Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

राजनांदगाँव में फिर सिस्टम शर्मसार: मौत के बाद शववाहन भी नसे नहीं, ट्रैक्टर-ट्राली में डालकर अंतिम संस्कार करने ले गए परिजन, इससे पहले कचरा गाड़ी में ले जाया गया था शव

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजनांदगांव29 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

राजनांदगांव के डोंगरगाँव ब्लाक के को विभाजित केंद्र की तस्वीर है। जहां पर शव को ट्रैक्टर-ट्राली से शमशान तक ले जाना गया।

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीरें पुनः सामने आयी हैं। डोंगरगाँव ब्लाक के कोविड केंद्र से पुनः ऐसी तस्वीरें सामने आयी हैं। जहां शव को ट्रैक्टर-ट्राली वैश थाने वाली गाड़ी में ले जाना पड़ रहा है। गुरुवार को 4 घंटे इंतजार करने के बाद शव वाहन नहीं मिला, तो धार के ट्रैक्टर-ट्राली में शव को खुले में रखकर शमशान तक ले पहुंचाया गया।

जिला प्रशासन की लचर व्यवस्था
राजनांदगांव जिले के डोंगरगांव ब्लाक में कोरोनाटे मरीजों के शव उठाने के लिए एक वाहन भी नहीं है। बुधवार यानी 14 अप्रैल को डोंगरगाँव नगर पंचायत में कचरा उठाने वाली गाड़ी से शव उठाया गया था। जिस पर जिला प्रशासन की काफी आलोचना हुई थी। और गुरुवार यानी 15 अप्रैल को बड़ी लापरवाही फिर से सामने आयी हैं। यहां को विभाजित केंद्र में कोरोना से आसरा के रहने वाले एक मरीज की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों से शव ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था के साथ ले जाने को कहा गया। परिजनों को चार घंटे भक्तने बाद ट्रैक्टर-ट्राली मिला। जिसमें शव को श्मशान ले गए।

व्यवस्था सही करने का दावा
डोंगरगांव एसडीएम हितेश पिस्दा ने बताया है कि वाहन के लिए कोशिश की गई थी। लेकिन वाहन की व्यवस्था नहीं हो पायी। जिसके बाद आसरा के सरपंच ने ट्रैक्टर-ट्राली उपलब्ध कराई। जिसमें शव को भेजा गया था। वहीं 14 अप्रैल को कचरे वाली गाड़ी से शव को नहीं ले जाया गया था, जो नगर पंचायत की धर्मदी करने वाली गाड़ी थी। लेकिन अब सभी जनपद पंतायत और नगर पंचायतों में विधानसभाओं की व्यवस्था हो गई हैं।अब सभी शवो को अच्छी तरह से ढालियों में भिजित किया जा रहा है।

जिले में तेजी से बढ़ रही है
राजनांदगांव जिले में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। जिसके बाद यहां पर हालात बेकाबू होते रहे हैं। अस्पतालों में बिस्तर नहीं शवों को ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था ठीक नहीं हैं। जिससे लोग परेशान हो रहे हैं। जिले में पिछले 7 दिनों में 7882 लोग मारे गए और 46 लोगो की मौत हो गई हैं।

तारीख सक्रिय मामला
9 अप्रैल 1149
10 अप्रैल 978
11 अप्रैल 759
12 अप्रैल 1132
13 अप्रैल 1291
14 अप्रैल 1254
15 अप्रैल 1319 है

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: