Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

क्योंकि होली है ..!: 40 करोड़ की शराब पी गई रायपुर वाले, भीड़ में जूझकर ली बोतल; कोरोना के रिस्क पर बोले- क्या करें … बात ही कुछ ऐसी है

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

(*40*)रायपुर31 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

(*40*)तस्वीर रायपुर के कटोरा तालाब इलाके की शराब दुकान की है। ये हाल तब है जब कलेक्टर ने शहर में धारा 144 लगा रखी है।

  • रायपुर में 62 से अधिक शराबदुकानों में खु बिकी शराब, नशे की वजह से सोमवार को शहर के कई हिस्सों में हुआ बवाल
  • सोमवार को शराब की दुकानें बंद रहीं इसलिए दो दिन पहले से ही शुरू हो गई थी खरीदारी

सोमवार को शराब की दुकानें बंद रहीं। लेकिन रविवार को दुकानें खुली थीं। आबकारी विभाग के अफसरों ने बताया कि दिनभर में पूरे जिले में करीब 40 दोड़ा की शराब बिकी है। खबर है कि होली की वजह से दुकानों में भीड़ और डिमांड को देखते हुए विभाग ने शनिवार से ही दुकानों में स्टॉक भरपूर रखने का इंतजाम कर लिया था। पूरे जिले की 62 से अधिक शराब दुकानों में करोड़ों की सेल की वजह से महज एक दिन में सरकार को अच्छा खासा राजस्व मिला। हालांकि दुकानों के बाहर कोविड प्रोटोकॉल का पालन होता है।

कुछ ऐसा माहौल था
कोई गालियां दे रहा था तो कोई किसी की कमर के पास से झुककर चलते हुए काउंटर तक पहुंचने की मशक्कत में था। रविवार की शाम रायपुर के कटोरा तालाब स्थित शराब की दुकान के बाहर कुछ ऐसा ही माहौल देखने को मिला। चूंकि सोमवार को होली के दिन शराब की दुकानें बंद रखने का आदेश जारी किया गया था, इसलिए पीने वाले दो दिन पहले से ही अपने जुगाड़ में बंद कर दिए गए थे। भीड पर लदकर पसंद की बोतल मांगने की मेहनत इसके बाद भी रविवार शाम तक जारी रही। शहर की बहुत सी दुकानों में भीड़ कम भी नजर आई। शराब दुकानों में शासन के निर्देश के बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं किया गया। इन दुकानों पर नगर निगम या जिला प्रशासन की कोई टीम भी कार्रवाई नहीं करती, मानों पीने वालों को अघोषित छूट दी गई।]

काटोरा तालाब की दुकान के बाहर भीड़ को चीरकर बोतल के साथ बाहर आए एक शख्स से दैनिक भास्कर ने पूछा कि इससे तो कोरोनाशक होने का रिस्क है, शराब लेने आए व्यक्ति ने जवाब दिया, ये बात ही कुछ ऐसी है क्या करें, होली के। मौके पर तो इतनी भीड़ आम है। बीमारी के बारे में सोच पाते हैं तो हम शराब ही नहीं पीते … तो कहकर वह शख्स चला गया।

दिन भर शराबियों ने मचाया बवाल
शराब पीने और पिलाने के नाम पर शहर के कई हिस्सों में बवाल हुआ। अलग-अलग थानों में केस भी दर्ज किए गए हैं। एक मामला पुरानी बस्ती थाने का है यहां आलू यादव नाम के एक लड़के ने बंधवापारा के रहने वाले संतोष सेन नाम के युवक के सिर पर शराब की बोतल फोडकर उसे घायल कर दिया। रायपुरा इलाके में मिथिलेश नाम के युवक ने अपने साथी को शराब पीने के लिए रुपए न देने की बात पर नुकीला हथियार मारकर घायल कर दिया।

गुढ़ियारी थाने में विमला बेसरा, उरला थाने में ईश्वर जोगी नाम के लोगों को शराब अवैध रूप से तस्करी करने के मामले में पकड़ा गया। इससे पहले शनिवार की रात को रावाभांटा की देशी शराब की दुकान में शराब लेने गई एक युवक के साथ दुकान के सुरक्षाकर्मियों ने मारपीट की थी। डंडे के हमले में युवक का सिर फट गया था। खटुराई थाने में इस मामले में भी एफआईआर गई है।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: