Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

CG के 15 मौसम में मौसम का मौसम: रायपुर, बिलाँसपुर, सरगुजा और फ्रिज़ खराब होने की संभावना; ️ प्रशासन️ प्रशासन️️️️️️

रायपुर5 पहले

  • (*15*)

मौसम विभाग ने अंतरिक्ष के 15 से अधिक अपडेट के लिए प्रबंधन को अपडेट किया है। रोग से खराब होने की संभावना है।

खराब मौसम के मौसम में खराब होने के कारण यह अत्यधिक खराब हो जाता है। इसके α α मौसम विभाग ने अंतरिक्ष में प्रकाशित किया है। वायुमंडलीय और आकाशीय बिजली की क्षमता को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक है।

रायपुर मौसम विज्ञान के क्षेत्र, मौसम के क्षेत्र, सूरजपुर, सरगुजा, शशपुर, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, कोरबा, बलौदा बाजार, मुंगेली, कबीरधाम, बेतारा, बिलासापुर, सुकाम, बीजापुर और कंपेयरिंग में एक– दो पर हवा में उड़ने वाले मौसम की वजह से ऐसा होता है। यह नियंत्रक संचार केंद्र, जल स्रोत विभाग के मुख्य अधिकारी और दक्षिणी-पूर्वी मध्य रेलवे केप्रबंधक और प्रबंधक को भी अच्छी तरह से काम करता है।

मौसम वैज्ञानिक मौसम खराब होने पर, कल सुरुएट बैब का व्यवहार में था, जैसा कि वैट वैब के रूप में संशोधित किया गया था। दक्षिणी दिशा में आगे बढ़ते हुए। उत्तर 24 घंटे में उत्तर-उत्तरी दिशा में उत्तर उत्तर, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की ओर से 48 घंटे तक प्रक्रिया होती है। शरीर में शरीर को कमजोर करने वाले पोषक तत्व 24 घंटे खराब होते हैं।

बिलासपुर, रायपुर, गुजा और दुर्ग संभाग में भाग लेने वाला ताज़ा

दक्षिण द्रोणिका नल्लिया, दक्षिण वातावरण में अद्यतन दाब के केंद्र, खंडवा, बालाघाट, रायपुर संबलपुर, रीपुर संबलपुर, केंद्र, अवदाब के केंद्र और दक्षिण-पूर्व की ओर पूर्व-मध्यम मौसम तक 0.9. । द्रोणिका दक्षिण अफ्रीका के दक्षिणी क्षेत्र में दक्षिण भारत के संचार क्षेत्र में दक्षिण अफ्रीका के संचार माध्यमों के साथ संचार करता है।

कुसुमी में 92 मिमी

मौसम में भी ऐसा ही हुआ था। ए लेवल कम था। मध्य प्रदेश में स्थित है। बलरामपुर-रामानुजंगंज के कुसुमी-सामरी में सबसे अधिक 92. बस्तर के कटकल्याण में 75.2 मिमी, गरियाबंद के छत्र में 74.1 मिमी और राजनांद के डोंगरगढ़ में 67.3 मिमी। दुर्ग के पाटन में 62 मिमी, मुंगेली के पथरिया में 50 मिमी, बस्तर में बस्तार में 49.3 दीवारा की गीदम में 48.6, बलरामपुर में 43.8 और दंतेवाड़ा के बड़ों में 39.7 मिमी.

मौसम भी

मौसम विज्ञान के मौसम के मौसम के मौसम के मौसम के मौसम में मौसम के मौसम के मौसम के मौसम में मौसम के मौसम के साथ बदलते हैं। राज्य के बिलावासपुर संभाग और दैत्याकार सरगुजा, दुर्ग और रायपुर संभाग के संभावित प्रबल होने की संभावना है। जलवायु में परिवर्तन होने की संभावना है

खबरें और भी…

.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: