Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

जन संकल्प से हारेगा कोरोना: राजधानी में दूसरी लहर में भी 74 हजार जीत कोरोना से, रायपुर में पूरे 37 दिन बाद नए उपक्रमों की संख्या एक हजार से नीचे आई।

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर(*37*)3 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

15 लोगों का परिवार, अस्पताल-घर में रहकर ठीक हो गए।

  • दो परिवारों की दास्तान … सतर्कता से घर में लौटे खुशियां

राजधानी में दूसरी लहर में 74 हजार से ज्यादा मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इनमें भी 69264 से ज्यादा मरीज के घर पर ही होम आइसोलेशन के जरिए स्वस्थ हुए हैं। कोरोना रोगियों के ठीक होने की दर भी रायपुर में अब 90 प्रतिशत से अधिक है। जानकारों की मानें तो अगर लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते रहेंगे यानी डबल फेस पहनने, हाथों की सफाई, सुरक्षित दूरी, गंभीर लगने पर तुरंत जांच व इलाज जैसी स्वास्थ्य सुविधा रहेगी, तो कोरोना के मामले कम होते चले जाएंगे। क्योंकि वायरस ने नए तनाव को लेकर अभी तक आशंकाएं बनी हुई हैं।

15 लोगों का परिवार, अस्पताल-घर में रहकर ठीक हुआ
राजधानी के पंडरी इलाके में रहने वाले शैलेश दीक्षित के परिवार के एक साथ 15 लोग मार्च की 24 तारीख को विकृत हो गए। उनके बुजुर्ग माता पिता के साथ भाई भाभी, बहन और दो और पांच साल के छोटे बच्चे भी रहे। बुजुर्ग सदस्यों के साथ शैलेश कोरोना इलाज के लिए रायपुर के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती हुए। जबकि बाकी हल्के लक्षण वाले सभी सदस्य घर पर ही बनेकर होम आइसोलेशन में इलाज करवाते रहे। अब सारा परिवार स्वस्थ हो गया है।

पिता को चुनने वाले परिवार की अपील करने वाले पहनते हैं
राजधानी के टाटीबंध इलाके में रहने वाले रिक्की मंडेर ने कोरोना की पहली लहर में अपने 75 साल के बुजुर्ग पिता हरजीत सिंह मंडेर को गंवा दिया था। उस दौर में उनका पूरा परिवार कोरोना की जद में आ गया था। रिक्की मंडेर के मुताबिक दूसरी लहर में शहर में बहुत सारे लोगों ने अपने परिजनों को गंवा दिया है। सबसे कुछ न कुछ गलतियाँ हो रही हैं, इसलिए अब हम लगातार सबसे अधिक पहनने की अपील करते हैं, ताकि किसी को अपनों के देखने का दर्द न रोका जाए।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: