Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

आईडी बेचकर सट्टा का खेल चला गया: कोरोना लहर में भी सटोरिए सक्रिय, आईपीएल गैंग फूटा

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • दो-दो लाख में सट्त्टे की आईडी बेचने वाले बुकी सहित चार गिरफ्तार, कई बार फंस चुके हैं

राजधानी में गुरुवार रात आईपीएल क्रिकेट सट्टा फूटा है। सिविल लाइंस पुलिस ने छापा मारकर एक बड़े बुकी और उसके वसूली एजेंट को गिरफ्तार किया है। आरोपी 2-2 लाख में आईडी बेचकर सट्टा चला गया था। शहर के कई छोटे सटोरियों ने आईडी खरीदी है। आरोपी की घर की तलाशी के दौरान 3 लाख कैश मिला है।

पुलिस ने आधा दर्जन मोबाइल बच कर किया है। बुकी विशाल खंडेलवाल पहले भी जेल जा चुका है। टीआई आरके मिश्रा ने बताया कि अवंति विहार का विशाल खंडेलवाल उर्फ ​​विट्टू बड़ा बुकी है। उसके लिए अश्वनी नगर का प्रशांत शर्मा और अंशुल जैन वसूली करते हैं। प्रशांत और अंशुल कटोरा तालाब में निर्मल पिन्जनी के घर पुनर्गठन करने गए थे। निर्मल विशाल से आईडी के बारे में सट्टा चला रहा था, लेकिन उसने पैसे नहीं दिए थे। पैसों को लेकर उनके बीच विवाद हुआ तो पुलिस को पता चला। सिविल लाइंस पुलिस की टीम ने छापा मारकर तीनों को गिरफ्तार कर लिया। तीनों ने बुकी विशाल का नाम बताया तो उसे भी गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार विशाल खुद का उपकरण और आईडी बन चुका है।

वह दो-दो लाख में रुपए आईडी कार्ड है। मुंबई के बड़े सटोरियों से जुड़ा हुआ है। सट्टा के मामले में कई बार जेल जा चुका है। जेल से छूटते ही वह फिर सट्टा खिलाने लगता है। जब से आईपीएल शुरू हुआ है तब से विशाल सट्टा खिला रहा है। उसने वसूली के लिए अश्वनी नगर के प्रशांत शर्मा और अंशुल जैन को रखा है। आरोपी बहुत ही हाईटेक तरीके से सट्टा खाता है। उसका पूरा काम ऑनलाइन होता है। वह कागजों में कोई रिकॉर्ड नहीं है। विशाल रायपुर के अलावा अलग-अलग शहरों में सट्टा कारोबार है। चर्चा है कि बुकी पुलिस महकमे में भी जान पहचान रखती है।

कई जगह मकान और कार की जगह
पुलिस के अनुसार विशाल ने हालही में 75 लाख की कार खरीदी है। उसका शहर के कई पॉश इलाके में मकान और फ्लैट है। वह ज्यादातर मुंबई में रहता है। वहाँ से सट्टा को ऑपरेट करता है। वह बहुत कम रायपुर में रहता है। कोरोना के कारण वह मुंबई नहीं गई। उसके आधा दर्जन से ज्यादा
वसूली एजेंट है, जो पैसा वसूली करके हवाला से भेजते हैं।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: