Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

सांसत में साँस: छत्तीसगढ़ में रेमडेसिवीर इंजेक्शन के लिए मचा हाहकार, उत्पादक कंपनियों से केंद्र तक मनुहार कर रही है सरकार, मुंबई और हैदराबाद प्रेषित दो अधिकारी

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • छत्तीसगढ
  • रायपुर
  • छत्तीसगढ़ में रूकमसेविर इंजेक्शन बनाया गया, सरकार ने केंद्र में जाने के लिए निर्माता कंपनियों से आग्रह किया, अधिकारी जल्द ही हैदराबाद और महाराष्ट्र जाएंगे

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर8 घंटे पहले

रायपुर के मेडिकल कंपलेक्स के बाहर रोज ही ऐसी भीड़ केवल एक इंजेक्शन के लिए जुटती है।

  • रायपुर के कुछ स्टोर पर ही उपलब्ध थी अब दवा भी उपलब्ध नहीं है
  • राजधानी के मेडिकल कंप्लेक्स में दवा के लिए 500 मीटर लंबी लाइन

कोरोना की दूसरी लहर ने प्रदेश के सरकारी और गैर सरकारी दोनों संसाधनों को बुरी तरह निचोड़ दिया है। अस्पतालों में आईसीयू बिस्तर उपलब्ध नहीं हैं। वहाँ संक्रमण में काम आने वाले एक रेमडेसिवर इंजेक्शन की भी कमी आ गई है। मेडिकल स्टोर पर इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है। अब राज्य सरकार दवा उत्पादक और केंद्र सरकार से इसकी पूर्ति के लिए गुहार लगाई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर दो आईएएस अधिकारियों भोस्कर विलास संदीपन और अरुण प्रसाद को मुंबई और हैदराबाद भेजा जा रहा है।

रायपुर में दवाओं और चिकित्सा उपकरणों के थोक व्यापार केंद्र मेडिकल कंपलेक्स में इस दवा के स्टॉकिस्टों के यहां रोज भारी भीड़ हो रही है। घंटों लाइन में लगने के बाद ही किसी-किसी को ही यह इंजेक्शन मिल पा रहा है। कुमार मेडिकल के संजय राउत ने बताया कि उन्होंने यह इंजेक्शन मार्केट रेट से लगभग 4 हजार रुपये कम में बेचा है। इसी कारण से उनके यहाँ लोगों की भीड़ है।

राउत ने बताया कि बिक्री शुरू होने के बाद डेढ़ घंटे में ही पूरा स्टॉक खत्म हो गया है। घंटाें से लाइन में लगे सैकड़ों लोग नाराज भी हुए, लेकिन उनके पास सिस्टम को कोसने के अलावा कोई चारा नहीं था। टाटीबंध से आये शुभम ने बताया, वे अस्पताल में भर्ती पिता के लिए कल से इंजेक्शन खोज रहे हैं। लेकिन, अभी तक मिल नहीं पाया। शुभम इसके लिए सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

बेहद मामूली मात्रा में आ रही दवा है
थोक कारोबारियों का कहना है, रेडेमसिवीर देश में केवल पांच कंपनियां बनाती हैं। इसमें गोदस-केडीला, हेट्रो, सिप्ला, जुबिलिएंट, वंशलान और डाक्टर रेड्डी शामिल हैं। पिछले महीने से इसकी मांग तेजी से बढ़ी है। ऐसे में आपूर्ति नहीं हो रही है। आज भी कंपनियों ने अपने स्टॉकिस्टों को किसी को 50 किसी को 80 और किसी को 100 वायल इंजेक्शन का दिया है। यहां 12 हजार से अधिक इंजेक्शन की खपत है। ऐसे प्रदेश के हर शहर में इसकी उपलब्धता योग्य है।

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव से कहा – कंपनियों में अफसरॉय
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को कोरोना के हालत की समीक्षा की। इस दौरान ड्रग एसोसिएशन के अध्यक्ष से रेंडेमसिविर की उपलब्धता का तंत्र समझा गया। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव अमिताभ जैन से इस दवा की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा है। उन्होंने कहा कि इस दवाई का उत्पादन करने वाली कंपनियों के साथ समन्वय के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को मुंबई और हैदराबाद भेजा जाएगा। निर्देश के थोड़ी देर बाद ही राज्य सड़क विकास निगम के एमडी और कृषि विभाग के संयुक्त सचिव भोस्कर विलास संदीपन को मुंबई और राज्य औद्योगिक विकास निगम के एमडी अरुण प्रसाद को हैदराबाद में नियुक्त करने का आदेश जारी हो गया है। दोनों अधिकारी स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव रेणु जी। पिल्ले के लगातार संपर्क में बनेकर काम करेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री बोले, दवा की उपलब्धता की पूरी कोशिश
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि प्रदेश में रेडेमसिवीर इंजेक्शन की कमी है। हम लोग इंजेक्शन की उत्पादक कंपनियों, केंद्र सरकार और उत्पादक राज्यों से लगातार बात कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की अपर मुख्य सचिव स्वयं सहभागिता का मोर्चा संभाले हुए हैं। सिंह देव ने उम्मीद जताई कि जल्द ही इस दवा की आपूर्ति सुनिश्चित हो जाएगी।

यह इंजेक्शन क्या है?
रायपुर स्थित डॉ। भीमराव आंबेडकर अस्पताल के क्रिटिकल कैर विशेषज्ञ डॉ। ओपी सुंदरानी बताते हैं कि यह एक एंटी वायरल दवा है। इससे शरीर में वैरियर लोड कम होता है। लेकिन अभी तक किसी भी अध्ययन में कोरोना के इलाज में यह पूरी तरह से प्रभावी नहीं पाया गया है। डॉ। सुंदरानी बताते हैं, इस दवा का इस्तेमाल शराब और क्रिटिकल रोगियों में ही करना चाहिए। लेकिन अभी तक देखने में आ रहा है कि हर मरीज को यह दवा लगाई जा रही है। होम आइसोलेशन में बने रहने वाले लोग भी इसे लगवा रहे हैं। ऐसे में जरूरतमंद लोगों को यह उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: