Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

छत्तीसगढ़ में कोरोना लाइव: एक दिन में 12,345 नए प्रकारों के मुकाबले 14,075 लोग ठीक हुए, मार्च के बाद पहली बार सुधरे दिखे हालात

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • छत्तीसगढ
  • रायपुर
  • रायपुर भिलाई (छत्तीसगढ़) कोरोनावायरस के मामले; लॉकडाउन अपडेट | छत्तीसगढ़ कोरोना मामलों का जिला वार आज का समाचार; कोरबा दुर्ग बिलासपुर राजनांदगांव

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर12 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

रायपुर में आज सुबह से खत्म हो रही लॉकडाउन अब 26 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है।

छत्तीसगढ़ में कोरोना की संक्रमण दर अभी भी 28 से 30% बनी हुई है। रविवार को 42,652 टेस्ट किए गए जिनमें से 12,345 नए मरीज मिले। राहत की बात यह रही कि एक दिन में 14,075 लोग कोरोना को माँ देकर ठीक हो गए। प्रदेश में अब 4,10,913 मरीज कोरोना को माँ दे चुके हैं। इनमें से 90 हजार से ज्यादा मरीज तो अप्रैल में ही ठीक हुए। 4 लाख से अधिक स्वस्थ हुए रोगियों में से 2.98 लाख से ज्यादा घर में यानी होम आइसोलेशन में इलाज से ठीक हुए हैं। जबकि 1.12 लाख से अधिक रोगी अस्पताल में इलाज के जरिए ठीक हुए हैं।

अकेले रायपुर में पिछले एक सप्ताह में 20 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं। इस बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टरों को अधिक संक्रमण वाले गांवों में एक-एक व्यक्ति का टेस्ट करने को कहा है। इसके साथ ही खदान और उद्योग वाले क्षेत्रों में भी सघन जांच अभियान चलेगा। हवाई अड्डा, रेलवे स्टेशन और बजाजीय सीमाओं पर चेक पॉइंट बनाकर लोगों की जांच होगी। जरूरत पड़ने पर उन्हें क्वारंटाइन या आइसालेट किया जाएगा। जिलाें को कहा गया है कि वे बीजज्यीय सीमाओं को सील कर दें।

आज से रेमदेसीवीर की नई आपूर्ति

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बताया, 22 लाख टेस्टिंग किट और 90 हजार रेमडेसिवर इंजेक्शन के लिए टेंडर हो चुके हैं। कंपनियों ने 20 अप्रैल से सप्लाई करने की बात कही है। लेकिन सरकार की तरफ से उन्हें सोमवार से ही सप्लाई करने के लिए कहा गया है। रेमडेसिवीर इंजेक्शन के लिए एक बार में 20 हजार वायायल देने की सहमति दी गई है।

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के अस्पतालों का भी उपयोग

सरकार ने कलेक्टरों को अपने जिलों में बिस्तर की संख्या बढ़ाने के लिए कहा है। सामान्य बिस्तर पर आक्सीजन की व्यवस्था करने और उन्हें आईसीयू में बदलने को भी कहा गया है। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के अस्पतालों के 14 हजार बिस्तर का उपयोग करने के लिए भी कहा गया है। वर्तमान में ऐसी कंपनियों के अस्पतालों में 528 आईसीयू बेड, 4865 आक्सीजन बेड और 14 हजार 433 जनरल बेड हैं।

दैनिक हो रही मौत अभी भी बहुत बड़ी चिंता का विषय है

प्रदेश भर में हर रोज हो रही 100 से अधिक मौतें बीमारी की भयावहता बढ़ा रही है। स्वास्थ्य सेवाओं की कठिनाई बढ़ रही है। रविवार को प्रदेश भर में 170 मरीजों की मौत बताई गई। शनिवार और शुक्रवार को 138-138 लोगों की मौत हुई। वहीं गुरुवार को 105 लोगों की जान चली गई। प्रदेश भर में अब तक 5908 लोगों की जान जा चुकी है।

CG में 23% टेस्टिंग, जबकि MP में 8.5 और UP में 17% की ही जाँच
छत्तीसगढ़ में कुल आबादी के लगभग 22.7% का कोरोना टेस्ट किया गया है। मध्य प्रदेश की आबादी 8.2 करोड़ है और वहां सिर्फ 70.2 लाख लोगों का टेस्ट हुआ है जबकि उत्तर प्रदेश में 22 करोड़ में से 3 करोड़ 80 लाख लोगों का टेस्ट हुआ है।

छत्तीसगढ़ में 2.62 करोड़ की आबादी में से अब तक 65.2 लाख लोगों का कोविड टेस्ट हो चुका है। ये 5 लाख 32 हजार 495 लोग पॉजिटिव, 74% यानि 3 लाख 96 हजार 357 लोग रिकवर हो चुके हैं। वर्तमान में प्रदेश में 1 लाख 30 हजार 400 एक्टिव केस हैं। राज्य का एक्टिव केस रेट 24.5% है। रायपुर संभाग में सबसे अधिक 46 हजार 217 सक्रिय रोगी हैं। जबकि दुर्ग में 41 हजार 686, बिलासपुर में 29 हजार 31 सरगुजा में 9 हजार 529 और बस्तर संभाग में 3 हजार 884 सक्रिय मरीज हैं।

मृत्यु दर भी ज्यादा
स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में मृत्यु दर भी छत्तीसगढ़ के मुकाबले ज्यादा है। उत्तर प्रदेश में मृत्यु दर 1.20% है जबकि छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में मृत्यु दर 1.10% है। बता दें कि छत्तीसगढ़ में कुल पॉजिटिव मरीजों में से 5738 लोगों की मौत हुई है। रायपुर संभाग में अब तक सबसे अधिक 2 हजार 249 लोगों की जान जा चुकी है।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: