Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

छत्तीसगढ़ में टीकाकरण: राज्य में 58.66 लाख को लगना है टीका, पहले दिन 3 हजार केंद्र बने थे लेकिन 2026 में ही शुरू हो पाया वैक्सीनेशन

(*3*)

रायपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

मंत्रालय में शुरू होने वैक्सीनेशन सेंटर में कुछ ऐसा नजारा दिख रहा है। 45 वर्ष से अधिक आयु के कर्मचारी यहां लाइन लगाकर अपना पंजीयन बनाते दिखे।

  • प्रतिदिन 2 लाख लोगों को केक लगाने का लक्ष्य
  • सामान्य शुरुआत, कुछ केंद्रों पर भीड़भाड़ भी

छत्तीसगढ़ में 45 वर्ष और उससे अधिक के सभी लोगों को कोरोना से बचाने का केक लगने की आज से शुरुआत हो चुकी है। लेकिन प्रशासनिक स्तर पर तैयारियों की कमी साफ दिख रही है। स्वास्थ्य विभाग ने आज प्रदेश के 3 हजार केंद्रों पर कोरोना का टीका लगाने की योजना बनाई थी, लेकिन सुबह 11 बजे तक केवल 2026 केंद्रों पर ही टीका लगाया जा रहा था।

छत्तीसगढ़ में प्रदेश की आबादी का 20% यानी करीब 58 लाख 66 हजार लोगों को यहटेक लगना है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने प्रतिदिन 2 लाख लोगों को वैक्सीन की खुराक देने का लक्ष्य तय किया था। इनमें स्वास्थ्य कर्मी, एमलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक के सभी लोग शामिल हैं। राज्य के अधिकारी डॉ। अमर सिंह ठाकुर ने बताया, आज से 3 हजार केंद्रों पर वैक्सीन लगाने की योजना बनी हुई है। लेकिन अभी की रिपोर्ट के मुताबिक केवल 2026 केंद्रों पर ही टीकाकरण का काम जारी है। उन्होंने बताया, अभी तक कहीं से किसी तरह की समस्या की सूचना नहीं है।

स्वास्थ्य विभाग ने अकेले रायपुर जिले में 203 टीकाकरण केंद्र बनाये हैं। जिनमें से 76 केंद्र रायपुर और बिरगांव नगर निगम क्षेत में ही हैं। रायपुर के मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, रायपुर AIIMS जैसे पहले से संचालित केंद्रों में आज थोड़ी अधिक भीड़ दिखती है। एक दिन पहले मंत्रालय भवन के अस्पताल में शुरू हुए वैक्सीनेशन सेंटर में कर्मचारियों ने लाइन लगाकर टीका लगाया था। दूसरे नए केंद्रों पर अधिक भीड़ नजर नहीं आई। डॉक्टरों का अनुमान था कि दिन चढ़ने के साथ लोगों का आना भी बढ़ जाता है। बिल्कुल सही नए बने केंद्रों में वैसी भीड़ नजर नहीं आई है। यहां लोगों को पंजीयन के लिए केवल फोटो वाला सरकारी पहचान पत्र दिखाना पड़ रहा है। पहचान पत्र का विवरण CoWIN उपकरण के साथ पंजीयन की पीली पर्ची बन रहा है। वैक्सीनेशन अधिकारी उसकी पीठ सह उपकरण में भी डाल रहे हैं।

रायपुर जिले में इन सरकारी केंद्रों पर टीकाकरण

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), मेडिकल कॉलेज, सामुदायिक भवन, पुलिस लाइन ग्राउंड, पुलिस प्रशिक्षण केंद्र माना, शहीद स्मारक भवन, आयुर्वेदिक कॉलेज, जिला चिकित्सालय पंडरी, विश्वविद्यालय कैम्पस, सिविल अस्पताल माना, रेलवे डिवीजन अस्पताल, श्री भोला कुर्मी धर्मशाला, हमर अस्पताल गुढ़ियारी, हमर स्वास्थ्य केंद्र भाठागांव, सियान सदन गुढ़ियारी, आश्रय स्थल मोवा, मित्तन भवन भानुपुरी, संत रविदास भवन काशीराम नगर, स्वास्थ्य भवन वेलनेस बहेसर, 10 बिस्तर अस्पताल इन्द्रावती भवन नया रायपुर, मंत्रालय परिसर, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चोपड़ा, डी डी नगर, मथपुरैना, राजातालाब, कहाना, आमसिवनी, देवपुरी, लाभांडी, खसप्रीत, परसदा, उरला, बोरियाकला, हीरापुर, चंगोराभाठा।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, अभनपुर, गोबरा नवापारा, तिल्दा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आरंग, राखी, बीरगाँव, खरोरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उपरवारा, ब्लोरा, तोरला, मानिकचौरी, खोरपा, चंपारण, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नाससीना, डोंडेक्ला, मदरेर, सिलतरा, सिलतरा रेवा, कुरुद, कुटेला, चंदखुरी, मंदिर हसौद, फरफौद, बंगोली, गोगांव, श्री भोला कुर्मी धर्मशाला रामनगर। रायपुर के धर्मार्थ क्लिनिक और जैन दादाबाड़ी में मोबाइल यूनिट भी लगाई गई है। नोट-उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं।(ये केंद्रों में कोरोना का टीका नि: शुल्क है)

रायपुर जिले के इन निजी अस्पतालों में भी टीकाकरण की सुविधा है

एमएमआई नारायणा हॉस्पिटल, छत्तीसगढ़ डेंटल एंड मल्टी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, आरोग्य हॉस्पिटल, यशोदा चिल्ड्रेन हॉस्पिटल, कान्हा चिल्ड्रेन हॉस्पिटल, वरदान हॉस्पिटल, कालडा बर्न प्लास्टिक सर्जरी सेंटर, श्री माता नारद आरोग्यधम हॉस्पिटल, बालको मेडिकल सेंटर, लालमती मल्टी स्पेशलिटी एचडीसी ।, श्री हरिकिशन हॉस्पिटल, देवी लक्ष्मी अस्पताल, अस्था विनायक मैटरनिटी सेंटर, विद्या हॉस्पिटल किडनी सेंटर, रूपजीवन हॉस्पिटल, वैदेही हॉस्पिटल, सना हॉस्पिटल, बिजन हॉस्पिटल, अंजली चिल्ड्रेन हॉस्पिटल, आश्रमप हॉस्पिटल, आयुष्मान मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल, जैन हॉस्पिटल, ममता नर्सिंग होम मल्टी स्पेशलिटी, निरोग्यम हॉस्पिटल, श्रेयांस हॉस्पिटलिक्स रिसर्च सेंटर, श्री बालाजी मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल, सुयश इंस्ट्टीयूट ऑफ मेडिकल साईस, स्वास्तिक नर्सिंग, वी कैर सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, उर्मिला मेमोरियल हॉस्पिटल, श्री दानी कैर हॉस्पिटल, एकता इंस्टिट्यूट ऑफ चाईल्ड हेल्थ, रामकृष्ण कैर हॉस्पिटल, छत्तीसगढ़ मेडिकल रिसर्च सेंटर, श्री साई पैकरा हॉस्पिटल, मेघ पोलीक्लीनिक, अग्रसेन हॉस्पिटल, कंवर नर्सिंग होम, एनकेडी हॉस्पिटल मैटरनिटी सेंटर, सोनी मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल, संततिदास आई हॉस्पिटल, शाह नर्सिंग होम, सर्व ट्रामा हॉस्पिटल, ओम हॉस्पिटल, उपाध्याय हॉस्पिटल, श्री राम हॉस्पिटल, अग्रवाल हॉस्पिटल, अरिहंत हॉस्पिटल, आयुष मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल, छत्तीसगढ़ हॉस्पिटल मेडिकल रिसर्च सेंटर, माता शारदा नर्सिंग होम, मित्तल इंस्टीच्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, श्री नारायण हॉस्पिटल, श्री अनंत साई हॉस्पिटल, श्री मेडिसाईन हॉस्पिटल, श्री संकल्प मेडिकल रिसर्च रिसर्च इंस्टीस्चुत, वी वाय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस नोट- (इन केंद्रों पर कोरोनाकैनीकरण के लिए 250 रुपये का शुल्क निर्धारित किया गया है)

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: