Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

गहराता लाल आतंक: अब सड़क बनाने के काम में लगे कर्मचारी को नक्सलियों ने मारा, गाड़ियो में लगाई आग, 24 घंटे पहले ही की थी दो पुलिसवालों की हत्या

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर34 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

चित्र सुकमा की है। कर्मचारी को नक्सलियों ने तीर से मारा है। काफी देर तक इसका शव पड़ा रहा। शाम के वक्त पहुंची पुलिस ने फिर जांच शुरू की।

सुकमा के दोरनापाल-जगरगुंडा इलाके में नक्सलियों ने एक शख्स की हत्या कर दी। जिसे मारा गया वह इस इलाके में सड़क निर्माण के काम में लगा कर्मचारी था। यहां नक्सलियों ने दो गाड़ियों में आग भी लगा दी। जिस कर्मचारी की हत्या हुई उससे नक्सलियों ने तीर मारा। मृतक का नाम भास्कर ने बताया जा रहा है। इतना ही नहीं नक्सली मौके पर काम कर रहे टिप्पर के ड्राइवर श्रीनिवास व टैक्टर के चालक मड़कम मुन्ना सहित तीन अन्य लोगों को भी अगवा कर अपने साथ जंगल की ओर ले गए थे। तीनों की डंडे से पिटाई कर कुछ घंटे बाद छुट्टी दी। बाद में नक्सली जंगलों की तरफ भाग गए।

सड़क बनने से बौखलाए हैं नक्सली(*24*)
वास्तव में इस इलाके में बनने वाली सड़क के काम को नक्सली रोकना चाहते हैं। इस पूरे मामले में जिले के एसपी केएल ध्रुव ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। कहा जा रहा है कि गोरगुंडा में बिना पुलिस की सुरक्षा के ठेकेदार पीएमजीएसवाए की सड़क का निर्माण कार्य करवा रहा था। एसपी ने बताया कि गोरगुंडा कैंप से घटना स्थल की दूरी लगभग डेढ़ किमी है।

पुलिस के हाथ अब भी खाली(*24*)
इससे पहले गुरुवार दोपहर नक्सलियों ने भेजी थाने से लगभग आधे किलोमीटर दूर दो पुलिस वालों की हत्या कर दी थी। थाने में पदस्थ दो सहायक आरक्षक धनीराम कश्यप व पुम हड़मा की गलांदकर हत्या के बाद रोजेदारों के बीच सड़क पर ही छोड़कर नक्सली भाग गए थे। हालांकि इस घटना में पुलिस ने नक्सलियों का हाथ होने से साफ तौर पर इंकार भी नहीं किया और माना भी नहीं। अब तक दो-दो पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में भी पुलिस के हाथ खाली हैं और अब सड़क बना रहे कर्मचारी की मौत पुलिसिया एक्शन पर सवालिया निशान लगा चुकी है।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *