Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

दुर्गातेत्सव की धूम: गाएल्डन तेंतपल व गैस से सजे पंडालो में विराजिंग माता

रायगढ़२ घंटे पहले

  • लिंक लिंक

मन्नत को समर्पित समलेश्वरी मंदिर अपनी संपत्ति में कोनी के साथ भूमि नापते हैं।

  • सप्तमी पर बैत्सव की पूजा, पूजा से लेकर समाज के लोगों ने सप्तमी

सप्तमी पर दुर्गागृह की शुरुआत। अलग-अलग चौका-चौराहों पर आकर्षक रूप से बनाए गए पॉन्डा में मां दुर्गा की मूर्ति विराजी है। कोरोना की गाइडलाइन करते हुए पंडालों की आकार ज्यादा बड़े नहीं रखे गए पर शहर की सड़कों को आकर्षक झालरों से सजा दिया गया। इससे वहां से गुजरने वाले लोगों को डेढ़ साल पहले के दुर्गोत्सव की याद दिला दी।

‍ बांढ्‍़डों की रक्षा करने के लिए हों

इसका पालन करते हुए भी समितियों ने पंडालों और आसपास के क्षेत्र के सजावट में कोई कमी नहीं छोड़ी है। शाम मंदसौर चौक चौकों की स्थापना की स्थापना की गई है। पंडाल में पंखे लगाने के लिए उचित शुल्क के साथ पूजा के बीच में पंडाल में पेंटे लगाने का डिस्प्ले लगाया जाता है।

बंडी समाज: मंगलवार की शाम विराजी माता दुर्गा

बुनी समाज ने मंगलवार को को षष्ठी की स्थापना की। संकटकाल के समाज के लोग काली रात और स्टेशन के सप्तमी पूजा की। मूवी महिला- पुरुष वर्ग के परिवार में शामिल शामिल हैं।

फूल और मोर की स्थापना की स्थापना
रामनिवास टकटक के पास पंडाल को डाईट का रूप दिया गया है। दैवीय संघटन की शक्ति प्रबलता से प्रबल होती है। कोटावली के फूल की रोशनी ने एलईडी और बल्म से पंडा की रोशनी की है।

अधिकतर
दुर्गा उत्सव पर लागू होते हैं। हंडी चौक, गांधीगंज, केवड़ाबाडी चौक चौकाड चौराहों पर द्रष्टागंघर का दृश्‍य दृश्‍य है। स्वास्थ्य देखभाल के साथ देखभाल करने के लिए देखभाल की देखभाल करना।​​​​

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: