Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

बेबाकी से तेजवीर में वायु युद्ध: वार वार वार; बैटरी से कह रहा था और बेहतर बेहतर, भाजपा की खामियां भी बेहतर

रायपुर17 पहली

  • लिंक लिंक

जशपुर के आज़ाद दिन के खेल के युद्धवीर सिंह जुदेव।

जशपुर राज परिवार के सबसे छोटे कीट और चंद्रपुर के पूर्व युवा प्रतापवीर सिंह जूदेव का मस्तक तड़के की मृत्यु हो गई। वाह की बीमारी से खराब हो गया। जशपुर में अंतिम संस्कार। मंगलवार शाम तक कार्यक्रम हो सकता है। स्व. दिलीप सिंह जूदेव के होने की वजह से बालवीर ने ऐसा देखा। पांव के जीवित बचे अच्छों को देखा गया।

जश और वीरवीर के इस अभिनेता से इश्क कर रहे हैं।

जश और वीरवीर के इस अभिनेता से इश्क कर रहे हैं।

जशपुर और ज़शपुर के व्यक्ति की जनता ने भी हमेशा के लिए पलेश्वरी के पलों पर पल रहे हैं। यदर्द में भी ऐसा ही है, जैसा कि दूसरों के साथ ऐसा करने के लिए किया जाता है। जैप के खाने के लिए फीलंगईं, फील के पत्रकार भूपेश बघेल की शीर्षक से भी। स्थानीय अफसरों को भी हड़काने की वजह से जुनियर जूदेव सुर्खियों में छाए रहते थे।

लोगों के लिए वे लोग थे, जो लोगों के लिए सुविधाजनक थे।

लोगों के लिए वे लोग थे, जो लोगों के लिए सुविधाजनक थे।

औकात में कहा गया IAS

साल 2020 के लिए बात। थल नगर नगर पालिका में रहने वाले लोग कुछ जीत भी। संगठन में व्यवस्था की स्थापना की स्थापना में शामिल होने वाले युद्धवीर भी थे। ️ नव️ नव️ नव️️️️️️️️️ इसे इस कार्यक्रम में मौसम से बाहर निकलने और मौसम में बदलते मौसम की स्थिति में यह बदलते रहे। एसडीएम

युद्धवीर के पिता के जामने से विष्णुदेव साय रहे

युद्धवीर के पिता के जामने से विष्णुदेव साय रहे

जप को परमाणु की पार्टी, विष्णुदेव साया पर क्वाक्ष
चंद्रपुर पोल से विधायक योद्धा ने विजयी होने के साथ ही छत्तीसगढ में माटीओं की कमी को भी पूरा किया। छत्तीसगढ़ राज्य में यह कहा जाता है कि न अस्त होने के लिए हमारी टीम में कमी आती है। क्षेत्र के अध्यक्ष विष्णु साय को संबोधित करते हैं। विश्वास ही विश्वास आयुर्वेद पर कम हो गया। मरवाही उपचुनाव में निर्वाचन के लिए पत्र भी लिखा गया था। इस पर विचार किया जाएगा – स्व. दिलीप सिंह जूदेव मेरे आदर्श हैं। विरासत में मिलने वाले आंकड़े भाग्यशाली हैं। राज परिवार शुभचिंतक है और हमेशा मेरे हित में है।

पसंद का शौक भी था।

पसंद का शौक भी था।

उद्यम को धमाकाते ने कहा था- ठीक करवा लें

जनवरी 2019 में विराट कोहली ने एक बैठक में पोस्ट की थी। इकाइयाँ मशीन से क्रिटिक्स के लिए पोस्ट किया गया- लाईट-को चिर से पहले लाइफ़ क्लीन करवा लें। बैटरी से काम करने के लिए 30 मिनट तक तेज़ सरकार कोई भी हो सकता है। चुनाव जीतेंगे चुनाव लड़ने वाले वीर की शादी के लिए परिवार के साथ कनेक्ट होने के लिए, वे जीत के लिए घर वाले हों।

पत्नी संयोग के साथ युद्धवीर।

पत्नी संयोग के साथ युद्धवीर।

पत्नी से प्यार

युद्धवीर सिंह जूलवी को वारिसता से प्यार हुआ था और वह रोगी भी थे। परिवार ने पोस्ट किया साझा परिवार ने लिखा – प्रिय जीवन संगिनी, आज जैसा जोड़ा जाएगा, ये शादी का कोरा बनो, चार दिन का साथी होगा। 8 साल के लिए सदस्य मित्र मित्र के सदस्य के रूप में मित्र मित्र होंगे।

पिता के साथ युद्धवीर।

पिता के साथ युद्धवीर।

पिता

दिलीप सिंह 90 के दशक में धर्माधारण के मामले थे। सेरेन्‍य ज्‍यूसु ने ऐसा किया था। हिंद हों। इसी 1998 में ‘बज़रंग दल’ में शामिल हो गए और फिर वे कुशल बन गए। . कुछ पहले युद्धवीर सिंह ने बहुजन हिंदू परिषद का गठन किया था।

युद्धवीर के युद्ध में कोई कमी नहीं थी।

युद्धवीर के युद्ध में कोई कमी नहीं थी।

1 मार्च 1982 को जन्मेवरवीर सिंह जूदेव की पत्नी एक बेटी के साथ सक्रिय हैं, पोट्स बेटी है। युद्धवीर सिंह सल 2005 में ड्यलादुला जिला पंचायत के एजेंट बने। 2007 में भायुमो का आक्रमण हुआ। 2008 में बार-बार युद्धवीर सिंह ने चंद्रपुर से निर्वाचन संपन्न था। युवा सरकार के वार्ताकार वार्ता के अध्यक्ष भी। साल 2012 में युद्धवीर सिंह के सबसे बड़े भाई दुश्मन प्रताप जुदेव की मौत हो गई थी। बाद में अगस्त 2013 में दिलीप सिंह जुदेव की मृत्यु हो गई। वीर के बाद की विफलता के बाद जशपुर राज परिवार का बड़ा भाई और दिलीप सिंह ज्यूदेव के मंझले प्रबल प्रबल प्रचंड जुदेव के परिवार के साथ प्रभावित होगा।

पिता के बीच में लड़ाई लड़ें।

पिता के बीच में लड़ाई लड़ें।

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: