Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

औद्योगिक संस्थानाें के अफसरों के साथ वर्ग की बैठक: केक खननों और बिजली उत्पादन के प्रवेश द्वार पर चाहिए हागे का सेविड की व्यवस्था

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरबा5 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

बैठक में राजस्व मंत्री व कलेक्टर।

  • संकट की घड़ी में औद्योगिक संस्थानों को अपनी जिम्मेदारी का अहसास: जयसिंह

एसईसीएल की रोटी खदानों, सरकारी और निजी बिजली सहित अन्य औद्योगिक संस्थानों के प्रवेश द्वार पर विभाजित टेस्ट की व्यवस्था रहेगी। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि कोरोना से उपजेएस की घड़ी में औद्योगिक संस्थानों को अपनी जिम्मेदारी का एहसास होना चाहिए। कंपनी के कर्मचारियों की सुरक्षा के साथ ही प्रभावित क्षेत्रों में सामुदायिक जिम्मेदारियों की निर्वहन प्राथमिकता होनी चाहिए।

कार्ययोजना बनाकर औद्योगिक संस्थान काम करें। शुक्रवार को राजस्व मंत्री ने एनटीपीसी, बालको, एसईसीएल गेवरा, दीपका, कुसमंदा और कोरबा के महाप्रबंधकों की समूह बैठक ली। उन्होंने कहा कि एसईसीएल के गेवरा, दीपका और कुसमुंडा खदान क्षेत्र से जुड़े ग्रामीण अंचलों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। संक्रमण की रोकथाम के लिए एसेलीएल प्रबंधन क्षमता से जरूरी कदम उठाते हैं। औद्योगिक संस्थान अपने विभागीय अस्पतालों में एक-एक नग धागा स्कैन मशीन, एक-एक नग 3 डी ईको मशीन, एक-एक नग कलर डॉपलर और एक-एक नग टीएमटी मशीनों जैसे गंभीर बीमारियों में जांच के लिए आवश्यक उपकरणों को स्थापित करते हैं। कोरोना की रोकथाम में लापरवाही बरतने पर दर्शकों को नहीं किया जाएगा।

जांच की व्यवस्था नहीं की तो कोल परिवहन बंद
बैठक में कलेक्टर ने एसेलीएल के अफसरों से दो टूक कहा कि खदानों के प्रवेश द्वार पर कोरोना जांच की व्यवस्था करें। अन्यथा प्रशासन कुछ समय के लिए सड़क मार्ग से मुर्गा का परिवहन मजबूरन बंद कर देगा। कोरोना जांच में निगेटिव रिपोर्ट आने पर ही कर्मचारियों को खदानों के भीतर अनुमति दी जानी चाहिए।

बालको में 100 बिस्तर का है विभाजित अस्पताल
बालको के प्रशासन प्रमुख अवतार सिंह ने बताया कि उनके संस्थान की विभागीय अस्पताल बालको में 100 बिस्तरों का अलग-अलग अस्पताल हो गया है। 80 बेड आक्सीजन बेडिनेटेड है। 5 बिस्तर आईसीयू में हैं। अगले 15 दिनों के भीतर आक्सीजन उत्तरायुक्त 100 अतिरिक्त बिस्तर की व्यवस्था रायपुर स्थित बालको मेडिकल सेंटर में कर ली जाएगी।

सीपेट को एनटीपीसी सौंपेगी कठोर स्कैन मशीन
कोरबा एनटीपीसी के समूह महाप्रबंधक विश्वरूप बासु ने बताया कि कंपनी ने कोरोना रोगियों के इलाज के लिए 32 बिस्तरों की अतिरिक्त व्यवस्था है, जिसमें 15 सामान्य, 15 ऑक्सीजन सपोर्टवेल और 2 आईसीयू बिस्तर उपलब्ध हैं। एनटीपीसी की ओर से जिला प्रशासन को स्याहीमुड़ी स्थित सीपेट अस्पताल में चिप स्कैन मशीन सौंपी जाएगी।

एस इटेल मेन हात्मा, एनटी में मरीजों का इलाज
एसेलीएल गेवरा के महाप्रबंधक एसके मोहंती ने बताया कि एसईसीएल की मेन हॉस्पिटल मुड़ापार व एनटीटी गेवरा में कोरोना मरीजों का इलाज किया जा रहा है। इस पर राजस्व मंत्री ने कहा कि केवल इतनी व्यवस्था से ही काम नहीं चलेगा। खदान में काम कर रहे कर्मचारी व खदान अनंत क्षेत्र के लोग पूरी तरह से सुरक्षित हैं और इसके लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: