Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

,

रायपुर13 पहला

  • लिंक लिंक

बृहतस्पर्शोन्मुख खानपान के एक गुट के साथ खानपान की है।

. Movie बलरामपुर-रामानुजगंज में एक सहायक खंड शिक्षा अधिकारी (ABEO) को डायरेक्ट करने के लिए। शिकायत करने वाले अधिकारी ने शिकायत की है कि वे किस प्रकार के आधार पर चुनाव करेंगे, बात पर विधायक भड़ गए। यह भी कहा गया है।

रामानुज से विधायक बृहस्फत सिंह ने ABEO शिक्षा को एक को कहा था। लेकिन जिला शिक्षा अधिकारियों ने. भड़काने वाले सदस्यों ने रिपोर्ट की बात की गई। यह भी कहा गया है कि जिला शिक्षा अधिकारी अब आदेश के आदेश को चुनौती दे रहे हैं। घटना कालक्रम है,

दैनिक भास्कर से डीलिंग में बलरामपुर-रामानुजगंज के जिला शिक्षा अधिकारी बी. एक बजे, 19 सदस्य जी का टेलीफोन था। वे एक ABEO को मिटाना है। बी.ए. शिक्षा अधिकारी ने, “विविधानिक बार-बार-अधिनियम के आदेश का अधिकार दिया। यह कहा जाता है, “प्रचलित बातचीत कैसे होती है, इस बीच बातचीत होती है।’ विधायक बृहत सिंह इस समय प्रदर्शन कर रहे हैं।

विधायक और डीईओ के बीच इस तरह का व्यवहार

बृहस्पत सिंह – हां डियो साहब!
डीईओ- नमस्कार!

बृहस्पत सिंह– ये एबीईओ सुपुर्द किया गया था?
डीईओ- नहीं-नहीं, ऐसा नहीं है!

बृहस्पत सिंह– एम यार, किसको रखना या रखना।
डियो-, ऐसा नहीं है। शिकायत

बृहस्पत सिंह– मुझे समझ नहीं आया ना। आप ठंड कर रहे हैं।
डियो– कभी भी दर्ज नहीं होगा।

बृहस्पत सिंह– मुझे समझ नहीं आया। आप कर पाओगे, भेज .
डीईओ- मैं अपेक्षित हूँ!

बृहस्पत सिंह– लगभग फिर भी। पहली बार आपको ही हटा लेते हैं ज्यादा नेतागीरी पेल रहा है तो।
डीईओ- नमस्कार नमस्कार!

बृहस्पत सिंह– अधिकारियों का काम है कि जनसुनवाई पूरी हो चुकी है.
डीईओ- मुझे पता है।

बृहस्पत सिंह– और क्या कर रहे हो। ये क्या कर रहे हैं?
डीईओ- मैं जनवादीरी कर रहे हूँ?

बृहस्पत सिंह– मैं बोल रहा हूँ। जब मैं आपका परीक्षण करूँ तो मैं आपको खुश कर सकता हूँ।
डीईओ- वह भी ना।

बृहस्पत सिंह– आप संकेतकों की गणना करते हैं। रिजर्वेशन हो। टिप्पणी कम है?
डीईओ- कौन बोला है?

बृहस्पत सिंह- मैं पूछ रहा हूँ।
डीईओ- समाचार पत्र।

बृहस्पत सिंह– फिर भी, वह क्या है?
डीईओ- ठीक नहीं है.

बृहस्पत सिंह– फिर, मिटाना नहीं है? कार्य आदेश को चुनौती?
डीईओ- कोई शिकायत नहीं है।

बृहस्पत सिंह– सुना या, आपने आदेश दिया। आज के आदेश को चुनौती।
डीईओ- आदेश आदेश का?

बृहस्पत सिंह– आप समाचार से बात करें। आदेश के आदेश को चुनौती नहीं दी जाती है।​​​
डीईओ- कौन चुनौती दे रहा है?

बृहस्पत सिंह– (एक तरह से किसी से) डीईओ का नोट बनाने वाला। चुनौती को चुनौती दे रहा है डीईओ। जिला प्रशासन ने लागू किया है।

(करीब डीडेड की आपदा की कालक्रम का लेप्यण)

ABEO को मिटाना
जिला शिक्षा अधिकारी बी. एक बार फिर से सख्त। बाद में ABEO प्रभु एक को हटा दिया गया। विशेष रूप से इस विषय पर।

कुछ दिन पहले
विधायक बृहत सिंह ने दो दिन पहले ही स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेम सिंह टेकाम पर हमला करने की स्थिति में उनका कहना था, मंत्री के यहां से उनकी मांगों की सुनवाई नहीं हो रही है। एक सिंधी काम कर रहा है। इस प्रकार से. I जो हो रहा है वह तालमेल के आधार पर। मंजूरी दी गई है।

धूल उड़ने की भविष्यवाणी की थी
दो बृहत सिंह ने बलरामपुर-रामानुज गंज के बल प्रफुल्ल रजक को पतला किया। महत्वपूर्ण बलपुर के दलको में मछली के पटटे को सफेद रंग में रखा गया था। मिसाइल ने भविष्यवाणी की थी। युवा भी कॉल करें। काफी आलोचना के बाद भी विधायक का रवैया नहीं बदला।

सिंहदेव बैटरी
बृहस्फत सिंह ने नवंबर में स्वस्थ होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम किया था। इस विज्ञापन नें भविष्य की तारीख तक आयु वर्ग। सिंहदेव ने घर छोड़ दिया। बाद में बृहत सिंह ने अतिरिक्त वृद्धि की। अहमदाबाद में.

सरगुजा के महाप्रबंधक समाज को भी अपशब्द
खुद के आने से पहले ही आने वाले बृहस्फत सिंह किसी भी प्रकार के असामान्य होने वाले थे। समाज को चालू किया गया। जप ने आरोपित के पास जमा कर दिया है। पेशेंट की। वैश्विक जांच बृहत सिंह ने सर्वजन सोसाइटी की एक बैठक में भाग लिया।

कांग्रेसनद विधायक ने नये नोटों के डिब्बे दीं, आँगडा:तालाब के पट्‌टे के लिए बृहस्पत सिंह बलरामपुर-रामानुजगंज के पोस्ट से टेलीफोन ने कहा- खराब जूते हो गए।

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: