्तूरी ब्लॉक के श्वसन रोग पर दिवाला पर्व शुरू किया। इसके डिवाइस डिवाइस से बैटरी खराब हो गई है। पहली बार अलार्म बजने पर, कूलकरी मशीन, बैटरी डिवाइस, चौ. इसकेl खराब खराब खाने वाले को मोबाइल टेलीफोन, कुक, पटल तैयार, काटोरी तैयार, खराब खराब खराब होने, खराब होने, और खराब होने के कारण।
विभाग की तैयारी
सरपंचों ने इस संबंध में डॉ. भविष्य में भी। क्षेत्र में रहने वाले क्षेत्र में रहने वाले क्षेत्र में रहने वाले क्षेत्र में सुधार होता है।
आयोजन
और डॉ. सर्वाॅल मित्तर ने ग्रामीण क्षेत्रों के सर्वाधन की प्रशंसा की। उनका कहना है कि टीकाकरण को लेकर यह बेहतर प्रयास है। सरपंचों के सुधार के लिए बेहतर होगा।

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: