Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

व्यवस्था को ऑक्सीजन चाहिए: छत्तीसगढ़ में 3446 बिस्तर में ही ऑक्सीजन की सुविधा, कोरोना के हर पांचवे रोगी को सांस की तकलीफ; अस्पतालों में नहीं मिल रहा बिस्तर

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर27 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

ज्यादातर सरकारी और निजी अस्पतालों में आईसीयू और ऑक्सीजन सुविधा वाले बिस्तरों पर भारी दबाव है।

छत्तीसगढ़ में कोरोना की दूसरी लहर के बीच व्यवस्था की सांस फूल गई है। एक दिन पहले के आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश में 68125 मरीज हैं। इनमें से 2800 से अधिक को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। स्थितियाँ इतनी बुरी हैं कि होम आइसोलेशन में रहकर रोगी की तबीयत खराब होने पर उन्हें अस्पताल में ऑक्सीजन वाला बिस्तर मिलने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

डॉक्टरों का कहना है कि अस्पताल आने वाले हर पांचवे मरीज में सांस लेने में तकलीफ दिख रही है। ऐसे में अस्पतालों में अधिक से अधिक ऑक्सीजन युक्त बेड की व्यवस्था बनानी पड़ेगी। रायपुर के अस्पतालों पर मरीजों की भीड़ का भारी दबाव है। रायपुर एम्स में कोई बिस्तर खाली नहीं मिल रहा है। रायपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल का भी कुछ ऐसा ही हाल है। अस्पताल में मरीजों को आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधा देने के लिए मेडिसिन विभाग के मरीजों को डीकेएस सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। वहीं रायपुर जिला प्रशासन ने 12 नए कोविड कैर सेंटर बनाने का काम शुरू किया है। उनके बनने से मरीजों के लिए 2730 बिस्तर की सुविधा बढ़ जाएगी। इसमें 760 में ऑक्सीजन की सुविधा होगी।

रायपुर कलेक्टर डॉ। एस। भारतीदासन ने बताया कि फुंडहर के वर्किंग वीमन हास्टल के कोविड कैर सेंटर में 270 बेड की व्यवस्था होगी। 15 बेड ऑक्सीजन की सुविधा युक्त होगी। नवा रायपुर के होटल प्रबंधन संस्थान और आयुष विश्वविद्यालय के कोविड कैर सेंटर में 400-400 बिस्तर की व्यवस्था होगी। हीरापुर कोविड कैर सेंटर में 300 बिस्तर की व्यवस्था होगी, जिसमें 15 ऑक्सीजन की सुविधा वाले होंगे। रायपुर के इनडोर स्टेडियम में 260 बेड की व्यवस्था होगी। इनमें से 50 बेड में ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध होगी। सद्ददू प्रयास बालक छात्रावास और गुढियारी में बने प्रयास बालिका छात्रावास में 300-300 बिस्तर की व्यवस्था होगी।

ईएसआई अस्पताल भी बनेगा कोविड कैर सेंटर

कलेक्टर डॉ। भारतीदासन ने बताया, रायपुर के ईएसआई अस्पताल में भी विभाजित लाभांश केंद्र बनाया जा रहा है। यहां 200 बेड की सुविधा उपलब्ध होगी। इनमें से 100 बिस्तर पर ऑक्सीजन की सुविधा होगी।

सभी बेड में 100 बेड की सुविधा रहेगी

रायपुर कलेक्टर ने बताया कि जिले के सभी विकासखण्ड मुख्यालयों में 100 बिस्तर की क्षमता वाले को विभाजित कर केंद्र की व्यवस्था की जा रही है। इन केंद्रों में 20-20 ऑक्सीजन युक्त बिस्तर होंगे। इसके अलावा लालपुर के कोविड कैर सेंटर में ऑक्सीजन की सुविधा वाले 100 बिस्तर की व्यवस्था की जा रही है। रायपुर के एवेन्यू कॉलेज स्थित कोविड कैर सेंटर में 400 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था है।

रायपुर एम्स ने 20 आईसीयू बेड की व्यवस्था की है

रायपुर एम्स ने भी अपने यहां आईसीयू बेड की संख्या 40 से बढ़ाकर 60 कर दी है। एम्स कोरोना वार्ड में ऑक्सीजन वाले बिस्तरों की संख्या भी बढ़ रही है। वर्तमान में एम्स के कोरोना सेक्सन में 363 बिस्तर मौजूद हैं। इसमें आईसीयू बेड भी शामिल हैं। AIIMS की ओर से कहा गया है, लॉकडाउन के दौरान भी अनलिमिटेड आधारित ओपीडी और टेलिमेडिसिन सेवा जारी रहेगी। इस दौरान केवल ऐसी ही सर्जरी की जाएगी जो रोगी की जान बचाने के लिए जरूरी हो।

चार नए हथियारों को ऑक्सीजन बनाने की अनुमति मिली

खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने गुरुवार को 4 ऑक्सीजन प्लांट को मेडिकल ऑक्सीजन बनाने की अनुमति दी। इसमें से पंकज गैस को प्रतिदिन 500 से 700 सिलेंडर, नाहटा गैस को प्रतिदिन 100 से 200 सिलेंडर, गोदावरी गैस को 50 और अमृत गैस को 100 सिलेंडर प्रतिदिन आपूर्ति करना है। बताया जा रहा है कि आज एक और प्लांट की मेडिकल ऑक्सीजन बनाने की अनुमति मिल सकती है। इनका उत्पादन शुरू होने के बाद को विभाजित अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत कुछ कम होगी।

प्रदेश के अस्पतालों में अभी तक 3446 ऑक्सीजन वाले बिस्तर हैं

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बताया, अभी तक प्रदेश में 36 विशेषीकृत कोविड अस्पताल, 66 को विभाजित कैर सेंटर्स और 78 निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज की सुविधा दी जा रही है। इन कुल 16207 बिस्तरों की व्यवस्था है। इनमें से 3446 बिस्तरों में ऑक्सीजन की सुविधा है। इनमें 902 HDU और 1167 ICU बिस्तर शामिल हैं।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: