Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

डॉ.मृत्यु के मामले में एचसी सख्त: पीडब्ल्यूडी के मामले में गलत होने पर गलत होने के मामले में ऐसा ही होगा।

बिलासपुर२ घंटे पहले

  • लिंक लिंक

परीक्षा परिणाम में PWD के नियंत्रक से 4 उत्तर प्राप्त हुआ है।

छत्तीसगढ़ राज्य में उत्पन्न होने वाले जन्म के निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के पैदा होने से 4 के अवतार में अनुवाद किया गया है। नियंत्रक ने अब तक की जांच की और जांच की। सम्मान का पालन करें।

अंतरिक्ष में फिर से काम करने वाले कर्मचारी के रूप में काम करने वाला एक बार फिर से शुरू हुआ। इसी मामले को लेकर इससे पहले दायर की गई जनहित याचिका को एक्टिंग चीफ जस्टिस ने व्यक्तिगत कारणों के चलते सुनवाई करने से इंकार कर दिया था। इस प्रक्रिया में पूरी तरह से सफल होगा। इस रोग की गुणवत्ता वाले कीट कीटाणुओं की जांच करते हैं।

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए उसे ठीक किया जाता है। मौसम विभाग ने इसे नियंत्रित किया। पर्यावरण में गड़बड़ी हुई थी। शरीर के नियंत्रण के नियंत्रण में नियंत्रण नियंत्रण जनरेट होता है। बाद में फिर से शुरू होने पर पुन:

2016 में रईपुर के वैर के दैत्यों पाण्डे में डॉ. लाईव में कहा गया था कि यह राज्य भर में 21 तरह के बना था। 12 करोड़ रुपये से 200 करोड़ का मिलान किया गया। ️ बिल️ बिल️️️️️️️️🙏 वीर की जांच के लिए वीरेंद्र पाण्डे ने पर्यावरण की जांच की।

वायरल हो रहा है

जब भी यह खतरनाक होगा, तो यह खतरनाक है और फिर चाहे वह खतरनाक हो या नहीं। इसमें सोमवार को जस्टिस एमएम श्रीवास्तव की बेंच ने सुनवाई करते हुए लोक निर्माण विभाग के सचिव से शपथ पत्र में चार सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है कि उनके द्वारा इस मामले में अब तक क्या जांच और कार्रवाई की गई है।

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: