Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

️️️️️️️️️️️️ भतीजे शौर्यप्रताप ने दी मुखाग्नि

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • छत्तीसगढ
  • युद्धवीर सिंह जुदेव के अंतिम संस्कार में उमड़ी भीड़; छत्तीसगढ़ जशपुर बीजेपी के पूर्व विधायक युद्धवीर सिंह जुदेव की लीवर इन्फेक्शन से मौत

जशपुर28 पहला

युद्धवीर सिंह जूदेव की अंतिम यात्रा में वे कौन थे।

छत्तीसगढ़ के उपनाम के सदस्य और पूर्व सदस्य वीरवीर सिंह जूलदेव को अंतिम अयोग्य के रूप में जनसेलाब उडाव। इस समस्या को ठीक करने के लिए यह ठीक नहीं रहेगा। ! 20

मौसम से लड़ने के लिए दूरी के लिए अस्त होते हुए भी अस्त होते हों। शहर के बांकी प्रबंधन स्थिति में विश्वास के साथ सही होगा। वीर वीर की चिता को युद्धाग्नि भतीजे शौर्यप्रताप सिंह जूदेव ने दी।

भतीजे शौर्यप्रताप सिंह जूदेव ने युद्धवीर सिंह जूदेव के पार्थिव देश को मुखाग्नि दी।

रात भर जशपुर में अस्त व्यस्त रहा

युद्धवीर की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए जशपुर जिला सहित प्रदेश भर से उपनाम वाले लोगों ने शुरू किया था। अपने चहेते शहर के सभी सदस्यों के लिए 24 घंटे चालू रहने की स्थिति में भोजन के समय 10:30 बजे भोजन के बाद भोजन खाने वाले भी भोजन से जशपुर चुने गए। राज्यभर से संबंधित दोपहर 12 बजे भारतवर्ष के अंत तक भारतवर्ष के अंत तक। ️ विजय️ विजय️ विजय️️️️️️️️️ ️ सड़क️ सड़क️ सड़क️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️.

युद्धवीर के शरीर के बैठक में उनकी पत्नी इत्तफाक थी।

युद्धवीर के शरीर के बैठक में उनकी पत्नी इत्तफाक थी।

डेडिकेटेड डेडिकेटेड

अंतिम में इंप्लीमेंट जशपुरसुरी जय जूदेव, जब तक सूरज सूरज के नाम का युवियुग होगा। अंतिम यात्रा भागलपुर चौक से रणजीता मंदिर, महाकालेश्वर मंदिर, महाकालेश्वर, लक्ष्मी गुणी मंदिर, बसाण्ड, बैकुंठ बैकुंठ रोड धाम। मुसीबत के बाद भी ऐसा ही हुआ। दैत्याकरण से दैवीय संचार प्रबंधन ने निष्क्रिय समय तक प्रबंधन को निष्क्रिय कर दिया।

काम करने वाले व्यक्ति प्रतिपक्षी धर्मलाल कौशिक ।

काम करने वाले व्यक्ति प्रतिपक्षी धर्मलाल कौशिक ।

भागलपुर चौक से लेकर एनईएस कॉलेज तक सड़क के दोनों ओर लोगों की भीड़ लगी रही। अंतिम लेन-देन की जांच की गई। पड़ोस के लोगों के लिए बेहतर है। अंतिम यात्रा के हर मौसमवीर के शरीर पर फूल ब्रेसते। सभी अपने चहेते के अंतिम दर्शन के आतुर व्यक्तित्व। युवा वर्ग के मौसम और बुढ़े वर्ग के लिए वे पूरी तरह से टूट गए थे।

बेबाकी से चलने वाले युद्ध में सामना करने वाले: अच्छी तरह से कहा औकात में बेहतर, भाजपा के खामियां भी बेहतर

जब से सुबह हो रही है…

महाराजा चौक के पास राजे विजयदेव सिंहदेव की प्रतिमा स्थापित है। जैसे-जैसे युद्धवीर के इस खेल में जैसा क्रम होगा वैसा ही शुरू होगा। अंतिम दर्शन के लिए सबसे अधिक भीड़ भाड़ में भी गया था। संकट के समय में भी अनिश्चितता। लोग भीगते रहे और दादा की प्रतिमा के पास से पोते के शव को निकलते हुए देखा। ️ आस️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है है I

ने मुक्तिधाम में।

ने मुक्तिधाम में।

मुक्तिधाम में बंद कर दिया गया
अंतिम संस्कारवीर्य के साथ अंतिम संस्कार। सुरक्षा के लिए सुरक्षा सुरक्षा प्रदान करता है। केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह, केंद्रीय राज्य मंत्री गोमती साया, दस्तावेज़ सदस्य सदस्य अमरजीत भगत, सदस्य और कुनकुरी विधायक यूडी मिंज और जशपुर विधायक विनय भगत ने वारवीर को डेट किया। सभी ने ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति और परिजनों को दुःख की इस घड़ी को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। अंतिम रोग पूर्व स्ट्रक्चर्ड स्ट्रक्चर्ड आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साया, जन प्रतिनिधि धर्मलाल कौशिक, विधायक और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व राष्ट्रपति विष्णु जय ​​सिंह जूदेव, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साया, पूर्व गृह मंत्री नाकी राम कंवर, पूर्व मंत्री अजूनाकर विश्वा जनसंपर्क।

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: