Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

छग में जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल टाली: स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से देर रात चर्चा के बाद हुआ फैसला, मैदान में बदलाव दिखने तक काले पट् टीटी बांधकर करेंगे

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

दो दिन की हड़ताल के बाद बुधवार देर रात स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से हुई बातचीत।

रायपुर के जवाहर लाल नेहरु मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में चल रहे जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल फिलहाल के लिए स्थगित हो गई है। छत्तीसगढ़ जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन ने बुधवार देर रात स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से हुई बातचीत के बाद यह फैसला किया। हालांकि एसोसिएशन ने कहा है, वे लोग स्वास्थ्य मंत्री के भाषणों पर काम होते हुए दिखने तक काले पट् टीटी बांधकर काम करेंगे। अगर उनकी मांगों पर काम नहीं हुआ तो एक मई से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

जूनियर डॉक्टरों के एक प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार रात स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से उनके आवास पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने मंत्री के सामने अपनी मांग रखी। उन परिस्थितियों की जानकारी दी जिनके कारण से उन्हें हड़ताल के लिए मजबूर होना पड़ा। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा, इस समय हम कोरोना संक्रमण के कठिन दौर से गुजर रहे हैं। इस समय डॉक्टरों का स्थान भगवान के समान है। आप लोग अपनी सेवाएं जारी रखें। सरकारी डॉक्टरों की कार्य परिस्थितियों को बेहतर बनाने और उन्हें अच्छी सुविधाएं उपलब्ध कराने वाली पहल करेंगे। बैठक के बाद जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के डॉ। प्रेम चौधरी ने बताया, स्वास्थ्य मंत्री ने कुछ मांगों को तुरंत सॉल्व करने का आश्वासन दिया है।

कुछ मांगों को एक समय सीमा में पूरा करने की बात कही है। इसमें कोरोना वार्ड की अव्यवस्था और डॉक्टरों को होने वाली परेशानी को तुरंत ही दूर करने वाली बात शामिल है। स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना ड्यूटी के बाद डॉक्टरों को सात दिनों का आइसोलेशन पीरियड देने की मांग मान ली है। डॉ। चौधरी ने बताया, हम आज से ड्यूटी जॉइन कर रहे हैं। लेकिन जब तक सभी मांगें पूरी नहीं होंगी तब तक हम लोग काले पट् टी बांधकर काम करेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के साथ चर्चा के बाद उनके सरकारी आवास पर जूनियर डॉक्टरों का प्रतिनिधिमंडल।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के साथ चर्चा के बाद उनके सरकारी आवास पर जूनियर डॉक्टरों का प्रतिनिधिमंडल।

ICMR के दिशानिर्देशों के अनुसार व्यवस्था है

जूनियर डॉक्टरों के साथ बातचीत के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड एरिया और डॉक्टरों के ड्यूटी रूम में दो दिनों के भीतर एयर कंडीशनर की व्यवस्था करने का आश्वासन दिया है। वहीं डोनिंग और डफिंग एरिया (वह कमरा जहां कोविड वार्ड में जाने से पहले डॉ। बॉगाई किट आदि पहनते हैं और हटाते हैं) को ICMR के दिशानिर्देशों के मुताबिक तैयार करने का भी आश्वासन मिला है।

इन मांगों को भी पूरा करने का भरोसा मिला

  • MBBS और PG के बाद अलग-अलग दो-दो साल का ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा का मीटर नहीं भरना होगा। यह सिर्फ दो साल का होगा।
  • अंतिम वर्ष की परीक्षाओं से पहले तय तारीखों पर ही प्रतिबद्ध किया जाएगा।
  • इंसेंटिव और स्टायफंड के लिए दूसरे राज्यों में प्रचलित दरों को लागू किया जाएगा।

दो दिन से हड़ताल पर थे जूनियर डॉ

रायपुर मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों ने मंगलवार को हड़ताल कर दी थी। उनका कहना था, उन्हें खराब गुणवत्ता के बग्गी किट, वर्क और सर्जिकल ग्लव्स पहनकर कोरोना ड्यूटी को मजबूर किया जा रहा है। इसकी वजह से उनमें आधे से अधिक लोग निष्क्रिय हो चुके हैं। सतर्क रेजिडेंट डॉक्टरों को अवैतनिक अवकाश के लिए मजबूर किया जा रहा है। उन्होंने कोरोना के इलाज के लिए मानव संसाधन बढ़ाने, सुरक्षा, इंसेटिव, स्टायफंड और समय से परीक्षा कराने की भी मांग रखी।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: