Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

ये लापरवाही मुसीबत बन सकती है: जशपुर में शादी समारोह में पहुंचे 60 लोग, प्रशासन ने दर्ज की FIR; तीन और परिवारों ने तुम्हारा पालन किया

तस्वीर फरसहार इलाके के डुमरिया गांव में हुई शादी समारोह की है। यहां कोरोना नियमों की अनदेखी कर 10 से ज्यादा लोग शादी में शामिल हुए।

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण लगातार भरावह होता रहा है। पिछले तीन दिनों से लगातार 200 से ज्यादा मौत हो रही हैं। इसके बावजूद लोग लापरवाही बरत रहे हैं। अब जशपुर जिले में अलग-अलग क्षेत्रों में कोरोना गाइडलाइन के उल्लंघन कर शादी आयोजित करने का मामला सामने आया है। बेपरवाही इतनी हुई कि टिकैतगंज गांव शादी समारोह में 60 लोग शामिल हो गए, जिसके चलते पुलिस ने परिवार पर एफआईआर दर्ज की। वहीं तीन अन्य अन्य परिवारों पर भी आरोप लगाया गया है। जबकि इस तरह के कार्यक्रम में केवल 10 लोगों को शामिल होने की परमिशन है। जिले में बढ़ते कोरोना केस के कारण ही तीसरे बार लॉकडाउन उठकर 5 मई तक कर दिया गया है।

(*60*)टिकैतगंज गांव में कोड़े गाइडलाइन का उल्लंघन कर शादी आयोजित की गई।  14 लोगों का कोविड टेस्ट भी किया गया।  सभी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है।

टिकैतगंज गांव में कोड़े गाइडलाइन का उल्लंघन कर शादी आयोजित की गई। 14 लोगों का कोविड टेस्ट भी किया गया। सभी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है।

प्रशासन की टीम को सूचना मिली थी कि शनिवार को टिकैतगंज गांव में संदीप कुमार भगत के यहां शादी कार्यक्रम है। इसके बाद प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और पाया कि यहां गाइडलाइन का उल्लंघन कर 60 लोग शादी में शामिल हो गए हैं। इसके बाद कोतवाली पुलिस ने महामारी अधिनियम के तहत परिवार के खिलाफ मामला दर्ज किया। इसके बाद यहां 14 लोगों का कोविड टेस्ट भी किया गया। जिसमें सभी 14 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई।

टिकैतगंज गांव के अलावा प्रशासन ने रविवार को फरसाबहार इलाके के डुमरिया गांव में रामकिशोर पैंकरा के यहां भी कार्रवाई की है और 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। पता चला है कि यहां भी शादी का कार्यक्रम चल रहा था। लेकिन कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किया जा रहा था।

कोरोना बढ़ने के बावजूद लोग नियमों की लगातार अनदेखी कर रहे हैं
शनिवार को प्रशासन ने सूरनगर मे अलग-अलग जगहों पर दबिश दी थी। जहाँ कोरोना नियमों को ताक में रखकर शादियों को आयोजित किया गया था, जिसके कारण 2 परिवारों पर चार हजार का दबाव पड़ा था। कोरोना केस बढ़ने के बावजूद लोग नियमों की अनदेखी कर रहे हैं। 24 अप्रैल को ही बालोद में भी दिघवाड़ा गांव में अलगाव जोन होने के बावजूद शादी समारोह चल रहा था। शादी समारोह में 20 से अधिक बाराती शामिल हो गए थे। जिसके बाद 5 हजार का प्याज लगाया गया था।

जशपुर में कोरोना
जिले में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। 24 अप्रैल को भी यहां 524 कोरोना मरीज मिले थे। जबकि एक मरीज की मौत हो गई थी। इस प्रकार जिले में अब तक 11183 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। वहीं 8113 मरीज कोरोना को हरा चुके हैं। अब जिले में कोरोना के सक्रिय रोगियों की संख्या 2993 है। वहीं जिले में अब तक 77 मरीजों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *