Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

यह कैसी जिम्मेदारी है? बोले- आइसोलेशन में बने रहेंगे तो आदेश कौन देगा

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेमेतरा14 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

छत्तीसगढ़ के मेडिकल ऑफिसर ही कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने में लगे हुए हैं। जगदलपुर के चीफ मेडिकल हेल्थ ऑफिसर (CMHO) तो ईमानदार होने के 8 वें दिन कुर्सी संभालने पहुंचे थे। बेमेतरा के सीएमएचओ डॉ। एसके शर्मा ने भी आगे निकले। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के लिए 3 दिन बाद ही ड्यूटी पर पहुंच गई। जिले का दौरा किया। कर्मचारियों की बैठक भी ली। डॉ साहब से इस बारे में पूछा गया तो बोले- मैं संक्षेपण में रहूँगा तो आदेश कौन देगा।

दरअसल, CMHO डॉ। एसके शर्मा 20 अप्रैल को जांच में पॉजिटिव मिले थे। उनके संपर्क में 2 आए और कर्मचारी 2 दिन बाद निष्क्रिय हो गए। सीएमएचओ साहब 3 दिन के होम आइसोलेशन में रहे। फिर अपनी कुर्सी संभालने पहुंच गए। इस दौरान भी वे दफ्तर में नहीं बैठे, बल्कि स्वास्थ्य कर्मियों की बैठक होती रही। बेमेतरा, नवागढ़, साजा और बेरला के स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया। जिला अस्पताल में ट्रूनॉट सेंटर रायपुर और कोविड सेंटर का निरीक्षण भी किया।

शेफ मेडिकल अफसर ने ही तोड़ दिया था

सीएमएचओ स्वास्थ्य कर्मियों की बैठक ले रहे हैं।  बेमेतरा, नवागढ़, साजा और बेरला के स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया।  जिला अस्पताल में ट्रूनॉट सेंटर रायपुर और कोविड सेंटर का निरीक्षण भी किया।

सीएमएचओ स्वास्थ्य कर्मियों की बैठक ले रहे हैं। बेमेतरा, नवागढ़, साजा और बेरला के स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया। जिला अस्पताल में ट्रूनॉट सेंटर रायपुर और कोविड सेंटर का निरीक्षण भी किया।

जहां अब गया वहां भी संक्रमण फैलने का खतरा, दोनों कर्मचारी इससे हट गए
शासन का आदेश है कि कोई भी दोष मिले तोर्नवेक्ट ट्रेसिंग की जाएगी। हालांकि CMHO साहब के साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। उनके संपर्क में आए कर्मचारी संदेह में है और डरे हुए भी हैं। हालांकि ड्यूटी के प्रोटोकाॅल के कारण कुछ भी नहीं कर पा रहे। संकमी रोगी को 17 दिन क्वारेंटाइन रहना है। इस बीच वह बाहर नहीं निकल सकता है। नियम के उल्लंघन पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई हो सकती है। उसी उद्देश्यपूर्ण कर्मचारी वर्तमान में गृह संक्षेपण में हैं।

कर्मचारियों को कोरोना होने पर 17 दिन का अवकाश मिलेगा
जिला अस्पताल में मार्च और अप्रैल में 30 कर्मचारी और अधिकारी कार्यरत हैं। इसमें 20 स्टॉफ नर्स, 4 स्कूल टेक्निशियन, एक ओटी टीशियन और 5 डॉ शामिल हैं। ये सभी चेतन होने के बाद 17 दिन होम आइसोलेशन में रहे। कुछ कर्मचारी अभी भी क्वारंटाइन हैं। कुछ दिन पहले ही कर्मचारियों के संक्रमण होने के बाद 7 दिन में ड्यूटी पर लौटने की आज्ञा को वापस ले लिया गया है। कर्मचारियों से कहा गया है कि उनमें से होने वाली 17 की छुट्टी मिल सकती है।

सीएमएचओ डॉ। एसके शर्मा 20 अप्रैल को ट्रूनॉट जांच में पॉजिटिव मिले थे।  उनके संपर्क में 2 आए और कर्मचारी 2 दिन बाद निष्क्रिय हो गए।

सीएमएचओ डॉ। एसके शर्मा 20 अप्रैल को ट्रूनॉट जांच में पॉजिटिव मिले थे। उनके संपर्क में 2 आए और कर्मचारी 2 दिन बाद निष्क्रिय हो गए।

आम आदमी और सरकारी अधिकारी का मामला
जिले में पिछले एक साल में कई ऐसे मामले हैं जब को विभाजित नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ मामला बनायाये गए। लेकिन, वह गलती एक अधिकारी द्वारा किए जाने पर प्रशासन मौन हैं। ऐसे में फिर आम व्यक्ति और शासकीय अधिकारी में बात पैदा हो गई है। शासकीय अधिकारियों को नियमों को हटाने या फिर इसकी अवहेलना मिलने की विशेष छूट कैसे मिल जाती है, जबकि यह कुछ दिन बाद जवाइनिंग करने पर भी कोई विशेष मामला नहीं गिरता है।

ऐसा ही जगदलपुर के सीएमएचओ ने भी किया था, फिर बोले- मेरी रिपोर्ट निगेटिव है
लगभग 10 दिन पहले ऐसा ही मामला जगदलपुर में भी सामने आया था। जब CMHO डॉ। आरके चतुर्वेदी को हटाए जाने के बाद जिला प्रशासन ने डॉ। जीपी शर्मा को जिम्मेदारी सौंपी थी। इस दौरान जीपी शर्मा कोरोना पॉजिटिव साथ होम आइसोलेशन पर थे। नंबर जारी होते ही नियमों को दरकिनार कर 8 वें दिन ही पद भार ग्रहण करने दफ्तर पहुंच गए थे। इसके बाद उन्होंने अपनी रिपोर्ट निगेटिव होने का दावा किया, पर 3 दिन बाद ट्रूनॉट टेस्ट में पॉजिटिव मिले थे।

– तीन दिन में सर्दी-बुखार ठीक होने पर फिर से जांच कराई गई। तब तक मेरी रिपोर्ट निगेटिव आई है। इससे दूसरे को संक्रमण होने का खतरा नहीं है। राज्य के आदेश से क्या होता है। मैं होम आइसोलेशन में रहूंगा तो आदेश जारी और पदभार कौन संभालेगा। 17 दिन तक होम आइसोलेशन में रहना जरूरी नहीं है।
– डॉ। एसके शर्मा, सीएमएचओ, बेमेतरा

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: