Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

DRG जवानों ने 5 नक्सली स्मारक किए ध्वस्त: दंतेवाड़ा में 2 स्मारक बनाए गए थे, इनमें से एक 8 लाख रुपए की इनामी महिला नक्सली का था, पुलिस का दावा-जिले में अब एक भी नहीं बचे; बीजापुर में भी 3 गिरा

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दंतेवाड़ा / बीजापुर27 मिनट पहले

  • (*2*)
  • कॉपी लिस्ट

एसपी डॉ। अभिषेक पल्लव ने बताया कि इनामी महिला नक्सली विज्जे 2017 में बुरगुम में हुई पुलिस नक्सली मुठभेड़ में मारी गई थी। वहीं अनिल को सुकमा के बुरकापाल में जवानों ने मुठभेड़ में ढेर किया था।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर और दंतेवाड़ा में DRG जवानों ने रविवार को 5 नक्सली स्मारक ध्वस्त कर दिए। इनमें दंतेवाड़ा में एक स्मारक 8 लाख रुपए की इनामी महिला नक्सली का भी था। पुलिस का दावा है कि जिले में अब एक भी नक्सली स्मारक नहीं बचा है। वहीं बीजापुर में भी जवानों ने 3 नक्सली स्मारक को ध्वस्त किया है। दोनों जिलों के पुलिस अफसरों ने इसकी पुष्टि की है।

दंतेवाड़ा: जिले में दो स्मारक तोड़े, दोनों भारी भीड़ नक्सलियों के
DRG के जवान सर्चिंग पर निकले थे। इस दौरान सूचना मिली कि बुरगुम गांव में कुछ महीने पहले ही नक्सलियों ने स्मारक बनाया है। इसके बाद जवानों ने दोनों स्मारकों को तोड़ दिया। एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि इनामी महिला नक्सली विज्जे 2017 में बुरगुम में हुई पुलिस नक्सली मुठभेड़ में मारी गई थी। वहीं अनिल को सुकमा के बुरकापाल में जवानों ने मुठभेड़ में ढेर किया था।

(*3*)

बड़े नक्सलियों की मौत के बाद उनकी याद में नक्सली गांवों में स्मारक बना रहे हैं। जिले के गुमियापाल, हिरोली, बुरगुम, नीला, पोटली इलाके में सबसे ज्यादा स्मारक बने थे।

ग्रामीण गांवों में पुलिस की पहुंच बढ़ी
बड़े नक्सलियों की मौत के बाद उनकी याद में नक्सली गांवों में स्मारक बना रहे हैं। जिले के गुमियापाल, हिरोली, बुरगुम, नीला, पोटली इलाके में सबसे ज्यादा स्मारक बने थे। इन क्षेत्रों में पुलिस लगातार अपनी पैठ बढ़ा रही है। ग्रामीणों का साथ मिल रहा है और कार्रवाई हो रही है। स्मारक के नीचे नक्सली कई बार आईड्स बम भी लगाते हैं। इसे तोड़ने वाले जवानों को खतरा भी रहता है।

दंतेवाड़ा में डेढ़ साल में इन नक्सलियों के स्मारक तोड़े गए

  • 19 जुलाई 2019: हिरोली क्षेत्र में नक्सली हुर्रा और गुरों के बना रहे स्मारक को जवानों ने तोड़ा था।
  • 17 नवंबर 2019: पोटली में बने नक्सली वेरस के स्मारक को महिला डीआरजी ने ध्वस्त किया।
  • 3 मई 2020: कोंडासावली इलाके के बेनपल्ली में नक्सली स्मारक को सीआरपीएफ 231 बटालियन के जवानों ने तोड़ा था।
  • 20 जुलाई 2020: ग्रामीणों पर अंडर डालकर हिरोली के जंगल में गुटों का स्मारक नक्सली बनवा रहे थे। इसे ध्वस्त किया गया था।
  • 22 जुलाई 2020: नीलाकृत में नक्सली गुंडाधुर का स्मारक बनवाने नक्सलियों ने ग्रामीणों से चंदा लिया था। यह तो गया
  • 28 जुलाई 2020: गुमियापाल में नक्सली पोदिया के स्मारक को जवानों ने तोड़ा था।
  • 8 मार्च 2021: महिलाांडो ने जबेली में 5 लाख की इनामी नक्सली भीमे उर्फ ​​आयते के स्मारक को ध्वस्त किया था।
  • 7 मई 2021: इंद्रावती नदी पार कुर्सेहार में बने 5 लाख की इनामी नक्सली के सहिदा के स्मारक को जवानों और ग्रामीणों ने मिलकर तोड़ा था।

बीजापुर: जिले में लगातार नक्सली स्मारक गिराए जाने की कार्रवाई जारी
वहीं बीजापुर जिले के नक्सल क्षेत्र जैगुर और दरभा के जंगलों में भी नक्सलियों ने शहीद स्मारक बना रखे थे। सर्चिंग पर निकले जवानों ने जैगुर में एक और दरहा के जंगलों में 2 नक्सली स्मारक को ध्वस्त किया है। बीजापुर एसपी कमलोचन कश्यप ने बताया कि कुटरू और जांगला थाना के जवानों व सीएएफ (छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स) की संयुक्त टीम ने यह कार्रवाई की है।

खबरें और भी हैं …

(*5*)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: