Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

कोविद रोगी ने दूसरी मंजिल से लगाई छलांग: रायपुर के संकल्प अस्पताल से कूड़ा डिप्रेशन से जूझ रहा युवक, सिर पर आई गंभीर चोटें, 24 घंटे में ऐसी तीसरी घटना

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

चित्रा रायपुर के संकल्न्प अस्पताल की है, जहां रोगी ने खुदकुशी का प्रयास किया।

रायपुर के सरोना इलाके में स्थित संकल्प अस्पताल में एक कोरोना के मरीज ने खुदकुशी की कोशिश की। अस्पताल के दूसरे फ्लैट से ये मरीज नीचे कूद गए। इसके सिर पर गंभीर चोट आई है। आनन-फानन में अस्पताल के कर्मचारी इसे इमरजेंसी वार्ड में लेकर गए जहां उसका इलाज चल रहा है। खुदकुशी की कोशिश करने वाले युवक का नाम प्रशांत सोनकर ने बताया जा रहा है। घटना की जानकारी अस्पताल की ओर से पुलिस को नहीं दी गई है। युवक ने खुदकुशी करने की कोशिश क्यों की वर्तमान में ये बात पता नहीं चल रही है।

कांच टूटने की आवाज आई नीचे देखा तो मरीज पड़ा था(*24*)
हादसे को देखने वाले एक मरीज ने दैनिक भास्कर को बताया कि हम लोग कोविड वार्ड में हैं। दोपहर के वक्त सब कुछ ठीक था, मरीज अपनी-अपनी जगह पर थे, तभी अचानक खिड़की का कांच टूटने की तेज आवाज आई, हड़बड़ाकर डॉक्टर, स्टाफ और कुछ मरीजों ने देखा कि एक मरीज नीचे कूद पड़ा है। वो नीचे पेट के बल हुआ था, लोग चीख रहे थे इसके बाद उसे उठाकर अंदर लाया गया।

24 घंटे में इस तरह की तीसरी घटना(*24*)
पेंड्रा के नवागाँव निवासी धूप सिंह बुधवार को को विभाजित कैर सेंटर से भाग गया था, शनिवार को उसने ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी थी। शनिवार को ही गोल्डी नाम की लड़की ने मुंगेली में फांसी लगाकर जान दे दी, वो कोरोनात्मक थी, उसकी मां की पिछली हफ्ते कोरोना संक्रमण के इलाज के दौरान मौत हो गई थी। 7 महीने पहले रायपुर के राखी थाना इलाके में एक संदिग्ध युवक पेड़ पर लटका डाल ली थी।

विभाग ने 44 हजार की गिनती की(*24*)
छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि कोरोना की वजह डिप्रेशन महसूस करने वालों की काउंसलिंग कर रही है। बाकायदा विभाग ने आंकड़े जारी करते हुए कहा है कि राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेशभर के 32 चिकित्सा अधिकारियों, 69 काउंसलर्स को बेंगलुरु के निचलेहॉस संस्था के सहयोग से ट्रेंड किया गया। संचालक, स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़ ने बताया कि कोविड कैर सेंटरों और होम आइसोलेशन में इलाज कराए जाने वाले लगभग 44 हजार मरीजों की काउंसिलिंग की गई है। इन होम आइसोलेशन में कोरोना का उपचार ले रहे 29 हजार 566 और कोविड कैर सेंटरों में इलाजरत 14 हजार 378 मरीज हैं।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *