Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

छत्तीसगढ़ में कोरोना: 100000 – यह अब राज्य में सक्रिय रोगियों की संख्या है, 24 घंटे में 109 मौत, लॉकडाउन के बीच अस्पताल और मेडिकल स्टोर पर लोगों की भीड़।

चित्रा रायपुर के शास्त्री चौक स्थित एक मेडिकल की है। इस दुकान के बोर्ड पर लिखा है कि क्या आप सुरक्षित हैं, सवाल यह है कि वास्तव में क्या है?

छत्तीसगढ़ में मंगलवार की रात 15 हजार 121 नए कोरोनाटिक मिले। इस कारण से अब प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 1 लाख 9 हजार 139 हो गई है। राज्य में 53 हजार 793 सैंपल जांचे गए। पिछले 24 घंटों में 109 लोगों की मौत हुई। बीते सप्ताह हुई 47 लोगों की मौत की जानकारी मंगलवार को सरकार को मिली। इस तरह देखा जाए तो मंगलवार को जारी आंकड़े में कुल 156 लोगों की मौत हुई। पूरे प्रदेश में अब तक 5187 लोगों की मौत हो चुकी है।

(*24*)चित्रा रायपुर के जय स्तंभ चौक की है।  तेजी से भागती ये एकर्न्स शहर पर टूटी आफत की सारी कहानी बयां कर रही है।

चित्रा रायपुर के जय स्तंभ चौक की है। तेजी से भागती ये एंकरेंस शहर पर टूटी आफत की सारी कहानी बयां कर रही है।

इन प्रमुख शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 4168 नए मरीज मिले हैं। 53 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में सक्रिय मरीज 26 हजार 270 हैं। दुर्ग में 1755 नए मरीज, 12 लोगों की जान चली गई। बिलासपुर में 1024 नए मरीज मिले, 3 व्यक्तियों की मौत हुइ अब यहां सक्रिय मरीज 6347 हैं। राजनांदगांव में 1291 नए मरीज मिले, 11 लोगों की जान गई और यहां एक्टिव केस 10639 हैं। रायगढ़ में 388 नए मरीज, 9 व्यक्ति की मौत हुई और अब एक्टिव केस 2664 हैं। कोरबा में 724 लोग शिकार हुए, अब यहां 3837 सक्रिय मरीज हैं। बलौदाबाजार में 875 नए प्रकार मिले, यहां 2 लोगों की मौत हुई, यहां 4 हजार 758 सक्रिय मरीज हैं।

(*24*)चित्रा संतोषी नगर के एक क्लीनिक की है, सभी अपने किसी न किसी परिजन को लेकर यहां पहुंचे थे।

चित्रा संतोषी नगर के एक क्लीनिक की है, सभी अपने किसी न किसी परिजन को लेकर यहां पहुंचे थे।

लॉकडाउन के बीच शहर का माहौल डराने वाला
दैनिक भास्कर ने रायपुर शहर का मंगलवार की शाम गोजा लिया। संतोषी नगर, घड़ी चौक, पचपेड़ी नाका, जय स्तंभ चौक, जैसे भागों में कार और बाइक में लोग अफरा-तफरी में इधर से उधर जाते दिखे। सभी को मेडिकल स्टोर जरुरी दवाएं लेने या अस्पताल पहुंचना था। शहर में पिछले 48 घंटों में 7610 कोरोनाअर लोग मिल चुके हैं। सोमवार और मंगलवार की स्थिति में 104 लोगों की जान जा चुकी है। रायपुर में 19 अप्रैल तक लॉकडाउन लगा है। बावजूद इसके शहर में हजारों की तादाद में भिन्न हो रहे लोगों के परिजन अब इस गंभीर स्थिति में राहत की तलाश में भटक रहे हैं।

डॉक्टर्स की हड़ताल पर सीएम ने ध्यान दिया
मंगलवार की सुबह रायपुर के अंबेडकर अस्पताल में डॉक्टर्स ने हड़ताल कर दी थी। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संज्ञान लिया है। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री टी। एस। सिंहदेव से इस बारे में बात की। जूनियर डॉक्टर्स को आ रही दिक्कतों को दूर करने को भी कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह समय कोरोना रोगियों के उपचार पर सारा ध्यान देने का है। दरअसल घटिया क्वालिटी की पीपीई किट देने, कई घंटे तक काम लेने, अचानक कम कर्मचारियों पर पूरे प्रदेश के मरीजों का बोझ देने जैसी बातों से नाराज डॉक्टर्स ने हड़ताल कर दी। अंबेडकर अस्पताल में इस कारण से ओपीडी बंद है। सिर्फ कोविड और इमरजेंसी सेवा पर डॉ काम कर रहे हैं। 18 अप्रैल तक येकी समस्या दूर नहीं हुई तो कोविड ड्यूटी न करने का एलान भी जूनियर डॉक्टर कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: