Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

कोरोना में सख्ती के साथ रचनाओं की मस्ती: लॉकडाउन में रात को चलने वाले युवकों से थानेदार ने किए उठक-बैठक, वहीं भजन-गाओं गाकर घरों में रह रहे लोगों का उठना हौसला।

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कुवर्था30 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

छत्तीसगढ़ के कवर्धा में लॉकडाउन के दौरान बिना कारण युवकों से पुलिस उठक-बैठक कराई गई।

छत्तीसगढ़ के 20 से अधिक जिलों में टोटल लॉकडाउन लगाया गया है। ऐसे में पुलिस की सख्ती भी बढ़ गई है। ये सबके बीच कवर्धा के पंडरिया थाने के प्रभारी केके वासनिक के दो अलग-अलग रूप सामने आए हैं। एक ओर जहां वह लॉकडाउन के दौरान रात में बेवजह घूम रहे युवकों को सजा देने के लिए उनसे उठक-बैठक कर रहे हैं। वहीं गीतों और भजनों को गाकर घरों में रहने वालों का हौसला भी बढ़ा रहे हैं।

दरअसल, लॉकडाउन के दौरान पुलिस लगातार सड़कों पर गश्त कर रही है। खासकर रात में नगर पंचायत में नजर रखी जा रही है। ऐसे में पंडरिया थाना प्रभारी केके वासनिक रात में गश्त पर निकले तो शहर के गांधी चौक सहित अन्य इलाकों में कुछ युवक घूमते हुए मिल गए। उन्हें रोक कर हस्तक्षेप की गई। स्पष्ट जवाब नहीं मिलना पर सभी को मेढक चाल चलाई गई। फिर उठक-बैठक की और फिर बाहर नहीं घूमने की बात कहकर रवाना हो गए।

लोगों को संक्रमण से बचने की सलाह भी दे रही है
इसके बाद वह अन्य वार्डों में पहुंचे और लोगों से घरों में ही रहने की अपील की। साथ ही भजन ‘कौन कहता है भगवान आया नहीं ..’ और गीत ‘ओ मेरे दिल के चैन …’ गाया। इस दौरान उन्होंने लोगों से कहा कि वह कोई सिंगर नहीं हैं और न ही गाना उनका शौक है। बस लोगों की परेशानियों को कम करने का प्रयास कर रहे हैं। इसके साथ ही लोगों को गरम पानी की भाप लेने, सोशल डिस्टेसिंग का पालन और वर्क पहनने की सलाह भी देते हैं।

कवर्धा में कोरोना

  • अब तक कोरोनायर्ट मिले – 12664
  • अब तक ठीक रोगी – 8848
  • संक्रमण से मृत्यु- 127
  • एक्टिव केन्स की संख्या – 3689

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: