Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

छत्तीसगढ़ और कोरोना: पहली बार 14 हजार से ज्यादा मरीज एक साथ मिले, राज्य में 123 मौतें, ट्रेन से ओडिशा जाने वालों को पहले निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी।

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुरएक घंटा पहले

    (*14*)

ये तस्वीर रायपुर के इंडोर स्टेडियम की है। यहां 200 ऑक्सीजन बेड का अस्पताल तैयार किया जा रहा है।

वर्ष 2020 और 2021 के अब तक के समय में शनिवार की रात कोरोना रोगियों के जो आंकड़े राज्य सरकार ने बताए हैं वह भयावह हैं। एक साथ 14 हजार 98 नए मरीज मिले। 123 लोगों की मौत होने की जानकारी दी गई। इनमें से 97 लोगों की जान बीते 24 घंटे में गई है। जबकि 26 मौतों का आंकड़ा सरकार के पास एक सप्ताह की देरी से आ पाया। पूरे प्रदेश में अब सक्रिय मरीजों की संख्या 85 हजार 860 है। अब तक 4777 कोरोनायनों की मौत हो चुकी है।

इन बड़े शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 3797 नए मरीज मिले हैं। 42 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में सक्रिय मरीज 21 हजार 329 है। दुर्ग में 2272 नए मरीज, 23 लोगों की जान चली गई। बिलासपुर में 895 नए मरीज मिले अब यहां सक्रिय मरीज 4759 हैं। राजनांदगांव में 978 नए मरीज मिले, 14 लोगों की जान गई और यहां एक्टिव केस 8388 हैं। रायगढ़ में 480 नए मरीज, 1 व्यक्ति की मौत हुई और अब एक्टिव केस 1872 हैं। कोरबा में 429 लोग हुए, अब यहां 2630 सक्रिय मरीज हैं। कांकेर में 229 नए मरीज मिले। कवर्धा में 538 नए रोगी मिले हैं।

रायपुर स्टेडियम में गिरते हुए अस्पताल
रायपुर नगर निगम स्वास्थ्य विभाग की मदद से इंडोर स्टेडियम में अस्थाई कोविड 19 अस्पताल बना रहा है। यहाँ ऑक्सीजन प्लांट बन रहा है। अधिकारियों ने बताया कि इंडोर स्टेडियम परिसर में अस्थाई को विभाजित 19 अस्पताल में 200 बिस्तर में ऑक्सीजन प्लांट से ऑक्सीजन की सप्लाई करने का पुख्ता बंदोबस्त हो रहा है। शनिवार को महापौर एजाज ढेबर, विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय ने तैयारियों का जायजा लिया।

यात्री गण ध्यान दें
रेलवे की तरफ से कहा गया है कि रायपुर रेल मंडल से गुजरने वाली गाड़ियां जो ओडिशा की ओर जाती है उन गाड़ी के यात्रियों को यात्रा करते समय यात्रा शुरू करने के लिए 72 घण्टे के अंदर करवाई गई आरटी-पीसीआर नेगेटिव जांच रिपोर्ट करनी होगी। ये नहीं है तो लोगों को कोविड -19 वैक्सीन की दूसरी डोज लगने का टीकाकरण प्रमाण पत्र देना होगा। 10 अप्रैल से ये प्रतिबंध लागू कर दिया गया है।

पासपोर्ट पर भी सख्ती
छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों को अब टर्मिनल पहुंचने से पहले 72 घंटे के भीतर कराये गये आरटीपीसीआर जांच टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। जिन यात्रियों के पास ये नहीं होंगे उनका कोविड टेस्ट टर्मिनल पर होगा। रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर स्वास्थ्य विभाग क्वारंटाइन, कोविड कैर सेंटर या अस्पताल भेज देंगे। बच्चों की भी उनके पैरेंट्स की मंजूरी के बाद टेस्टिंग होगी।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: