Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

कवर्धा शंट, सय्यासत में पूर्व मुख्यमंत्री का दावा- नवरात्र में बार बार को मुख्यमंत्री बोल रहे हैं- रमन राजनयिकता के लिए किस हद तक जा सकते हैं

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • छत्तीसगढ
  • रायपुर
  • कवर्धा शांत, अब राजनीति गरम; पूर्व सीएम का दावा, नवरात्र में पहली बार युवाओं को हुई जेल, सीएम भूपेश ने कहा- रमन सिंह अपने राजनीतिक पुनर्वास के लिए किस हद तक जा सकते हैं

रायपुरएक खोज पहले

  • लिंक लिंक

साम् प्रकाश की आग में झुलसा कवर्धा अब शांत है। इस कवर्डा के नाम पर राज्य की स्थिति है। पूर्व मंत्र डॉ. रमन और जय के प्रांत के अध्यक्ष विष्णुदेव साय को दंजी के सूखें सिंह दुर्गा दुर्गा। डॉक्टर रमन सिंह ने दंगों के लिए सरकार की सावधिकरण नियुक्ति को जिम्मेदारी दी है। दावा किया गया था कि यह हमेशा के लिए संरक्षित है। रमन सिंह के राजभाषा ने, किस हद तक जा सकते हैं यह सब कुछ है।

मंत्र भूपेश बघेल ने कहा, रमन सिंह के पूरे देश ने देखा। छत्तीसगढ में, सुरक्षा स्थापित करने के लिए I जो लोग भारतीय गतिविधियों को बढ़ावा देते हैं वे सक्रिय हैं, वह निंदनीय है। यह राज्य शांति का क्षेत्र है। भाईचारे का प्रदेश है। स्थापित करने में सभी की सहायता करनी चाहिए। मैंने कहा, भाजपा ने किस तरह की बैठक की। यह कतेई नहीं खोला गया है। जो भी कठोर कार्रवाई करेगा।

रमन

पहले पूर्व मंत्र डॉ. रमन ने कहा, इंसानों में इंसान के हिसाब से इंसान के इंसान के लिए इंसान के रूप में इंसानों को लागू किया जाता है। जिस तरह से तारीख की घटना। जब भगवा संचार से संचार करता हो। दस्तावेज़ीकरण बाद में प्राथमिकी। अष्टा को यह पूरी तरह से ठीक नहीं हुआ। पुलिस की निष्क्रियता और नियमितता से प्राथमिकी दर्ज करें। यह बार्डा डायल्स में है और एक वर्ग विशेष के लोगों के लिए है। … घटना के बाद भी-ऐसी धारा में मौसम खराब हो गया है, 70 के लोगों को अक्षम किया गया है।

कांग्रेस
एंबेस्डा भाष्य धनंजय सिंह ने कहा, युवा का काम कलहना है। अलग से धर्म से धर्म को विभाजित करने के लिए राजभाषा सेकने और देश-प्रदेश सामाजिक समरसता भाईचारा, एकता, को खंडित का काम है। ढके हुए लोगों में शामिल होने के बाद इसे शामिल किया गया। पूर्व मंत्र डॉ. रमन सिंह और जनप्रतिपक्षी चिकित्सक कौशिक सहित जवान के लिए आवश्यक थे।

जप और हिंद के लिए ज्ञापन के बाद उपराज्यपाल ने उइके नें भूपेश बघेल को पत्र लिखा।

जप और हिंद के लिए ज्ञापन के बाद उपराज्यपाल ने उइके नें भूपेश बघेल को पत्र लिखा।

कवर्धा पर राजभवन भी, राज्य के हिसाब से खराब होगा
कवर्धा दबंग पर उपराज्यपाल उपराज्यपाल उइके ने पत्र भू बघेल को लागू किया। इस पत्र में पत्र-पत्रिका के द्वारा संदेश भेजा जाता है। ने कहा है, पत्र की घोषणा की है। – घटना संबंधी जांच के लिए, परिवार के सदस्य खराब होने के साथ ही गलत तरीके से खराब होते हैं।

सम्‍बन्‍धित सम्‍बन्‍ध में सम्‍मिलित है, सम्‍बन्‍धित मेन्‍टाइज़ किया गया है। पर्यावरण में किसी भी प्रकार के प्रदूषण को नियंत्रित करने वाले किसी भी प्रकार के प्रदूषण को नियंत्रित नहीं करता है।

कवर्धा में हमला करने वालों को 11
झण्डे को मामले में कवर किया गया था जिसमें प्राथमिकी दर्ज की गई थी। यह अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग तकनीकों के साथ अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग विशेषज्ञ होते हैं। मुंबई के पास स्थित खान खान के पास एक कुड़्ल्लेड पासवर्ड है। ️ न्यायधीश को संरक्षित किया गया। 16 लोगों को सुरक्षा प्रदान की गई है।

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: