Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

छत्तीसगढ़ में कोरोना: पहली बार 24 घंटे में 181 अरबों की मौत, 15 हजार से ज्यादा नए मरीज मिले, सक्रिय मरीजों की धड़कन पचास लाख के पार

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर7 मिनट पहले

    (*15*)

तस्वीर रायपुर के कालाबरी इलाके की एक चीस्ट क्लीनिक की है। रात के 1 बजकर 30 मिनट पर ये जमावड़ा टाइपों के परिजन का है जो सिटी स्कैन के लिए पहुंचे हैं।

छत्तीसगढ़ में मंगलवार की रात तक की स्थिति में 15 हजार 625 नए कोरोनाटेबल मिले। ताजा रिपोर्ट में पिछले 24 घंटों में एक साथ पहली बार 181 गंभीर रोगियों की मौत की खबर है। एक साथ मौत का ये आंकड़ा पहली बार सामने आया है। पिछले हफ्ते में हुई 10 मौत की जानकारी मंगलवार को सरकार ने दी। कुल 191 मौत की जिक्र सरकारी रिपोर्ट में है। अब प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 1 लाख 25 हजार 688 हो गई है। राज्य में 50 हजार 699 सैंपल जांचे गए। पूरे प्रदेश में अब तक 6274 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले साल से अब तक छत्तीसगढ़ में 5 लाख 74299 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया है। मंगलवार को 15 हजार 830 लोग ठीक हुए।

इन प्रमुख शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 2225 नए मरीज मिले हैं। 76 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में सक्रिय मरीज 20 हजार 745 हैं। दुर्ग में 1679 नए मरीज, 9 लोगों की जान चली गई। बिलासपुर में 1330 नए मरीज मिले, 21 लोगों की मौत हुई। अब यहां सक्रिय मरीज 9773 हैं। राजनांदगांव में 825 नए मरीज मिले, यहां एक्टिव केस 9490 हैं। रायगढ़ में 998 नए मरीज मिले, 13 लोगों की मौत हुई है। अब एक्टिव केस 5608 हैं। कोरबा में 990 लोग मारे गए, 11 लोगां की मौत हुई। अब यहाँ 7372 सक्रिय रोगी हैं। बलौदाबाजार में 1036 नए प्रकार मिले, 2 लोगों की जान गई 7397 यहां सक्रिय केस हैं।

रायपुर में घर पर रहकर 58 हजार लोग ठीक हुए
सरकारी दावे के मुताबिक रायपुर जिले में होम आइसोलेशन पर अब तक 58 हजार से अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीजों को उनके घर पर उनके कंफर्टेबल इनवायरमेंटलाइन में स्वस्थ किया जा चुका है। कलेक्टर रायपुर डॉ। एस भारतीदासन ने बताया कि होम आइसोलेशन के लिए पंजीकरण कराना अनिवार्य है। पंजीकरण वेब नंबर http://cghomeisolation.com है। होम आइसोलेशन के जिला नोडल अधिकारी गोपाल वर्मा ने बताया कि किसी भी गंभीर स्थिति में रोगी से बात करने और उसको एम्बुलेंस के माध्यम से अस्पताल पहुंचाने के लिए भी हम तैयार हैं।

दुर्ग की आइसोलेशन ट्रेन मरीजों के लिए शुरू करने के लिए लिखा गया पत्र
दुर्ग के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ। गंभीर सिंह ठाकुर ने डीआरएम रायपुर को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने रेलवे के आइसोलेशन कोच कोरोना मरीजों के इलाज के लिए संचालित कराने कहा है ताकि रेलवे कर्मचारियों के लिए और उनके परिजनो और अन्य को विभाजित मरीजों के लिए इलाज के लिए सुविधा उपलब्ध हो सके। सीएमएचओ ने अपने पत्र में लिखा है कि आइसोलेशन कोच में ऑक्सीजन बेड के साथ ही मेडिकल स्टाफ की सुविधा भी उपलब्ध है, ताकि कोरोना मरीजों को उचित इलाज मिल सके।

विभाजित रोगियों को मानसिक तनाव दूर करने की कोशिश
कोरोना संक्रमण से जूझ रहे प्रदेश के रोगियों को मानसिक अवसाद और तनाव से उबरने स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें मुफ्त काउंसलिंग सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। प्रदेश भर के 32 चिकित्सा अधिकारियों और 69 काउंसलर्स को बैंगलुरू के निम्नहॉस संस्था के सहयोग से प्रशिक्षण दी गई है। कोविड कैर सेंटरों और होम आइसोलेशन में इलाज करते हुए लगभग 44 हजार मरीजों की काउंसलिंग की गई है। इन होम आइसोलेशन में कोरोना का उपचार ले रहे 29 हजार 566 और कोविड कैर सेंटरों में इलाजरत 14 हजार 378 मरीज हैं।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: